For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

PM Kisan : 1.03 करोड़ लोगों को योजना से किया गया बाहर, चेक करें कहीं आपका नाम तो नहीं

|

नयी दिल्ली। हाल ही में मोदी सरकार की प्रमुख योजनाओं में से एक प्रधानमंत्री किसान निधि योजना (पीएम किसान) को दो साल पूरे हो गए। इस योजना को 2018 में शुरू किया गया था। पीएम किसान के तहत तीन समान किश्तों में पात्र किसानों को सालाना 6000 रुपये (2000-2000 रु की तीन किस्तें) की सहायता दी जाती है। ये योजना उन छोटे और सीमांत परिवारों को कवर करती है, जिनके पास कुल 2 हेक्टेयर जमीन है। सरकार ने पीएम किसान के 10 करोड़ से अधिक किसान लाभार्थियों को अब तक को 94,000 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान किया है। मगर सरकार ने 2 करोड़ से अधिक लोगों को इस योजना से बाहर भी किया गया है। आइए जानते हैं क्यों।

कितने लाभार्थी रह गए
 

कितने लाभार्थी रह गए

कुछ समय पहले तक पीएम किसान के तहत लाभार्थियों की संख्या 11 करोड़ के करीब थी, जो अब घट कर 9.97 करोड़ के आस-पास रह गई है। इसका मतलब साफ है कि सरकार ने करीब 1.03 लोगों को इस योजना से बाहर कर दिया है। इस योजना के तहत 2000 रु की सातवीं किस्त का पैसा 1 दिसंबर से लाभार्थी किसानों के खाते में आना शुरू हो गया है।

क्यों कम किए गए लाभार्थी

क्यों कम किए गए लाभार्थी

असल में पीएम किसान के तहत करोड़ों ऐसे किसानो ने भी अपना नामांकन करा रखा था, जो असल में पात्र नहीं थे। एक रिपोर्ट के अनुसार सरकार ने इस मामले में सख्त रुख अपनाया है। सराकर ने लाखों लोगों को योजना के पोर्टल से हटा दिया है। जबकि बहुत से लोगों ने खुद ही अपना नाम हटा लिया है। सरकार ने ऐसे लोगों से बाकयदा रिकवरी करना यानी योजना के तहत लिए गए पैसे वापस लेना शुरू कर दिया है।

टैक्स भरने वाले किसानों ने उठाया लाभ
 

टैक्स भरने वाले किसानों ने उठाया लाभ

इस योजना के तहत ऐसे किसानों ने भी पैसा ले लिया, जो टैक्स भरते हैं। जबकि योजना का लाभ वे ही किसान ले सकते हैं, जो टैक्स नहीं भरते। ऐसे किसानों की संख्या लाखों में बताई जा रही है। गलत जानकारी देकर पीएम किसान का फायदा उठाने वालों का नाम हटा दिया गया है। अगर आप इस योजना के लाभार्थी हैं तो एक बार अपना नाम चेक कर लें।

कैसे करें नाम चेक

कैसे करें नाम चेक

अपना नाम चेक करने के लिए पीएम किसान योजना के पोर्टल pmkisan.gov.in पर विजिट करें। फिर होम पेज में मेन्यू पर जाएं। यहां आपको ‘Farmer Corner' दिखेगा। इस पर क्लिक करें और फिर आपको नए पेज पर ‘Beneficiary list' पर क्लिक करना होगा। आपके सामने एक और नया पेज खुलेगा, जहां आपको जरूरी डिटेल दर्ज करनी होगी, जिसमें राज्य, जिला और ब्लॉक आदि शामिल हैं। ये डिटेल दर्ज करने के बाद आपको गेट रिपोर्ट पर क्लिक करना होगा। इसके बाद लिस्ट आपके सामने आ जाएगी।

कब-कब मिलता है पैसा

कब-कब मिलता है पैसा

जैसा कि हमने बताया कि इस योजना के तहत साल तीन बार पैसा मिलता है। लाभार्थियों को 2-2 हजार रु की तीन किस्तें भेजी जाती हैं। इनमें पहली किस्त 1 दिसंबर और 31 मार्च के बीच भेजी जाती है। वहीं दूसरी किस्त 1 अप्रैल से 31 जुलाई और तीसरी किस्त 1 अगस्त से 30 नवंबर के दौरान ट्रांसफर की जाती है।

रातोंरात बना अमीर : दुबई में रहने वाले भारतीय ने जीते 24 करोड़ रु, जानिए कैसे

English summary

more than 1 crore people were excluded from PM Kisan scheme check if your name is there

Until recently, the number of beneficiaries under PM Kisan was close to 11 crore, which has now come down to around 9.97 crore.
Story first published: Saturday, December 5, 2020, 18:03 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?