For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Petrol सस्ता होने का रास्ता साफ, जानिए सरकार ने क्या किया

|

नई दिल्ली, जुलाई 5। मोदी सरकार ने आज बड़ा कदम उठाया है। इसके चलते एक तरफ जहां कंपनियों को फायदा होगा, वहीं पेट्रोल सस्ता होने का रास्ता भी साफ हो सकता है। सरकार ने आज पेट्रोल में एथेनाल मिलाने को लेकर बड़ी छूट की घोषणा की है। इसके तहत पेट्रोलियम कंपनियां जैसे ही एक स्तर तक एथेनाॅल को मिलाने लगेंगी, उनको टैक्स में छूट दी जाएगी। इससे कंपनियां तेजी से पेट्रोल और डीजल में एथेनॉल मिलने पर ध्यान देंगी।
आइये जानते हैं कि पूरा मामला है क्या।

 

12 फीसदी एथेनॉल मिलाने पर उत्पाद शुल्क खत्म

12 फीसदी एथेनॉल मिलाने पर उत्पाद शुल्क खत्म

वित्त मंत्रालय ने आज एक नोटिफिकेशन जारी कर बताया है कि अगर पेट्रोलियम कंपनियां 12 फीसदी और 15 फीसदी एथेनॉल मिश्रित पेट्रोल बेचेंगी तो उस पर उत्पाद शुल्क नहीं लिया जाएगा। ऐसा होने से पेट्रोलियम कंपनियों का टैक्स का बड़ा भारी बोझ कम हो जाएगा।

जानिए कैसे होगा फायदा

जानिए कैसे होगा फायदा

सरकार ने कहा है कि अगर पेट्रोलियम कंपनियां 12 फीसदी या 15 फीसदी एथेनॉल मिलाने लगेंगी, उनको उत्पाद शुल्क में छूट मिलनी शुरू हो जाएगी। यानी पेट्रोलियम कंपनियां जैसे जैसे एथेनॉल मिश्रण का यह पाती जाएंगी उनको यह छूट मिलने लगेगी।

Jio Petrol Pump : ऐसे लें एजेंसी, करें मोटी कमाई

कैसे काम करेगी यह व्यवस्था
 

कैसे काम करेगी यह व्यवस्था

बताया गया है कि जितने पेट्रोल में 12 फीसदी एथेनॉल मिश्रण का स्तर कंपनियां पा जाएंगी, उस पर छूट मिलने लगेगी। इसको इस तरह भी समझा जा सकता है कि अगर पेट्रोलियम कंपनियों ने 1000 लीटर पेट्रोल ऐसा बेचा जिसमें एथेनॉल की 12 फीसदी का मिश्रण है। ऐसा होने पर कंपनियों को 120 लीटर पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क से राहत दे दी जाएगी। वहीं बाकी बचे 880 लीटर पेट्रोल पर सामान्य दर से टैक्स लगता रहेगा। सरकार के इस फैसले से पेट्रोलियम कंपनियां एथेनॉल का मिश्रण तेजी से बढ़ाने पर ज्यादा ध्यान देंगी।

जानिए एथेनॉल मिश्रण के फायदे

जानिए एथेनॉल मिश्रण के फायदे

इस वक्त पेट्रोल में करीब 10 फीसदी तक की एथेनॉल की ब्लेंडिंग हो रही है। इससे जहां सरकार की 41,000 करोड़ रुपये की विदेशी मुद्रा बची है, वहीं पर्यावरण का फायदा अलग से हुआ है। इसके अलावा किसानों को यह 41000 करोड़ रुपये का एक बड़ा हिस्सा मिला है। एक समय आएगा जब पेट्रोलियम कंपनियों पर आर्थिक बोझ कम होगा, पेट्रोल डीजल का रेट कम होना शुरू हो जाएगा।

 

English summary

No excise duty on petrol and diesel with 12 percent ethanol blending

The Finance Ministry has issued a notification saying that to speed up the process of mixing ethanol in petrol and diesel, a scheme has been started to give relief in excise duty.
Story first published: Tuesday, July 5, 2022, 14:41 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X