For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

PM Modi : नेशनल इंफ्रा पाइपलाइन प्रोजेक्ट पर होंगे 100 लाख करोड़ रु से ज्यादा खर्च

|

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से देश के नाम अपने संबोधन में कहा कि भारत ने कोरोनोवायरस महामारी से निपटने में अच्छा प्रदर्शन किया है। साथ ही उन्होंने कमजोर अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन प्रोजेक्ट के तहत 100 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च करने का ऐलान किया। लाल किले से 74वें स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत को आधुनिकता की ओर तेजी से बढ़ने के लिए समग्र इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास को एक नई दिशा देने की आवश्यकता है और नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन प्रोजेक्ट इस लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार ने महामारी के आर्थिक प्रभाव की भरपाई के लिए 7,000 इंफ्रा परियोजनाओं की पहचान की है।

क्या होगी नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन प्रोजेक्ट की भूमिका
 

क्या होगी नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन प्रोजेक्ट की भूमिका

पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि भारत को आधुनिकता की ओर तेज गति से आगे बढ़ाने के लिए देश के कुल इंफ्रास्ट्रक्चरल डेवलपमेंट को एक नई दिशा देने की जरूरत है। इस जरूरत को नेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन प्रोजेक्ट के जरिए पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास में साइलोस को खत्म करने का समय आ गया है और मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए एक बड़ी योजना तैयार की गई है। पीएम मोदी ने कहा इन्फ्रास्ट्रक्चर में साइलो (टॉवर या गड्ढा जिसमें अनाज रखा जाता है) को खत्म करने का युग आ गया है। इसके लिए पूरे देश को मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी इंफ्रास्ट्रक्चर से जोड़ने के लिए एक बहुत बड़ी योजना तैयार की गई है।

कोरोना संकट से बाहर निकलने में मदद करेगी ये परियोजना

कोरोना संकट से बाहर निकलने में मदद करेगी ये परियोजना

उन्होंने कहा कि नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन प्रोजेक्ट कोरोना के प्रभाव से देश को बाहर निकालने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। उन्होंने स्वर्णिम चतुर्भुज के माध्यम से सड़क नेटवर्क के विस्तार में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के योगदान को भी याद किया। पीएम मोदी ने कहा कि भारत सहित कोरोनोवायरस महामारी की मार झेल रहे देशों में 130 करोड़ से अधिक भारतीयों ने अपनी सोच में आत्मनिर्भर भारत के साथ आत्मनिर्भर होने का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा कि हमें मेक इन इंडिया के साथ-साथ मेक फॉर द वर्ल्ड के मंत्र के साथ आगे बढ़ना है। उन्होंने कहा कि भारत के आत्मनिर्भर बनने के संकल्प पर विचार करते हुए आज कई बड़ी कंपनियां भारत की ओर रुख कर रही हैं।

आत्मनिर्भर भारत अभियान पर जोर
 

आत्मनिर्भर भारत अभियान पर जोर

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले पर तिरंगा फहराया और देश को संबोधित किया। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने आत्मनिर्भर भारत और वोकल फॉर लोकल पर काफी जोर दिया। अपने लगातार सातवें स्वतंत्रता दिवस भाषण में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि "आत्मनिर्भर भारत" के आह्वान ने लोगों का ध्यान आकर्षित किया है और ये सभी के लिए "मंत्र" बन गया है। उन्होंने वैश्विक इकोनॉमी में भारत की हिस्सेदारी बढ़ाने पर भी जोर दिया।

दिल्ली : आसानी से मिलेगा 20000 रु का लोन, जानिए कौन ले सकता है फायदा

English summary

PM Modi National Infra Pipeline Project to be spent more than Rs 100 lakh crore

The PM, in his address, said that in order to move India towards modernity at a faster pace, the total infrastructure development of the country needs to be given a new direction.
Story first published: Saturday, August 15, 2020, 16:51 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?