For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

ये बैंक इसलिए वसूलेगा चार्ज, साथ ही देगा सेविंग्स पर कम ब्याज

|

नई दिल्ली, जुलाई 13। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) के खाताधारकों को अब घर बैठे सेवाएं (डोरस्टेप बैंकिंग) लेने के लिए भुगतान करना होगा। साथ ही ये बैंक अपने ग्राहकों को सेविंग्स अकाउंट के बैलेंस पर कम ब्याज देगा। आईपीपीबी ने डोरस्टेप बैंकिंग पर फिर से शुल्क शुरू करने के साथ ही बचत खातों के सभी ग्राहकों के लिए अपनी ब्याज दरों में संशोधन किया है। 01 अगस्त 2021 से आईपीपीबी की डोरस्टेप बैंकिंग सुविधा शुल्क में बदलाव होने जा रहा है। फिलहाल डोरस्टेप बैंकिंग पर कोई शुल्क लागू नहीं है। असल में इस शुल्क को माफ कर दिया गया था। मगर 1 अगस्त 2021 से आईपीपीबी बतौर डोरस्टेप बैंकिंग शुल्क प्रति ग्राहक हर बार सुविधा के लिए 20 रुपये लेगा।

 

SBI Savings Plus Account : मिलता है ज्यादा ब्याज, जानिए बाकी फायदे

घट गयी ब्याज दरें

घट गयी ब्याज दरें

बचत खातों के लिए आईपीपीबी ने 1 जुलाई 2021 से ही ब्याज दरों में कटौती कर दी है। हालांकि यह खाते में आपके बैलेंस पर निर्भर है। पहले 1 लाख रुपये तक के बैलेंस पर 2.75 फीसदी ब्याज दर ऑफर की जा रही थी, जबकि इसे 1 जुलाई 2021 से घटा कर 2.5 प्रतिशत प्रति वर्ष कर दिया गया है। 1 लाख रुपये से 2 लाख रुपये तक की बैलेंस राशि पर मिलने वाली ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया है और खाताधारकों 2.75 प्रतिशत प्रतिवर्ष ब्याज दर मिलती रहेगी। खाताधारकों को तिमाही आधार पर ब्याज का भुगतान होता है।

कितनी है बैलेंस लिमिट
 

कितनी है बैलेंस लिमिट

आईपीपीबी एक पेमेंट बैंक है और आप यहां अधिकतम बैलेंस 2 लाख रु ही रख सकते हैं। पहले इन बैंकों के लिए यह सीमा 1 लाख रुपये थी। अब इसे बढ़ा कर 2 लाख रुपये कर दिया गया है। 2 लाख रुपये से ऊपर के बैलेंस को आप लिंक किए गए पोस्ट ऑफिस बचत खाते में डाल सकते हैं, जहां वर्तमान में प्रति वर्ष 4 प्रतिशत फीसदी ब्याज मिल रहा है।

जानिए इस खास फीचर के बारे में

जानिए इस खास फीचर के बारे में

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के बचत खाते का एक यूनीक फीचर है 'क्यूआर कार्ड के साथ बैंकिंग'। क्यूआर कार्ड का सबसे बड़ा लाभ यह है कि बैंकिंग एक्टिविटीज के लिए आपको अकाउंट नंबर या कोई पासवर्ड याद रखने की आवश्यकता नहीं होगी। खाताधारक के बायोमेट्रिक्स का उपयोग करके इनका वेरिफिकेशन किया जाएगा। आईपीपीबी खाते के माध्यम से एनईएफटी, आईएमपीएस और आरटीजीएस के फंड ट्रांसफर मोड का भी फायदा लिया जा सकता है।

पोस्ट ऑफिस के बढ़े चार्ज

पोस्ट ऑफिस के बढ़े चार्ज

बता दें कि इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक ने पोस्ट ऑफिस अकाउंट में कैश जमा करने और निकालने पर अतिरिक्त पैसे चार्ज लगाने का ऐलान किया था। नये शुल्क 1 अप्रैल 2021 से लागू हो चुके हैं। इसके सेविंग्स अकाउंट में एक महीने में चार बार तक कैश निकालने पर कोई शुल्क नहीं लगता। मगर इसके बाद प्रत्येक लेनदेन पर निकाली गई कुल राशि का 0.50 प्रतिशत या 25 रु शुल्क लिया जाता है।

इंडिया पोस्ट सेविंग अकाउंट और करंट अकाउंट

इंडिया पोस्ट सेविंग अकाउंट और करंट अकाउंट

बेसिक बचत खाते के अलावा यदि आपके पास बचत खाता या चालू खाता है तो आप बिना अतिरिक्त शुल्क दिए हर महीने 25,000 रुपये तक निकाल सकते हैं। हालांकि उसके बाद हर बार निकासी पर निकाली गई कुल राशि का 0.50 प्रतिशत या न्यूनतम 25 रुपये शुल्क आपसे लिया जाएगा।

English summary

IPPB will charge for this service will give less interest on savings as well

IPPB has cut interest rates for savings accounts with effect from July 1, 2021. However, it depends on your balance in the account.
Story first published: Tuesday, July 13, 2021, 19:02 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X