For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Sensex में गिरावट, 410 अंक टूटकर 60,000 अंक के नीचे आया

|

नई दिल्ली, सितंबर 28। आज शेयर बाजार में गिरावट के साथ क्लोजिंग हुई। आज जहां सेंसेक्स करीब 410.28 अंक की तेजी के साथ 59667.60 अंक के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 106.50 अंक की गिरावट के साथ 17748.60 अंक के स्तर पर बंद हुआ। इसके अलावा आज बीएसई में कुल 3,425 कंपिनयों में ट्रेडिंग हुई, इसमें से करीब 1,512 शेयर तेजी के साथ और 1,743 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। वहीं 170 कंपनियों के शेयर के दाम में कोई अंतर नहीं आया। वहीं आज शाम को डॉलर के खिलाफ रुपया 20 पैसे की कमजोरी के साथ 74.04 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।

 
Sensex में गिरावट, 410 अंक टूटकर 60,000 अंक के नीचे आया

निफ्टी के टॉप गेनर

पॉवर ग्रिड कार्पोरेश का शेयर करीब 8 रुपये की तेजी के साथ 183.95 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।
कोल इंडिया का शेयर करीब 8 रुपये की तेजी के साथ 174.55 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।
एनटीपीसी का शेयर करीब 5 रुपये की तेजी के साथ 131.95 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।
आईओसी का शेयर करीब 4 रुपये की तेजी के साथ 122.95 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।
बीपीसीएल का शेयर करब 9 रुपये की तेजी के साथ 429.60 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।

SIP : 2100 रुपये से शुरू करें निवेश, हो जाएगा 1 करोड़ रु

निफ्टी के टॉप लूजर

भारती एयरटेल का शेयर करीब 26 रुपये की गिरावट के साथ 696.15 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।
टेक महिन्द्रा का शेयर करीब 50 रुपये की गिरावट के साथ 1,414.05 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।
बजाज फिनांस का शेयर करीब 252 रुपये की गिरावट के साथ 7,543.30 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।
देवी लैब का शेयर करीब 149 रुपये की गिरावट के साथ 4,784.05 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।
बजाज फिनसर्व का शेयर करीब 481 रुपये की गिरावट के साथ 17,550.35 रुपये के स्तर पर बंद हुआ।

 
Sensex में गिरावट, 410 अंक टूटकर 60,000 अंक के नीचे आया

जानिए कब हुई थी सेंसेक्स की शुरुआत

मुम्बई शेयर बाजार (बीएसई) के एक सूचकांक सेंसेक्स है। मुंबई शेयर बाजार के लिए इसे 1986 में तैयार किया गया था। तभी से यह न सिर्फ भारत बल्कि दुनिया भर में इस महत्व पूर्ण सूचकांक समझा जाता है। सेंसेक्स में बीएसई की 30 कंपनियों को शामिल किया जाता है। पहले सेंसेक्स के अंकों की गणना मार्केट कैपिटलाइजेशन-वेटेज मेथाडोलाजी के आधार पर होती है, लेकिन अब फ्री फ्लोट मार्केट कैपिटलाइजेशन-वेटेज मेथाडोलाजी के आधार पर की जाती है। सेंसेक्स का आधारवर्ष 1978-79 है।

जानिए कब हुई थी निफ्टी की शुरुआत

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का प्रमुख सूचकांक निफ्टी है। निफ्टी में एनएसई की टॉप 50 कंपनियों को शामिल कर सूचकांक का स्तर पर तय किया जाता है। निफ्टी सूचकांक निफ्टी दो शब्दों को मिला कर बनाया गया है। यह हैं नेशनल और फिफ्टी। निफ्टी का आधार वर्ष 1995 है। निफ्टी-50 में एनएसई की टॉप् 50 कंपनियों को फ्री फ्लोट मार्केट कैप के आंकड़ों के आधार पर सिलेक्ट किया जाता है।

Sensex में गिरावट, 410 अंक टूटकर 60,000 अंक के नीचे आया

कैसे खरीद सकते हैं शेयर बाजार से शेयर

शेयर बाजार में अगर किसी की निवेश की इच्छा है तो उसे पहले किसी शेयर ब्रोकर के पास एक डीमैट और ट्रेडिंग खाता खुलवाना पड़ेगा। सीधे स्टॉक एक्सचेंज से शेयर नहीं खरीदे जा सकते हैं। डीमैट और ट्रेडिंग खाता खुलवाने के लिए पैन, आधार और बैंक खाते की जरूरत पड़ती है। अगर यह दस्तावेज हैं, तो आराम से किसी ब्रोकर के पास खाता खुलवा कर शेयर बाजार में निवेश शुरू किया जा सकता है।

English summary

Sensex down 410 points came below the level of 60000 points

On 28 September the Sensex closed with a down of 410 points and the Nifty down by 107 points.
Story first published: Tuesday, September 28, 2021, 15:48 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X