For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

ETF : सिर्फ 1 साल में 5 लाख रु पर दिया 2.15 लाख रु से ज्यादा का मुनाफा

|

नयी दिल्ली। पिछले एक साल में ईटीएफ (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड) के लिए निवेशकों में काफी दिलचस्पी देखी गई है। इनमें रिटेल निवेशक भी शामिल हैं। ईटीएफ ने रिटर्न भी बहुत तगड़ा दिया है। पिछले 1 साल में अलग-अलग ईटीएफ की बात करें तो सबसे अधिक रिटर्न 43.11 फीसदी रहा है। इस फंड में जिसने भी 5 लाख रु का निवेश किया होगा उसे 1 साल में 2.15 लाख रु से ज्यादा मुनाफा हुआ होगा। यहां हम आपको ईटीएफ के बारे में बताएंगे। साथ ही उन फंड्स के बारे में भी बताएंगे जिन्होंने निवेशकों को पिछले 1-3 साल में मालामाल कर दिया है।

क्या होता है ईटीएफ
 

क्या होता है ईटीएफ

ईटीएफ या एक्सचेंज ट्रेडेड फंड कई निवेशकों के पैसे को इकट्ठा करते हैं और विभिन्न प्रतिभूतियों (जैसे कि डेब्ट सिक्योरिटीज, शेयर आदि) में निवेश करते हैं। ये एक्सचेंजों में सूचीबद्ध होते हैं और इनमें कारोबार (ट्रेड) किया जाता है। इनमें से ज्यादातर ईटीएफ सेबी के पास रजिस्टर्ड होते हैं। निवेश के लिहाज से ईटीएफ एक अच्छा ऑप्शन हैं। इनसे निवेशकों को शेयर बाजार में अच्छा एक्सपोजर मिलता है।

इन ईटीएफ ने कराया लाखों का मुनाफा

इन ईटीएफ ने कराया लाखों का मुनाफा

मुनाफा कराने के मामले में मोतीलाल ओसवाल नैस्डैक 100 ईटीएफ सबसे आगे रहा। इसी 1 साल का रिटर्न 43.11 फीसदी रहा है। इस ईटीएफ ने 2 साल में 21.42 फीसदी और 3 साल में 27.67 फीसदी का रिटर्न दिया है। बिड़ला सन लाइफ गोल्ड ईटीएफ (जी) का 1, 2 और 3 साल का रिटर्न क्रमश: 30.35 फीसदी, 27.56 फीसदी और 18.39 फीसदी रहा है। इंवेस्को इंडिया गोल्ड ईटीएफ ने इन सालों में 30.25 फीसदी, 27.63 फीसदी और 18.41 फीसदी का रिटर्न दिया है। इसके अलावा एसबीआई ईटीएफ गोल्ड ने 30.11 फीसदी (1 साल), 27.46 फीसदी (2 साल) और 18.23 फीसदी (3 साल) तथा कोटक गोल्ड ईटीएफ के निवेशकों के हाथ 30 फीसदी (1 साल), 27.45 फीसदी (2 साल) और 18.31 फीसदी (3 साल) का रिटर्न आया है।

कैसी है ईटीएफ की स्थिति
 

कैसी है ईटीएफ की स्थिति

निवेशकों का इक्विटी म्यूचुअल फंड में अपनी हिस्सेदारी कम करना जारी हैं मगर ईटीएफ में दिलचस्पी बढ़ी है। हाल ही में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक निफ्टी-आधारित 50 ईटीएफ में एयूएम या एसेट अंडर मैनेजमेंट 1 लाख करोड़ रु की हो गई है। जबकि संयुक्त आधार पर इक्विटी और डेब्ट दोनों के ईटीएफ की एयूएम 2 लाख करोड़ रु को पार कर चुकी है।

क्यों करना चाहिए ईटीएफ में निवेश

क्यों करना चाहिए ईटीएफ में निवेश

ईटीएफ मौजूदा जैसे अनिश्चित समय के लिए बेहतर ऑप्शन है। ईटीएफ के जरिए आपको विदेशों में निवेश करने का मौका भी मिलता है। मोतीलाल नैस्डैक जैसे ईटीएफ अमेरिका के नैस्डैक को ट्रैक करते हैं। इसी तरह कुछ ईटीएफ हॉन्ग-कॉन्ग के हेंग-सेंग को ट्रैक करते हैं।

गोल्ड ईटीएफ में जम कर आया पैसा

गोल्ड ईटीएफ में जम कर आया पैसा

सोने के रेट बढ़ने के पीछे गोल्ड ईटीएफ में निवेश एक बड़ा कारण रहा है। पिछले कुछ महीनों में गोल्ड ईटीएफ में जम कर पैसा आया है। गोल्ड ईटीएफ ने निवेशकों को अच्छा रिटर्न भी दिया है। गोल्ड ईटीएफ को एक्सपर्ट्स निवेश के लिए बहुत बेहतर मानते हैं। अगर आप सोने में निवेश करना चाहते हैं तो बजाय फिजिकल गोल्ड के ईटीएफ ज्यादा बेहतर ऑप्शन है।

Gold ETF में खूब आया पैसा, निवेश में 86 फीसदी की बढ़ोतरी

English summary

ETF Gives over Rs 2 lakh profit in just 1 year on Rs 5 lakh

The ETF has also given very strong returns. Talking about different ETFs in the last 1 year, the highest returns have been 43.11 per cent.
Story first published: Wednesday, September 23, 2020, 18:17 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?