For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

FD : 1 से 2 साल में चाहिए सबसे अधिक ब्याज, तो यहां लगाएं पैसा

|

नई दिल्ली, मई 11। फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) आपको एक निर्धारित अवधि (समय) के लिए पैसे निवेश करने की सुविधा देती है। आपको इस निवेश पर ब्याज की एक पहले से तय और निश्चित ब्याज दर मिलती है। एफडी पर आम तौर पर आपको सामान्य बचत खाते की तुलना में अधिक ब्याज मिलता है। याद रखें कि एफडी पर ब्याज दर सभी अवधियों के लिए एक समान नहीं होती है। सबसे लंबी अवधि में निवेश करने पर आपको सबसे अधिक ब्याज दर मिल सकती है। आगे 1-2 सालों की एफडी पर मिलने वाली सर्वाधिक ब्याज दर की जानकारी दी गयी है।

 

Gold ETF : फायदे वाला निवेश, इस स्कीम ने दिया शानदार रिटर्न

एक साल की एफडी

एक साल की एफडी

आपको एक साल की एफडी पर आरबीएल बैंक में सर्वाधिक 6.25 फीसदी ब्याज दर, इंडसइंड बैंक में 6.00 फीसदी ब्याज दर, बंधन बैंक में 5.75 फीसदी ब्याज दर, आईडीएफसी फर्स्ट बैंक में 5.75 फीसदी ब्याज दर और डीसीबी बैंक में 5.55 फीसदी ब्याज दर ऑफर की जाएगी।

2 साल की एफडी

2 साल की एफडी

वहीं दो साल की एफडी पर इंडसइंड बैंक में सर्वाधिक 6.50 फीसदी ब्याज दर, आरबीएल बैंक में 6.50 फीसदी ब्याज दर, बंधन बैंक में 6.25 फीसदी ब्याज दर, डीसीबी बैंक में 6.25 फीसदी ब्याज दर और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक में 5.75 फीसदी ब्याज दर ऑफर की जाएगी।

एफडी पर सेफ्टी
 

एफडी पर सेफ्टी

एफडी के रूप में आपकी जमा राशि 5 लाख रुपये तक कवर की जाती है। यानी एफडी में आपका 5 लाख रु तक सेफ रहता है। अधिकांश बैंक डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन द्वारा गवर्न किए जाते हैं, जो भारतीय रिजर्व बैंक की सहायक कंपनी है जो जमा राशि का बीमा करती है और क्रेडिट गारंटी प्रदान करती है।

जब एफडी मैच्योर हो जाए
जब एफडी मैच्योर हो जाए तो आप राशि को एक नई एफडी में फिर से निवेश कर सकते हैं। या पैसे को अपने बचत खाते में ट्रांसफर कर सकते हैं या केवल ब्याज को अपने बचत खाते में ट्रांसफर कर सकते हैं और अपनी असल निवेश राशि को एक नई एफडी में फिर से निवेश कर सकते हैं।

पैन के बिना एफडी

पैन के बिना एफडी

कोटक महिंद्रा बैंक के अनुसार, पैन के बिना ग्राहकों के लिए कुछ अलग नियम लागू होंगे :
- टीडीएस 20% या लागू उच्च दर (10% के मुकाबले) पर वसूल किया जाएगा
- आयकर विभाग से कोई टीडीएस क्रेडिट नहीं
- फॉर्म 15जी/एच और अन्य छूट प्रमाण पत्र अमान्य होंगे और उच्च दरों पर टीडीएस लागू होगा

एसबीआई की नयी एफडी ब्याज दरें

एसबीआई की नयी एफडी ब्याज दरें

एसबीआई ने अपने अमीर ग्राहकों यानी जिनके पास एफडी कराने के लिए ज्यादा पैसा है, उन्हें एफडी पर ज्यादा ब्याज देने का ऐलान किया है। एसबीआई ने 2 करोड़ रुपये या इससे अधिक की एफडी पर ज्यादा ब्याज देने का फैसला किया है। एसबीआई की बेवसाइट के अनुसार 2 करोड़ रुपये और इससे ज्यादा की एफडी कराने वालों को 40 से लेकर 90 बीपीएस (100 बीपीसी = 1 प्रतिशत) ज्यादा ब्याज मिलेगा। इस तरह एसबीआई ने अमीरों को करीब 0.90 फीसदी तक ज्यादा ब्याज देने का फैसला किया है। 45 दिन की अवधि तक के टर्म डिपॉजिट पर ब्याज की दर 3 फीसदी परबनी रहेगी। वहीं 46 दिन से 179 दिनों के लिए इसे 3 फीसदी से बढ़ाकर 3.5 फीसदी किया गया है। इसके अलावा 180 दिन से लेकर 210 दिन की जमा पर ब्याज दर में 40 बेसिस पॉइंट्स (बीपीएस) की बढ़ोतरी की गई है। पहले यह ब्याज दर 3.1 फीसदी थी, जो अब बढ़कर 3.5 फीसदी हो गई है। वहीं 211 दिन से लेकर 1 साल से कम अवधि की एफडी पर ब्याज दर 3.3 फीसदी से बढ़ाकर 3.75 फीसदी की गई है।

English summary

want Highest interest on FD in 1 to 2 years so invest money here

You will be offered the highest interest rate of 6.25 percent in RBL Bank, 6.00 percent interest rate in IndusInd Bank, 5.75 percent interest rate in Bandhan Bank, 5.75 percent interest rate in IDFC First Bank and 5.55 percent interest rate in DCB Bank on one year FD.
Story first published: Wednesday, May 11, 2022, 14:57 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X