For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

IRFC करती है रेलवे की फंडिंग, पहली बार शेयर पहुंचा IPO प्राइस के पार

|

IRFC Share Price : इस समय इंडियन रेलवे से जुड़ी कंपनियों के शेयरों में जबरदस्त तेजी देखने को मिल रही है। इनमें इंडियन रेलवे फाइनेंस कार्पोरेशन (आईआरएफसी) भी अच्छी तेजी दिखा रहा है। आज बीएसई पर इसके शेयर में 7 फीसदी से अधिक तेजी दिख रही है। कंपनी का शेयर पहली बार अपने आईपीओ प्राइस से ऊपर पहुंचा है। इस समय कंपनी का शेयर आज 7 फीसदी से अधिक की तेजी के साथ 28.20 रु पर पहुंच गया है। जबकि इसके आईपीओ का प्राइस बैंड 25-26 रु रहा था। इसकी मार्केट कैपिटल इस समय लगभग 37000 करोड़ रु है। आज यह 28.70 रु के स्तर तक गया है, जो इसके पिछले 52 हफ्तों का भी शिखर है। आगे जानिए बाकी डिटेल।

 
IRFC करती है रेलवे की फंडिंग, शेयर पहुंचा IPO प्राइस के पार

कंपनी में सिर्फ 37 कर्मचारी
अब हम आपको देते हैं आईआरएफसी के बारे में कुछ अहम जानकारी। सबसे पहले तो यह जानिए कि इस कंपनी में सिर्फ 37 लोग काम करते हैं, जबकि इसकी ताजा मार्केट कैपिटल करीब 37000 करोड़ रु ही है। वहीं कंपनी की नेटवर्थ 41,000 करोड़ रु है। बात करें इसके बिजनेस की तो आईआरएफसी का बिजनेस मॉडल काफी यूनीक है। ये एक फाइनेंस कंपनी है, जो कि फंडिंग करती है। पर इसका एनपीए (नॉन-परफॉर्मिंग एसेट) जीरो है।

किसे करती है फंडिंग
आईआरएफसी इंडियन रेलवे के लिए फंडिंग करती है। बल्कि आईआरएफसी भारतीय रेलवे की समर्पित फंडिंग यूनिट है। रेल इंफ्रा के लिए फंडिंग की जिम्मेदारी भी आईआरएफसी की रहती है। रेलवे की जिन कंपनियों की यह फंडिंग करती है, उनमें आरवीएनएल, रेलटेल, कोकण रेल और पीपावाव रेलवे शामिल हैं। इतना ही नहीं आईआरएफसी इस समय रेल इंफ्रा प्रोजेक्ट में 45 से 55 फीसदी तक फंडिंग करती है।

 
IRFC करती है रेलवे की फंडिंग, शेयर पहुंचा IPO प्राइस के पार

सरकारी गारंटी से कर्ज
आईआरएफसी करती है यह है कि ये रेलवे को बहुत कम ब्याज पर कर्ज देती तो है, मगर सरकारी गारंटी से। सरकारी गारंटी के कारण ही इसका एनपीए जीरो है। दूसरी तरफ इसे सरकार से छूट प्राप्त है। इस वजह से इसे टैक्स में काफी बचत होती है। पिछले वित्त वर्ष (2021-22) की बात करें तो इसने रेलवे की फंडिंग में 5 लाख करोड़ रु से भी ज्यादा का योगदान दिया।

कहां है ऑफिस
आईआरएफसी का ऑफिस दिल्ली में ही स्थित है। इसका ऑफिस होटल अशोक में है। पिछले वित्त वर्ष में फंडिंग कॉस्ट की बात करें तो यह आईआरएफसी के लिए 6.42 फीसदी रही। आपको बता दें कि केंद्र सरकार रेलवे की ग्रोथ पर काफी ध्यान दे रही है। बल्कि कहा जा सकता है कि सरकार इस तरफ काफी गंभीरता से देख रही है। बजट 2022 में रेलवे के लिए बजट में 17 फीसदी का इजाफा किया गया है।

IRFC करती है रेलवे की फंडिंग, शेयर पहुंचा IPO प्राइस के पार

400 नई वंदे भारत ट्रेनें
इस समय 400 नई वंदे भारत ट्रेनें चलाने पर काम चल रहा है। पीएम गति शक्ति योजना के तहत 100 फ्रेट टर्मिनल बनाए जाएंगे। वहीं रेल सुरक्षा अपग्रेडेशन होगा, जिस पर 34000 करोड़ रु खर्च किए जाने का अनुमान है। इसके अलावा रेलवे का 900 वैगन और जोड़ने की भी योजना है। ये काम 2025 तक हो सकता है। इन सभी बातों से जाहिर है कि रेलवे में तेज ग्रोथ होगी और इसके लिए फंडिंग चाहिए। इससे रेलवे सेक्टर में आईआरएफसी का योगदान काफी अहम हो जाता है।

जोरदार शेयर : Chemical कंपनी ने दिया 5 साल में 900 फीसदी रिटर्न, अब बनाएगा 4 लाख के 5 लाखजोरदार शेयर : Chemical कंपनी ने दिया 5 साल में 900 फीसदी रिटर्न, अब बनाएगा 4 लाख के 5 लाख

English summary

IRFC does funding of railways stock crossed IPO price for first time

Today its stock is showing a gain of more than 7 per cent on BSE. The company's stock has reached above its IPO price for the first time. At this time, the company's stock has gained more than 7 percent to reach Rs 28.20 today.
Story first published: Thursday, November 17, 2022, 12:55 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X