For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

HDFC Bank : जम कर बरसाया पैसा, 1 लाख रु को बनाया 1.7 करोड़ रु

|

नई दिल्ली, अक्टूबर 19। एचडीएफसी बैंक भारत में प्राइवेट सेक्टर का सबसे बड़ा बैंक है। इस बैंक के पास आप कई तरह से निवेश कर सकते हैं। इनमें एफडी, आरडी आदि शामिल हैं। साथ ही बैंक की म्यूचुअल फंड यूनिट भी है, जो ढेरों म्यूचुअल फंड स्कीमें चलाती है। मगर इन विकल्पों में आपको उतना रिटर्न नहीं मिलेगा, जितना एचडीएफसी बैंक के शेयर ने दिया है। लंबी अवधि में बैंक के शेयर ने निवेशकों के 1 लाख रु को 1.7 करोड़ रु में तब्दील कर दिया है। आगे जानिए कि इसमें कितना समय लगा।

 

शेयर बाजार : निवेशक को लगा तगड़ा झटका, 1 दिन में डूबे 3.78 लाख करोड़ रु

लगे 22 साल

लगे 22 साल

15 अक्टूबर 1999 को यह शेयर 9.82 रु पर था, जबकि आज एचडीएफसी बैंक का शेयर 1,687.60 रु पर बंद हुआ है। यानी 22 साल में इसने निवेशकों को 17085 फीसीदी रिटर्न दिया। इतने रिटर्न से निवेशकों की दौलत करीब 171 गुना हो गयी होगी। इसी आधार पर हम कह सकते हैं कि जिसने भी 22 साल पहले बैंक के शेयरों में सिर्फ 1 लाख रु लगाए होंगे, वो आज 1.71 करोड़ रु का मालिक होगा।

10 साल में कितना अमीर बनाया
 

10 साल में कितना अमीर बनाया

10 साल में भी एचडीएफसी बैंक ने भारी भरकम रिटर्न दिया है। 10 साल पहले 14 अक्टूबर 2011 को यह शेयर 237 रु के करीब था। जबकि इसका आज का रेट 1687.60 रु है। इस तरह 10 साल में इस शेयर ने 612 फीसदी से अधिक रिटर्न दिया और निवेशकों का पैसा 7 गुना से अधिक कर दिया। अगर किसी ने इस बैंक के 1 लाख रु के शेयर खरीदे हों तो आज उनकी वैल्यू 7 लाख रु से अधिक होगी।

6 महीनों और 1 साल का रिटर्न

6 महीनों और 1 साल का रिटर्न

एचडीएफसी बैंक का 6 महीनों और 1 साल का रिटर्न काफी शानदार रहा है। ये 6 महीनों में 1391.40 रु से 1,687.60 रु पर पहुंच गया। यानी इसने 21.3 फीसदी का रिटर्न दिया। 1 साल में देखें तो 1223.95 रु से 1687.60 रु पर पहुंचा। यानी इसका साल भर का रिटर्न करीब 38 फीसदी रहा है। पिछले 1 महीने में यह 8 फीसदी से अधिक रिटर्न देने में कामयाब रहा है, जो एफडी से अधिक है।

27 साल पुराना है इतिहास

27 साल पुराना है इतिहास

एचडीएफसी बैंक लिमिटेड एक भारतीय बैंकिंग और फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी है, जिसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र में है। एचडीएफसी बैंक संपत्ति और बाजार पूंजीकरण के हिसाब से भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट बैंक है। यह स्टॉक एक्सचेंजों पर लिस्टेड बाजार पूंजीकरण के मामले में तीसरी सबसे बड़ी कंपनी है। यह लगभग 1.20 लाख कर्मचारियों के साथ भारत में पंद्रहवां सबसे बड़ा एम्प्लोयर भी है। इसे 1994 में शुरू किया गया था।

बैंक के नतीजे

बैंक के नतीजे

बैंक को चालू वित्त वर्ष की दूसरी यानी जुलाई-सितंबर तिमाही में 8,834.31 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ। 2020-21 की इसी तिमाही की तुलना में बैंक का मुनाफा 17.6 प्रतिशत बढ़ा। हाई अदर इनकम (अन्य आय) से बैंक का मुनाफा इतना बढ़ा। तिमाही दर तिमाही आधार पर जून तिमाही के मुकाबले बैंक के मुनाफे में 14.3 फीसदी की ग्रोथ हुई। अच्छी लोन ग्रोथ से बैंक की ब्याज इनकम को सहारा मिला। तिमाही के दौरान ब्याज इनकम 12.1 प्रतिशत बढ़ कर 17,684.4 करोड़ रुपये हो गयी। बैंक के एडवांसेज में 15.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

English summary

HDFC Bank Money rained heavily Rs 1 lakh turned into Rs 1 point 7 crore

The stock stood at Rs 9.82 on October 15, 1999, whereas today the share of HDFC Bank closed at Rs 1,687.60. That is, in 22 years, it gave a return of 17085 percent to the investors.
Story first published: Tuesday, October 19, 2021, 18:57 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X