अनिल अंबानी

Anil Ambani की कंपनी RCom पर दावेदार 90 हजार करोड़ मांग सकते हैं
नई द‍िल्‍ली: रिलायंस कम्युनिकेशंस (Reliance Communications) अनिल अंबानी (Anil Ambani) की कंपनी ने दिवालिया होने की अर्जी दी है। बता दें कि इस कंपनी पर 46 हजार करोड़ रुपए का कर्ज (loan) है। हालांकि जानकारी के मुताबिक कंपनी के कर्जदार (Borrower ...
Rcom Lenders May Claim Up To Rs 90000 Crore

Anil Ambani की कंपनी RCom की दिवाला प्रक्रिया शुरू
नई दिल्‍ली: नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (National Company Law Tribunal) ने रिलायंस कम्युनिकेशंस (Reliance Communications) (आरकॉम) की दिवाला प्रक्रिया शुरू कर दी है। साथ ही एनसीएलटी (NCLT) ने मुकदमेबाजी के 357 दिनों को कंपनी की इन्सॉल्वेंसी प्रक्रिया (Insolvency procedure) की अवधि ...
Anil Ambani को आखिरी सुरक्षित एसेट बचाने के ल‍िए 2 बिलियन डॉलर की जरूरत
नई द‍िल्‍ली: अन‍िल अंबानी (Anil Ambani) की परेशान‍ियां कम होने का नाम नहीं ले रही है। जी हां आर्थिक संकट (Economic Crisis) के दौर से अनिल अंबानी की आखिरी 'मज़बूत' कंपनी की हालत में भी दरार पड़ती दिखाई देने लगी हैं। ...
Anil Ambani Needs Of Dollar 2 Billion To Save His Last Secure Asset
NCLAT ने अवमानना याचिका पर अनिल अंबानी से मांगा जवाब
नई द‍िल्‍ली: अनिल अंबानी (Anil Ambani) की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। जी हां राष्ट्रीय कंपनी कानून अपीलीय न्यायाधिकरण (NCLAT) ने रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन से अल्पांश शेयरधारकों (Minority shareholders) द्वारा दायर अवमानना याचिका (Contempt petition) पर ...
Nclt Seeks Response From Anil Ambani On Contempt Petition
Rcom दिवाला प्रक्रिया के तहत लाया जाए या नहीं इस बारे में फैसला करेगा NCLAT
नई द‍िल्ली: रिलायंस कम्युनिकेशंस (RCom) कर्ज के बोझ तले दबी कंपनी को दिवाला प्रक्रिया (Bankruptcy process) के तहत लाया जाए या नहीं इस बारे में फैसला नेशनल कंपनी लॉ अपीलेट ट्रिब्यूनल (NCLAT) करेगा। बता दें कि आरकॉम (rcom) ने ट्रिब्यूनल (Tribunal) ...
Mukesh Ambani के बाद इसने बचाया अपने भाई को, 3 गुना किया खर्च
नई दिल्ली। दुनिया में अमीरों की लिस्ट में शामिल स्टील किंग लक्ष्मी एन मित्तल (Lakshmi N Mittal) ने अपने छोटे भाई को आर्थिक दिक्कतों से बचाने के लिए मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) से 3 गुना ज्यादा पैसा खर्च कर दिया है। ...
Steel King Lakshmi Mittal Saved His Younger Brother By Paying Rs 1600 Crore Stc In Hindi
जिस RCom से टूटा था Reliance Group, उसी ने फिर सबको मिलाया
नई दिल्ली। ज्यादातर लोगों को यह याद ही नहीं होगा कि रिलायंस कम्युनिकेशन (RCom) ही वह कंपनी है, जिसके चलते अनिल अंबानी (Anil Ambani) और मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के बीच झगड़ा हुआ था। यह बात अलग है कि उस वक्त ...
अनिल अंबानी को नहीं जाना पड़ेगा जेल, एरिक्सन का बकाया चुकाया
नई द‍िल्‍ली: सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए डेडलाइन से पहले अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस (Rcom) ने एरिक्सन की बकाया राशि का भुगतान कर दिया है। बता दें कि न्यूज एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से ...
Anil Ambani Will Not Go Jail Rcom Pays 462 Crore Ericsson
Anil Ambani पर अगले 48 घंटे भारी, जाना पड़ सकता है जेल
नई दिल्ली। अनिल अंबानी (anil ambani) के लिए अगले 48 घंटे काफी भारी हैं। पहले से ही कर्ज में डूबी कंपनी को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार एरिक्शन को मंगलवार (19 मार्च 2019) तक 453 करोड़ रुपये चुकाना है। ऐसा ...
अनिल अंबानी की मुसीबतें बढ़ती ही जा रही, जा सकते हैं जेल
नई द‍िल्‍ली : नेशनल कंपनी लॉ एपीलेट ट्रिब्यूनल (एन्क्लैट) में उद्योगपति अनिल अंबानी को बड़ा झटका लगा है। एरिक्सन का बकाया चुकाने के लिए अनिल अंबानी को उच्चतम न्यायालय द्वारा दी गई समय-सीमा समाप्त होने से कुछ दिन पहले राष्ट्रीय कंपनी ...
Nclt Denied Give Direction Sbi Issuing 259 Crores
मुकेश अंबानी: दुनिया के 13वें सबसे अमीर शख्स
भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी दुनिया के अरबपतियों की सूची में भी आगे बढ़ रहे हैं। मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) जहां लंबे समय से भारत के सबसे अमीर शख्स बने हुए हैं, वहीं दुनिया में भी उनकी धाक तेजी से ...
Mukesh Ambani World 13th Richest Person According Forbes
मुकेश अंबानी व‍िश्व के टॉप 10 अमीरों की सूची में शामिल
रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी दुनिया के 10 सबसे अमीर लोगों की सूची में शामिल हो गए हैं। उनके पास 54 अरब डॉलर की संपत्ति है। हालांकि, उनके छोटे भाई अनिल अंबानी अमीर शख्सियतों की सूची में जगह नहीं बना ...

Get Latest News alerts from Hindi Goodreturns

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Goodreturns sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Goodreturns website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more