For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

स्वनिधि योजना : PM Modi बोले, अब बैंक जा रहे गरीबों के दरवाजे पर

|

नई द‍िल्‍ली: देश में महामारी के दौरान लॉकडाउन से प्रभावित पटरी व्यवसायियों की मदद के लिए शुरू की गई प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना के तहत मंगलवार यानी आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश के सभी नगर निकायों के लाभार्थियों से वर्चुअल संवाद किया। PM Kisan Samman Nidhi: इन्‍हें नहीं म‍िलेगा स्कीम का लाभ, जानि‍ए ड‍िटेल ये भी पढ़ें

स्वनिधि योजना: PM Modi बोले, अब बैंक जा रहे गरीबों के दरवाजे

 

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, मैंने स्वनिधि योजना के लाभार्थियों से संवाद करते हुए ये अनुभव किया कि सभी को खुशी भी है और आश्चर्य भी है। पहले तो नौकरी वालों को लोन लेने के लिए बैंकों के चक्कर लगाने होते थे, गरीब आदमी तो बैंक के भीतर जाने का भी नहीं सोच सकता था। लेकिन आज बैंक खुद उनके पास आ रहा है।

 1 लाख 70 हजार करोड़ से गरीब कल्याण योजना शुरू

1 लाख 70 हजार करोड़ से गरीब कल्याण योजना शुरू

पीएम मोदी ने कहा, हमारे रेहड़ी-पटरी वालों की मेहनत से देश आगे बढ़ता है। ये लोग आज सरकार का धन्यवाद दे रहे हैं, लेकिन मैं इसका श्रेय सबसे पहले बैंक कर्मियों की मेहनत को देता हूं। बैंक कर्मियों की सेवा के बिना ये कार्य नहीं हो सकता था। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आज का दिन आत्मनिर्भर भारत के लिए महत्वपूर्ण दिन है। कठिन से कठिन परिस्थितियों का मुकाबला ये देश कैसे करता है, आज का दिन इसका साक्षी है। महामरी संकट ने जब दुनिया पर हमला किया, तब भारत के गरीबों को लेकर तमाम आकांक्षा व्यक्त की जा रही थी। इसी सोच के साथ देश ने 1 लाख 70 हजार करोड़ से गरीब कल्याण योजना शुरू की।

 इस मामले में यूपी पूरे देश में नंबर वन
 

इस मामले में यूपी पूरे देश में नंबर वन

जि‍स तरह रेहड़ी-पटरी वाले साथी फिर से अपना काम शुरु कर पा रहे है। आत्मनिर्भर होकर आगे बढ़ रहे है। याद दि‍ला दें कि 1 जून को पीएम स्वनिधि योजना को शुरु किया गया था। 2 जुलाई को ऑनलाइन पॉर्टल पर इसके लिए आवेदन शुरु हो गए थे। इस योजनाओं पर इतनी गति देश पहली बार देख रहा है। उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में स्ट्रीट वेंडर्स की बहुत बड़ी भूमिका है। इस दौरान पीएम मोदी ने इस बात का भी ज‍िक्र क‍िया कि यूपी से जो पलायन होता था उसे कम करने में भी रेहड़ी-पटरी के व्यवसाय की बहुत बड़ी भूमिका है। इसलिए पीएम स्वनिधि योजना का लाभ पहुंचाने में भी यूपी आज पूरे देश में नंबर वन है।

स्वनिधि योजना में ज्यादा से ज्यादा तकनीक का इस्तेमाल

स्वनिधि योजना में ज्यादा से ज्यादा तकनीक का इस्तेमाल

आपको बता दें कि इस योजना में शुरुआत से ये ध्यान रखा गया है कि रेहड़ी-पटरी वालों को किसी प्रकार की परेशानी न हो। इसलिए इस योजना में तकनीक का ज्यादा से ज्यादा उपयोग सुनिश्चित किया गया। कोई कागज नहीं, गारंटर नहीं, दलाल नहीं और किसी सरकारी दफ्तर के चक्कर लगाने की भी जरूरत नहीं। पीएम ने कहा, गरीब के नाम पर राजनीति करने वालों ने देश में ऐसा माहौल बना दिया था कि गरीब को लोन दे दिया तो वो पैसा लौटाएगा ही नहीं। लेकिन इसके बाद भी पीएम मोदी ने इस बात का ज‍िक्र किया कि हमारे देश का गरीब आत्मसम्मान और ईमानदारी से कभी भी समझौता नहीं करता है।

7 लाख से अधिक हुआ रजिस्ट्रेशन

7 लाख से अधिक हुआ रजिस्ट्रेशन

मौके पर मौजूद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, महामारी के दौरान पीएम मोदी का मार्गदर्शन देश के लोगों को मिला। इससे देश में न केवल कोविड-19 को नियंत्रित करने में सफलता प्राप्त हुई, बल्कि प्रदेश की जनता की जान की रक्षा करने में भी मदद मिली। उन्होंने बताया, पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत राज्य में अब तक 7 लाख से अधिक पटरी व्यवसायियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। अब तक 3.70 लाख से अधिक पटरी व्यवसायियों के ऋण स्वीकृत हुए हैं।

English summary

PM Modi Interacts With SVANidhi Beneficiaries From UP

Prime Minister Narendra Modi on Tuesday interacted with the beneficiaries of the Pradhan Mantri Swanidhi Yojana in Uttar Pradesh through video conferencing.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?