For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

PPF : बच्चे के लिए खोलना है खाता, तो चेक करें स्टेप-बाय-स्टेप प्रोसेस

|

Minor PPF Account: सरकार ने भारतीय नागरिकों को लंबी अवधि के बचत और निवेश में मदद पहुचानें के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि यानी की पीपीएफ को बनाया है। पीपीएफ में निवेश करने का मुख्य लाभ यह है कि इसमें ब्याज से कमाई गई राशि और निवेश किए गए धन पर टैक्स नहीं लगता है।

 

Ambani और Mittal की दम पर दुबई में आ रहा Property Boom, जानिए क्या हुआAmbani और Mittal की दम पर दुबई में आ रहा Property Boom, जानिए क्या हुआ

भारतीय नागरिकों के लिए है यह सुविधा

भारतीय नागरिकों के लिए है यह सुविधा

प्रत्येक योग्य भारतीय नागरिक निर्धारित नियमों के अनुसार एक सिंगल पीपीएफ खाता खोल सकता है। नाबालिग बच्चे के कानूनी अभिभावक के रूप में, माता-पिता अपने बच्चे के लिए एक पीपीएफ खाता खोल सकते हैं। यह बच्चे की उच्च शिक्षा या विवाह के लिए बचत करने का शानदार माध्यम है। आज हम आपकों अपने बच्चे के लिए पीपीएफ खाता खोलने संबंधित पूरी जानकारी देंगे।

पीपीएफ खाता क्या है
 

पीपीएफ खाता क्या है

पब्लिक प्रोविडेंट फंड जिसे पीपीएफ के नाम से भी जाना जाता है। यह भारत सरकार द्वारा नागरिकों को उपलब्ध कराया गया एक लॉग टर्म गारंटीकृत आय बचत योजना है। यह टैक्स लाभ के अलावा सेट और गारंटीड रिटर्न देता है। आयकर अधिनियम के 80C के तहत यह कर-बचत निवेशों में से एक है। पीपीएफ खाते को समय से पहले बंद नहीं किया जा सकता है। किसी विशिष्ट कारण में ही इसे बंद किया जा सकता है। पीपीएफ के मैच्योरिटी का कार्यकाल 15 वर्ष है। पांच साल के बाद जमाकर्ता अपने कुछ पैसे वापस ले सकते हैं। यह राशि 50 प्रतिशत तक हो सकती है। पीपीएफ योजना सम्मानजनक रिटर्न और आयकर लाभ के साथ निवेश करके बचत करन के लिए बनाई गई थी।

नाबालिगों के खाता खोलने के लिए पात्रता

नाबालिगों के खाता खोलने के लिए पात्रता

माइनर पीपीएफ अकाउंट खोलने के लिए पात्रता निचे बताई गई है।

- केवल भारत के निवासी सार्वजनिक भविष्य निधि के साथ खाता खोल सकते हैं और कर-मुक्त रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।
- केवल अभिभावक ही माइनर पीपीएफ खाता खोल सकते हैं।
- नाबालिग की ओर से एक प्राकृतिक या कानूनी अभिभावक को पीपीएफ खाते का प्रबंधन करना होता है।
- नाबालिग बच्चे के दादा-दादी पीपीएफ खाते का प्रबंधन नहीं कर सकते हैं। माता-पिता के मृत्यु हो जाने की स्थिति में ऐसा हो सकता है। इसके लिए उन्हें कानूनी अभिवावक नियुक्त होना पड़ेगा।
- पीपीएफ खाता खोलने की प्रक्रिया के लिए नामांकित व्यक्ति के पंजीकरण की आवश्यकता होती है।
- व्यक्ति न्यूनतम 500 रु. का वार्षिक अंशदान के साथ खाता खोल सकता है। नाबालिक के खाते में सालाना आधार पर 1.5 लाख रुपए जमा किए जा सकते हैं।

जरूरी दस्तावेज

- नाबालिग के माता-पिता या कानूनी अभिभावक की जानकारी के साथ पीपीएफ फॉर्म को भी पूरा भरें।
- खाता खोलने के लिए आवश्यक अभिभावक केवाईसी दस्तावेज (फोटो के साथ)।
- नाबालिग बच्चे के लिए आयु सत्यापन (आधार कार्ड या जन्म प्रमाण पत्र)।
- एक चेक कम से कम रु. 500 प्रारंभिक पीपीएफ खाता योगदान के रूप में जरूरी है।

पीपीएफ खाते में निवेश करके आप अपने बच्चे के भविष्य के लिए पैसे जुटा सकते हैं। यह एक बेहद ही लाभाकारी योजना है।

English summary

How to open PPF account for minor child

The government has created Public Provident Fund (PPF) to help Indian citizens in long-term savings and investments.
Story first published: Wednesday, October 19, 2022, 14:40 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X