SBI के साथ सह-बैंकों का विलय, दुनिया टॉप-50 बैंको में हुआ शामिल

Written By: Ashutosh
Subscribe to GoodReturns Hindi

केन्द्र सरकार ने देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के साथ 5 सहायक बैंकों के मर्जर (विलय) का ऐलान कर दिया है। इस फैसले के साथ ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया दुनिया के 50 बड़े बैंकों की सूची में पहुंच जाएगा। वहीं देश में कुल बैंकिंग कारोबार का लगभग 25 फीसदी हिस्से पर एसबीआई की पकड़ बन जाएगी।

इन 5 बैंकों का हुआ विलय

  • स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर
  • स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद,
  • स्टेट बैंक ऑफ मैसूर,
  • स्टेट बैंक ऑफ पटियाला और
  • स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर

बढ़ जाएगा SBI का एसेट

SBI के मुताबिक इस मर्जर के साथ उसकी कुल संपत्ति (ऐसेट) में 36 फीसदी का इजाफा होगा। अनुमान के मुताबिक मर्जर के बाद एसबीआई की कुल संपत्ति 30 ट्रिलियन रुपया अथवा 447 बिलियन अमेरिकी डॉलर की हो जाएगी।

बढ़ जाएगी SBI के ग्राहकों की संख्या

विलय के साथ ही एसबीआई के ग्राहकों की संख्या 50 करोड़ का आंकड़ा पार कर लेगी। वहीं विलय किए गए पांचों बैंक के सभी ब्रांच और एटीएम एसबीआई की ब्रांच और एटीएम की संख्या को बढ़ा देंगे।

दुनिया के बड़े बैंक

इस मर्जर से एसबीआई को उम्मीद है कि वह दुनिया के 50 बड़े बैंकों की सूची में 44वें स्थान पर पहुंच जाएगा. फिलहाल दुनिया के बड़े बैंकों का आंकड़ा देखें तो टॉप के चार बैंक चीन के हैं। ये बैंक हैं इंडस्ट्रियल और कॉमर्शियल बैंक ऑफ चाइना, चाइना कंस्ट्रक्शन बैंक, एग्रीकल्चरल बैंक ऑफ चाइना और बैंक ऑफ चाइना लिमिटेड।

ICICI और SBI में बढ़ जाएगा गैप

इस विलय के बाद SBI और ICICI बैंक के बीच गैप बढ़ जाएगा। ऐसेट बेस के लिहाज से SBI का ऐसेट बेस ICICI से करीब 4 से 5 गुना ज्यादा हो जाएगा। ICICI बैंक भारत का सबसे बड़ा निजी क्षेत्र का बैंक है।

शेयर होल्डिंग पैटर्न

शेयर होल्डिंग पैटर्न के तहत SBI स्टेट बैंक ऑफ त्रांवाणकोर को 10 शेयर के बदले अपने 22 शेयर देगा वहीं स्टेट बैंक ऑफ मैसूर को भी 10 शेयर के बदले 22 देगा। जबकि स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर और स्टेट बैंक ऑफ जयपुर को 10 शेयर बदले SBI के 28 शेयर मिलेंगे।

Read more about: sbi, एसबीआई
English summary

5 Associate banks to merge with SBI

Seeking to create a global-sized bank, the Cabinet on Wednesday gave the go-ahead to the merger plan of SBI and its five associates, a step aimed at strengthening the banking sector through consolidation of public banks. However, no decision was taken on the proposal to also merge the Bharatiya Mahila Bank with SBI
Please Wait while comments are loading...
Company Search
Enter the first few characters of the company's name or the NSE symbol or BSE code and click 'Go'
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?

Find IFSC