For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Mutual Fund पर Loan अच्छा ऑप्शन है या नहीं, यहां जानिए

|

नयी दिल्ली। बैंक म्यूचुअल फंड्स पर भी लोन देते हैं। ये बिल्कुल इक्विटी शेयरों पर लोन लेने जैसा ही है। इन दिनों म्यूचुअल फंडों पर डिजिटल लोन लेने वालों की संख्या बढ़ी है, जो कि तेजी से और कम समय लेने वाला ऑप्शन है। यदि आप म्यूचुअल फंडों पर डिजिटल लोन लेते हैं तो आप ऑनलाइन किसी भी बैंक के पास अपने म्यूचुअल फंडों को गिरवी रख कर तुरंत ओवरड्राफ्ट प्राप्त कर सकते हैं। इसका अहम फायदा ये है कि आपको म्यूचुअल फंड योजनाओं को बेचने की जरूरत नहीं होती। हालांकि यदि आप लोन का भुगतान नहीं करते हैं तो बैंक पैसा रिकवर करने के लिए गिरवी रखी गई म्यूचुअल फंड इकाइयों को उचित तरीके से डील कर सकता है।

कितना मिल सकता है लोन
 

कितना मिल सकता है लोन

अधिकांश बैंकों में लोन के लिए अधिकतम और न्यूनतम राशि तय होती है। उदाहरण के लिए भारतीय स्टेट बैंक ने इक्विटी म्यूचुअल फंड इकाइयों के लिए अधिकतम 20 लाख रुपये और न्यूनतम लोन राशि 20,000 रुपये तय कर रखी है। यह ध्यान रखना जरूरी है कि आपको म्यूचुअल फंड इकाइयों को गिरवी रखने और लोन लेने के लिए 50 प्रतिशत मार्जिन की आवश्यकता होती है। यानी यदि आप 10 लाख रुपये का लोन लेना चाहते हैं तो आपको कम से कम 20 लाख रुपये की म्यूचुअल फंड इकाइयों को गिरवी रखना होगा।

ब्याज दर

ब्याज दर

म्यूचुअल फंड पर लोन ब्याज दर अलग-अलग बैंकों में भिन्न होती है। भारतीय स्टेट बैंक की ऐसे लोन के लिए प्रभावी ब्याज दर प्रति वर्ष 9.75 प्रतिशत है। यह पर्सनल लोन पर ब्याज दर की तुलना में बहुत बेहतर है, जो कि 16 प्रतिशत तक हो सकती है। बता दें कि एसबीआई राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र और किसान विकास पत्र पर दिए गए लोन पर 11.90 प्रतिशत की ब्याज दर लेता है।

म्यूचुअल फंड पर लोन लेना चाहिए या नहीं
 

म्यूचुअल फंड पर लोन लेना चाहिए या नहीं

लोन के लिए कोई चीज गिरवी रखने पर ब्याज दर काफी कम हो जाती है। असल में बैंक के पास एक तरह की सिक्योरिटी होती है। हालांकि आपको लोन राशि का भुगतान करने में सक्षम होना चाहिए क्योंकि बैंक गिरवी रखे हुए उपकरण को बेच सकता है। ब्याज दर के अलावा लोन के लिए बैंक प्रोसेसिंग शुल्क भी लेता है। एसबीआई में प्रोसेसिंग फीस लगभग 0.75 प्रतिशत है। यदि आप लोन राशि का भुगतान करने में सक्षम हैं तो म्यूचुअल फंड पर अच्छा ऑप्शन है। इन दिनों ब्याज दरें बहुत कम हैं जो आपके लिए एक और फायदा है। निवेश करने से पहले म्यूचुअल फंड लोन की ब्याज दरों की तुलना जरूर करें।

Mutual Funds : सिर्फ 2 साल में हो सकता है पैसा डबल, जानिए स्कीम

English summary

Know here whether loan on Mutual Fund is a good option or not

State Bank of India has fixed a maximum of Rs 20 lakh for equity mutual fund units and a minimum loan amount of Rs 20,000.
Story first published: Monday, November 16, 2020, 19:54 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?