For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Share Market : जानिए आज आई भारी गिरावट की वजह, इसलिए डूबे लाखों करोड़ रु

|

नई दिल्ली, जनवरी 24। शेयर बाजार में 24 जनवरी को लगातार पांचवें कारोबारी सत्र में बिकवाली जारी रही। इसस बेंचमार्क सूचकांकों में से प्रत्येक में लगभग 3 प्रतिशत की गिरावट आई। आज सेंसेक्स 1,545.67 अंक या 2.62 फीसदी गिर कर 57,491.51 पर और निफ्टी 468.10 अंक या 2.66 फीसदी फिसल 17,149.10 पर बंद हुआ। लगभग 450 शेयरों में तेजी आई है, जबकि 2938 शेयरों में गिरावट आई है और 100 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। आज आई गिरावट से शेयर बाजार के निवेशक बर्बाद हो गए। उनकी दौलत में एक ही दिन में लाखों करोड़ रु की गिरावट आई। आगे जानिए कि निवेशकों की संपत्ति में आज कितनी गिरावट आई। साथ ही जानिए शेयर बाजार में आई गिरावट की वजह।

 

LIC : रोज सिर्फ 200 रु बचाने पर पाएं 28 लाख रु, ये है कमाल की स्कीम

कितना हुआ निवेशकों को नुकसान

कितना हुआ निवेशकों को नुकसान

शेयर बाजार के निवेशकों को आज 9 लाख करोड़ रु से अधिक का नुकसान हुआ। बीते शुक्रवार को बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों की कुल मार्केट कैपिटल 2,69,65,801.54 करोड़ रु थी, जो आज 929566.18 करोड़ रु गिर कर 2,60,36,235.36 करोड़ रु रह गयी। निवेशकों को एक ही दिन में शेयर बाजार से 9.29 लाख करोड़ रु का नुकसान हुआ है।

हर सेक्टर में आई कमजोरी

हर सेक्टर में आई कमजोरी

ऑटो, मेटल, आईटी, पावर, फार्मा, रियल्टी, एफएमसीजी, कैपिटल गुड्स के साथ सभी सेक्टोरल इंडेक्स 2-6 फीसदी की गिरावट के साथ लाल निशान में बंद हुए। बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स में 4-4 फीसदी की गिरावट आई। जेएसडब्ल्यू स्टील, बजाज फाइनेंस, टाटा स्टील, ग्रासिम इंडस्ट्रीज और हिंडाल्को इंडस्ट्रीज निफ्टी पर टॉप गिरने वाले शेयरों में रहे, जबकि लाभ हासिल करने वालों में सिप्ला और ओएनजीसी शामिल रहे।

क्यों गिरा बाजार
 

क्यों गिरा बाजार

बता दें कि सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में आज नौ महीनों में सबसे अधिक एक दिवसीय गिरावट दर्ज की गयी है। जानकारों का मानना ​​है कि ये गिरावट अगले कुछ हफ्तों तक जारी रह सकती है। यह गिरावट मुख्य रूप से निवेशकों के बीच बजट से पहले की घबराहट और कमजोर तिमाही नतीजों की लहर के कारण आई है। दूसरी तरफ विदेशी निवेशक भी बिकवाली जारी रखे हुए हैं।

जानिए गिरावट के बाकी कारण

जानिए गिरावट के बाकी कारण

अमेरिकी स्टॉक मार्केट में गिरावट, दिग्गज तकनीकी शेयरों में आई कमजोरी, भारत में बढ़ते कोविड के मामले, बढ़ती लागत से कंपनियों के कमजोर नतीजे और पूरे सिस्टम में मांग में कमजोरी वो बड़े कारण हैं, जिनके चलते शेयर बाजार गिर रहा है।

आगे क्या हो सकता है
आज सिर्फ टेक्नोलॉजी शेयरों में ही नहीं, बल्कि वोडाफोन आइडिया और जेएसडब्ल्यू स्टील सहित कई अन्य फर्मों के शेयरों में गिरावट आई। विशेषज्ञों ने निवेशकों से सावधानी से ट्रेड करने और तुरंत मुनाफावसूली न करने को कहा है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इस बात की संभावना है कि 2022-23 के केंद्रीय बजट से पहले बाजार में और गिरावट आएगी।

ये फैक्टर तय करेगा बाजार की चाल

ये फैक्टर तय करेगा बाजार की चाल

इसके अलावा, 26 जनवरी को एफओएमसी (अमेरिका की फेडरल ओपन मार्किट कमेटी) की बैठक के नतीजे यह निर्धारित करेंगे कि बजट से पहले बाजार कैसा प्रदर्शन करेगा। एक और बात कि जनवरी डेरिवेटिव कॉन्ट्रैक्ट की मासिक एक्सपायरी से पहले भी ट्रेडर सतर्क रहते हैं। सभी परिस्थितियों को देखते हुए अनुमान यह भी है कि 27 जनवरी को बाजारों में कुछ बढ़त हो सकती है, लेकिन 1 फरवरी, 2022 को बजट की घोषणा होने तक घबराहट की भावना बाजार पर हावी रहने की संभावना है।

English summary

Share Market Know the reason for the huge fall today so lakhs of crores of rupees were drowned

Investors have lost Rs 9.29 lakh crore from the stock market in a single day.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X