For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Budget 2021 : टैक्स घटने से क्या बढ़ जाएगी Gold की डिमांड, जानिए यहां

|

नई द‍िल्‍ली: सोना-चांदी खरीदने वालों के ल‍िए अच्छी खबर है। सरकार ने सोने-चांदी पर कस्टम ड्यूटी घटाने का ऐलान किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को केंद्रीय बजट 2021 को पेश करते हुए सोने पर आयात शुल्क में कटौती का प्रस्ताव किया। सीतारमण ने सोने और चांदी पर आयात शुल्क को 12.5 प्रतिशत से घटाकर 7.5 फीसदी करने का प्रस्ताव दिया।

 
Budget 2021 : टैक्स घटने से क्या बढ़ जाएगी Gold की डिमांड

इससे सराफा बाजार की चमक और बढ़ने की संभावना बनी है। बजट पेश होने के बाद सोने के दाम में करीब एक हजार रुपये का अंतर आ गया है। वित्त मंत्री ने कहा कि जुलाई 2019 में सोने पर आयात शुल्क 10 फीसदी से बढ़ाकर 12.5 फीसदी किया गया था। इसके कारण देश में सोने के भाव में काफी उछाल आया था। सरकार ने इसे देखते हुए फैसला किया कि सोने और चांदी पर सीमा शुल्क को तर्कसंगत बनाया जाये। इस बजट घोषणा का असर बाजार पर भी नजर आया।

सोना और चांदी की ट्रेडिंग में आएगी तेजी
आयात शुल्क में कमी की वजह से सोने और चांदी की खरीद सस्ती होगी। इससे सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि निवेशकों की भागीदारी ट्रेडिंग में बढ़ेगी। इसके साथ ही संगठित कारोबार को बढ़ावा मिलेगा। इसके साथ ही सोने और चांदी की तस्करी पर भी रोक लगेगी। जानकार कहते हैं कि बुलियन इंडस्ट्री और निवेशकों के लिए यह बेहतर फैसला साबित होगा।

 

भारत में बड़ी मात्रा में स्वर्ण आयात होता है और विदेश और भारत के बीच इसकी कीमतों में फर्क के कारण देश में सोने की तस्करी भी होती है। माना जा रहा है कि अब चूंकि ये कदम उठाया गया है इसलिए तस्करी में कमी आ सकती है। सीतारमण ने लोकसभा में बजट पेश करते हुए कहा कि वाहनों के कल-पुर्जे, सौर ऊर्जा क्षेत्र के उपकरणों, सूती तथा कच्चे रेशम पर सीमा शुल्क को बढ़ाया गया है। इनके अलावा नेफ्था पर सीमा शुल्क को घटाकर 2.5 प्रतिशत कर दिया गया है। इस्पात के कबाड़ (स्टील स्क्रैप) को मार्च 2022 तक सीमा शुल्क से छूट दी गयी है। वित्त मंत्री ने कुछ उत्पादों पर बुनियादी संरचना विकास उपकर लगाने का भी प्रस्ताव किया. सोना और चांदी पर 2.5 प्रतिशत, सेब पर 35 प्रतिशत, विशेषीकृत उर्वरकों पर 5 प्रतिशत, कोयला, लिग्नाइट, पेट कोक पर 1.5 प्रतिशत कृषि बुनियादी उपकर लगाया गया।

2020 में 35 प्रतिशत घटी सोने की मांग
भारत में सोने की कुल मांग 2020 में 35 प्रतिशत घटकर 446.4 टन रही - जो पिछले 25 वर्षों में सबसे कम थी - 2019 में 690.4 टन। 2019 में भी यह साल-दर-साल लगभग 9 प्रतिशत कम हुई थी। जबकि 2019 में आयात शुल्क में कुछ हद तक, सोने की मांग को कम करने में मदद की थी, तब से मूल्य में उल्लेखनीय वृद्धि ने लोगों को पीली धातु से दूर रखा है, विशेष रूप से आभूषण की मांग को ध्यान में रखते हुए एक प्रमुख मांग योगदानकर्ता है। उदाहरण के लिए, 2020 में 446.4 टन की मांग में से, आभूषण की मांग 315.9 टन थी। समग्र खपत में भारत केवल चीन से पीछे है।

Budget 2021 : वित्त मंत्री ने बजट को पूरी तरह से पारदर्शी बताया

English summary

Now Buying Gold And Silver Will Be Cheaper Custom Duty Reduced

In the budget, Finance Minister Nirmala Sitharaman has announced to reduce the custom duty on gold and silver. Reduction in import duty will increase the brightness of bullion market.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X