For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

इन बैकों के बचत खाते पर म‍िल रहा सबसे ज्यादा ब्याज, चेक करें रेट्स

|

नई द‍िल्‍ली: बैंक में बचत खाता होना होना इसलिए जरूरी है क्योंकि यह इमरजेंसी फंड के रूप में काम करता है। इसमें से जब जरूरत हो पैसे निकाले जा सकते हें। लेकिन यह पैसे अगर एफडी, एनएससी जैसी योजनाओं में डाल दें तो एक तय समय के लिए इन्हें नहीं निकाला जा सकता है। इसलिए बचत खाता होना जरूरी है। बैंक अकाउंट किन कारणों से हो जाता है फ्रीज, जान‍िए अकाउंट अनफ्रीज करने का तरीका ये भी पढ़ें

इन बैकों के बचत खाते पर म‍िल रहा सबसे ज्यादा ब्याज

 

बैंक इन बचत खातों में पैसा रखने की एवज में ब्याज भी देते हैं। महामारी की वजह से हुई मंदी के कारण सेविंग अकाउंट पर मिलने वाली ब्याज दर में पिछले कुछ समय में काफी कटौती हुई है। लेक‍िन इसके बाद भी कुछ सार्वजनिक बैंक जैसे कैनरा बैंक बचत खातों पर अपने ग्राहकों को ज्यादा ब्याज की पेशकश कर रहे हैं। तो चलि‍ए हम अपनी खबर के जरि‍ए आपको बताते है क‍ि कौन सा बैंक बचत खाते पर सबसे ज्यादा ब्याज दे रहा है।

 आईडीबीआई और कैनरा बैंक दे रहे ज्यादा ब्याज

आईडीबीआई और कैनरा बैंक दे रहे ज्यादा ब्याज

बैंक बाजार द्वारा संकलित किए गए डेटा के अनुसार, आईडीबीआई बैंक और कैनरा बैंक अपने ग्राहकों को बचत खातों पर क्रमश: 3.5 और 3.2 फीसदी ब्याज दे रहे हैं। वहीं, अग्रणी निजी बैंक की तुलना में पब्लिक सेक्टर के यह बैंक ज्यादा ब्याज की पेशकश कर रहे हैं। बता दें कि निजी बैंक एचडीएफसी बैंक अपने ग्राहकों को सेविंग अकाउंट पर 3 से 3.5 फीसदी ब्याज दे रहा है। वहीं, दूसरी ओर दो दिग्गज सरकारी बैंक एसबीआई और बैंक ऑफ बड़ौदा अपने ग्राहकों को सेविंग अकाउंट पर क्रमश: 2.70 व 2.75 फीसदी कम ब्याज दे रहे हैं। वहीं, स्मॉल फाइनेंस बैंक जैसे एयू स्मॉल बैंक और उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक अपने ग्राहकों को बचत खातों पर क्रमश: 7 फीसदी और 6.5 फीसदी तक का ब्याज दे रहे हैं।

 आईडीएफसी फर्स्ट बैंक दे रहा 7 फीसदी का ब्याज
 

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक दे रहा 7 फीसदी का ब्याज

बंधन बैंक के उच्च ब्याज दरों के साथ कई प्रकार के बचत खाते ऑफर करता है। वर्तमान में इसमें 1 लाख तक की बैलेंस राशि के लिए 4.00%, 1 लाख रु से 10 करोड़ रु तक पर 6.00% 10 से 50 करोड़ रु तक 6.55% और 50 करोड़ से ऊपर पर 6.55% ब्याज दर है। आईडीएफसी फर्स्ट बैंक में 1 लाख रु से ज्यादा की राशि पर 7 फीसदी का ब्याज मिलता है। आईडीएफसी फर्स्ट बैंक में ब्याज दर की शुरुआत 6 फीसदी से है। इस बैंक के खाते पर आपको कैशबैक, अनलिमिटेड कैश निकासी जैसी सुविधाएं मिलती है।

 चेक करें इन बैंकों के ब्‍याज दर

चेक करें इन बैंकों के ब्‍याज दर

जबकि इंडसइंड बैंक में बचत खाते में 1 लाख रु तक पर 4.00% 1 से 10 लाख रु तक पर 5 फीसदी और 10 लाख रु से ज्यादा पर 6 फीसदी ब्याज मिलता है। ये बैंक तिमाही आधार पर ब्याज देता है। यानी 30 जून, 30 सितंबर, 31 दिसंबर और 31 मार्च को ब्याज मिलता है। आरबीएल बैंक में बचत खाते पर 1 लाख रु तक पर 4.75 फीसदी ब्याज मिलता है। वहीं 1 से 10 लाख रु तक पर आपको 6 फीसदी ब्याज मिलेगा। 10 लाख रु से 5 करोड़ रु तक की राशि पर आपको 6.75 फीसदी ब्याज मिलेगा। उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक घरेलू और गैर-निवासी खातों पर 1 लाख रु तक के बैलेंस के लिए 4.00%, 1 से 5 लाख रु तक के बैलेंस पर 5.00%, 5 से 50 लाख रु तक पर 5.25% और 50 लाख रु से 5 करोड़ रु तक के लिए 6.25% ब्याज मिलता है।

बैंकों में ये है मिनिमम बैलेंस लिमिट

बैंकों में ये है मिनिमम बैलेंस लिमिट

सरकारी बैंकों में मिनिमम बैलेंस लिमिट 250 रुपये है। जबकि एसबीआई में यह लिमिट निल है। निजी बैंकों में एक्सिस बैंक और एचडीएफसी बैंक में यह लिमिट 2,500 रुपये से 10,000 रुपये तक है। एक अन्य बड़े निजी बैंक में यह लिमिट 1,000 रुपये से 10,000 रुपये तक है। बता दें कि लॉन्ग टर्म ट्रैक रिकॉर्ड वाले बैंक जिसकी सर्विस अच्छी हो, कई ब्रांच हों, साथ ही शहर में जगह-जगह पर एटीएम मौजूद हो, ऐसे बैक में सेविंग अकाउंट पर ब्याज एक बोनस के रूप में होता है। गौरतलब है कि बीएसई में सूचीबद्ध सार्वजनिक क्षेत्र और निजी बैंकों के बचत खातों पर ब्याज दरों को ही डेटा संकलन के ही समझा जाता है।

English summary

Customers Will Get Highest Interest On Savings Account Of These Banks

IDBI and Canara Bank are offering more interest to their customers on savings accounts. Check rates.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?