For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Post Office : हर महीने होगी कमाई, सिर्फ एक बार देना होगा पैसा

|

Post office saving Scheme: कम राशि का निवेश करके बेहतरिन मुनाफा कमाने की इच्छा हर कोई रखता है। कई बार लोग इसके लिए गलत तरीकों का सहारा लेते हैं और उनका पैसा डूब भी जाता है। कई बार पैसे डूबने के साथ-साथ लोग कानूनी पचड़े में भी फंस जाते हैं। इन सभी विकल्पो से परे बैंक एफडी और शेयर बाजार भी निवेश का बेहतर विकल्प है। लेकिन बैंक एफडी में मिलने वाली ब्याज दर जहां लोगों को लुभाती नहीं हैं, वहीं शेयर बाजार में रिस्क होने की वजह से अधिकतर लोग इसमें पैसा लगाने से झिझकते हैं।

 

Cheque bounce के बदलेंगे नियम, बेइमानों पर गिरेगी गाजCheque bounce के बदलेंगे नियम, बेइमानों पर गिरेगी गाज

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम

अगर आप एकमुश्त पैसा निवेश करके जोखिम का डर किए बिना घर बैठे मुनाफा कमाना चाहते हैं तो आपको पोस्ट ऑफिस की योजनाओं में निवेश करने के विषय में जरूर सोचना चाहिए। सुरक्षित निवेश विकल्प होने के कारण डाकघर की सेविंग स्कीम्स आम लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय रही हैं। सरकार ने हॉल ही में इसकी ब्याज दरें बढ़ाई हैं। सरकार ने डाकघर के 2 और 3 साल की सावधि जमाएं, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना, किसान विकास पत्र, डाकघर मासिक आय खाता आदि में मिलने वाले ब्याज दरों को बढ़ाया है।

निवेश रहता है सुरक्षित
 

निवेश रहता है सुरक्षित

पोस्ट ऑफिस की बचत योजनाएं उन लोगों के लिए निवेश का बेहतरीन अवसर है जो लोग निवेश के साथ अधिक रिस्क लेना पसंद नहीं करते है। भारतीय डॉकघर की योजनाएं सरकार के देखरेख में चलाई जाती हैं। इसलिए निवेश के लिए यह अधिक सुरक्षित होती हैं। सुरक्षित होने के साथ-साथ इनमें निवेश करने पर आयकर की धारा 80सी के तहत टैक्स में छूट का भी प्रावधान है।

ब्याज दर में हुआ है इजाफा

ब्याज दर में हुआ है इजाफा

सरकार ने छोटी बचत योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज दरों को 2021-22 की पहली तिमाही के में संशोधित किया था। पहली तीमाही में सरकार ने ब्याज दर घटा दिया था लेकिन इस तिमाही में सरकार ने ब्याज दरों को बढ़ाया है।


-पोस्ट ऑफिस की 2-वर्ष की एफडी पर मिलने वाले ब्याज दरों में 20 आधार अंकों की बढ़ोत्तरी की गई है। अब नई ब्याज दर 5.7 प्रतिशत हो गई है। पहले यह ब्याज दर 5.5 प्रतिशत था।
-डाकघर के 3-वर्षीय फिक्स्ड डिपॉजिट के ब्याज दर में 30 आधार अंकों की वृद्धि हुई है। सरकार ने ब्याज को 5.5 प्रतिशत से 5.8 प्रतिशत कर दिया है।
-वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में पहले 7.4 प्रतिशत ब्याज मिलता था अब 7.6 प्रतिशत ब्याज मिलेगा।
-मासिक आय योजना के ब्याज में भी बढ़ोत्तरी की गई है यह अब 6.7 प्रतिशत है, पहले यह 6.6 प्रतिशत था।
-सुकन्या समृद्धि योजना, पब्लिक प्रॉविडेंट फंड, और नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट जैसी सेविंग स्कीम पर सरकार ने ब्याज दर नहीं बढ़ाया है।

English summary

These post office saving schemes are better for regular income

But while the interest rate available in bank FDs does not entice people, due to the risk in the stock market, most people hesitate to invest money in it.
Story first published: Monday, October 10, 2022, 13:41 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X