होम  »  आईएफएससी कोड

भारत के सभी बैंकों के IFSC कोड और MICR कोड

हिंदी गुडरिटर्न्स पर खोज सकते हैं IFSC Code, जनिए कैसे?

आईएफएससी या एमआईसीआर कोड के लिये आपको अपना बैंक और ब्रांच पता होनी चाहिये। ऊपर दिये गये बॉक्स में बैंक का नाम टाइप करें और उसी के अनुसार उसकी शाखा का चयन करें। वहां पर नीचे की ओर आने वाली सूची से आपको मदद मिलेगी और आप आसानी से अपनी ब्रांच का ISFC Code प्राप्त कर सकेंगे। साथ ही आप बैंक का आईएफएससी और एमआईसीआर कोड से अपने बैंक की शाखा के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

आईएफएससी कोड के लिए भारत में लोकप्रिय बैंकों

भारत में प्रमुख बैंकों के आईएफएससी कोड के नीचे सूचीबद्ध

क्या होता है IFSC कोड?

IFSC कोड एक महत्वपूर्ण कोड होता है, जिसका इस्तेमाल बैंक की इलेक्ट्रॉनिक सेवाएं लेते वक्त किया जाता है। जैसे एनईएफटी या आरटीजीएस। इसमें अंग्रेजी के अक्षर एवं अंक होते हैं, जो भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा प्रदान किया जाता है और इसी कोड से देश में किसी भी बैंक की शाखा का पता लगा सकते हैं। इंटरनेट ट्रांजैक्शन में इससे मदद मिलती है। पढ़ें- आईएफएससी कोड का महत्व।

यह भी पढ़ें आईएफएससी कोड का महत्व.

किस के लिये आप IFSC Code का इस्तेमाल कर सकते हैं?

आईएफएससी कोड का इस्तेमाल नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (एनईएफटी) और रीयल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (आरटीजीएस) में किया जा सकता है। ये दो प्रकियाएं हैं, जिनके माध्यम से आप झट से पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं, वो भी बिना चेक को इस्तेमाल किये। जिस बैंक या शाखा का आईएफएससी कोड आप चाहते हैं पहले आप सूची में नीचे जाकर देखें। उसके बाद आप अपने बैंक से आईएफएससी कोड के साथ संपर्क कर व्यक्त‍ि का नाम बता सकते हैं, जिसके खाते में पैसा ट्रांसफर करना है। जब भी आप ऑनलाइन ट्रांसफर करते हैं, तब आपको आईएफएससी कोड और व्यक्त‍ि का नाम लिखना पड़ता है।

यह भी पढ़ें आईएफएससी व स्विफ्ट कोड फंड ट्रांसफर के बीच का अंतर.

MICR Code क्या है?

एमआईसीआर कोड यानी मैगनेटिक इंक कैरेक्टर रिकगनिशन कोड, जिसे आप चेक-लीफ पर देख सकते हैं। एमआईसीआर कोड से चेक की प्रोसेसिंग तेज हो जाती है और बहुत कम समय में कैश हो जाता है। देश के सभी बैंकों की प्रत्येक शाखा का अपना एमआईसीआर कोड होता है, जिससे पता लगाया जा सकता है, भले ही आपको मालूम हो या नहीं कि वो कहां स्थापित है।

यह भी पढ़ें आईएफएससी व एमआईसीआर कोड के बीच अंतर.

NEFT (नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर सिस्टम) क्या होता है?

नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर सिस्टम को एनईएफटी कहते हैं। इसका इस्तेमाल एक खाते से दूसरे खाते में पैसा ऑनलाइउ ट्रांसफर करने में किया जा सकता है, वो भी बिना किसी चेक के। एनईएफटी के जरिये कुछ ही घंटों में पैसा ट्रांसफर कर दिया जाता है। इसके लिये IFSC code जरूरी होता है। साधारणत: इसका इस्तेमाल कम धनराश‍ि को ट्रांसफर करने के लिये किया जाता है।

यह भी पढ़ें RTGS, NEFT & IMPS में अंतर .

RTGS (रीयल - टाइम ग्रॉस सेटलमेंट) क्या होता है?

रीयल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट यानि आरटीजीएस भी एनईएफटी के जैसा ही होता है। इसके जरिये भी पैसा ऑनलाइन ट्रांसफर किया जाता है और बहुत जल्दी हो जाता है। बस फर्क यह है कि इससे कुछ ही सेकेंडों में पैसा एक खाते से दूसरे खाते में स्थानांतरित हो जाता है।

यह भी पढ़ें आरटीजीएस के बारे में विस्तृत जानकारी .

IMPS (इमिडिएट पेमेंट सर्विस) क्या होता है?

इमिडिएट पेमेंट सर्विस यानि त्वरित भुगतान सेवा। इसके अंतर्गत एक खाते से दूसरे खाते में त्वरित पैसा ट्रांसफर हो जाता है। इसके अंतर्गत आप अपने ही बैंक के किसी अन्य खाते में पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं। और तो और जिन बैंकों में त्वरित सुविधा नहीं है, उन बैंकों की किसी भी शाखा के खाते में आप पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें आईएमपीएस के माध्यम से तुरंत धन हस्तांतरण करने के लिए कैसे .

Find IFSC