For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

कमाल : शादी करो और 4.20 लाख रु पाओ, जानिए कहां

|

नयी दिल्ली। भारत में शादी पर बहुत अधिक खर्च किया जाता है। घर में चाहे शादी बेटी की या फिर बेटे की ये एक ऐसा मौका होता है जब पैसा खर्च करने में कोई कोताही नहीं बरती जाती। असल में शादी भारत में पूरे जीवन का एक खास अवसर माना जाता है। कुछ लोग तो निवेश करके पैसा भी शादी के लिए ही जोड़ते हैं। बल्कि अब तो कुछ फंड हाउस और फाइनेंस कंपनियां शादी पर खर्च करने के लिए निवेश को कहती हैं। मगर एक देश ऐसा भी है जहां आपको शादी पर उलटे पैसे मिलेंगे। जी हां जापान में शादी करने पर 4.20 रु की मदद की दी जाएगी। आइए जानते हैं इस स्कीम की पूरी हकीकत।

ये है जापान सरकार का मकसद
 

ये है जापान सरकार का मकसद

अगले साल अप्रैल से जापानी सरकार नव-विवाहितों को 600,000 येन (करीब 4.20 लाख रु) देना शुरू करेगी। इसके पीछे सरकार का मकसद देश की गिरती जन्म दर को बढ़ावा देना है। शादी पर पैसा देने की ये स्कीम जापान में नई नहीं है। अभी जापान में लगभग 281 नगर पालिकाएं उन नव-विवाहित जोड़ों को 300,000 येन (2.10 लाख रु) की मदद देती हैं, जिसमें दोनों (पति और पत्नी) की आयु 34 वर्ष या उससे कम हो और उनकी संयुक्त इनकम 48 लाख येन से ज्यादा न हो। नई स्कीम का फायदा उन लोगों को मिलेगा जो ऐसी नगरपालिका में रहते हैं जो जापान सरकार की "न्यू मैरिज लाइफ सपोर्ट प्रोजेक्ट" को स्वीकार करें।

बूढों का देश बन गया जापान

बूढों का देश बन गया जापान

असल में जापान बूढ़ों का देश का बन गया है। वहां की नौजवान पीढ़ी शादी करने से बचती या फिर बहुत देर से शादी करती है। इसलिए वहां जन्म दर काफी गिर रही है। इसीलिए सरकार इन पैसों से जापान में लोगों को शादी करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहती है ताकि वहां फिर से जन्म दर बढ़ सके। बता दें कि जापान में 100 से अधिक आयु वाले सबसे ज्यादा लोग रहते हैं।

कितनी है जन्म दर
 

कितनी है जन्म दर

पिछले साल जापान में जन्म दर 1.42 फीसदी थी, जिसके इस साल कुछ बढ़ कर 1.8 फीसदी रहने का अनुमान है। करीब 12.68 करोड़ की जनसंख्या वाले जापान में यदि जन्म दर की हालत ऐसी ही रही एक अनुमान के अनुसार 2040 तक वहां की कुल आबादी का 35 फीसदी से ज्यादा हिस्सा बुजुर्गों का होगा। इसी स्थिति से बचने के लिए सरकार इस विशेष योजना को लेकर आई है।

किसे मिलेगा फायदा

किसे मिलेगा फायदा

इस योजना का फायदा उठाने वाले कपल के लिए कुछ शर्तें हैं। पति-पत्नी की आयु 40 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए। इसके अलावा दोनों की मिला कर इनकम अधिकतम 38 लाख रु ही होनी चाहिए। वहीं जिस कपल की आयु 35 साल से कम रहेगी उनके लिए अधिकतम इनकम 33 लाख रु तय की गई है। ऐसे कपल को सरकार से 2.11 लाख रु मिलेंगे।

कितने बच्चों का हुआ जन्म

कितने बच्चों का हुआ जन्म

जापान लंबे समय से अपनी कम जन्म दर से जूझ रहा है। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार पिछले साल देश में जन्म लेने वाले बच्चों की अनुमानित संख्या 864,000 तक गिर गई, जो 1899 में रिकॉर्ड्स शुरू होने के बाद अब तक सबसे कम है। जन्म दर में इतनी बड़ी गिरावट के पीछे काफी हद तक जापानियों का देर से शादी करने या सिंगल रहना है।

पैसा न होना भी बड़ी वजह

पैसा न होना भी बड़ी वजह

कुछ साल सामने आए एक सर्वे में सामने आया था कि पैसों की कमी भी जापान में लोगों के शादी न करने की बड़ी वजह है। सर्व के अनुसार 25-34 साल के करीब 30 फीसदी गैर-शादीशुदा युवकों ने पैसों की कमी को शादी न करने की वजह बताया था। जबकि युवतियों में ये आंकड़ा 18 फीसदी रहा था।

आवास योजना : 1.75 लाख परिवारों को मिला अपना घर, पीएम मोदी ने कराया गृह प्रवेश

English summary

great Get married and get more than Rs 4 lakh know where

Actually Japan has become a country of old men. The young generation there would avoid getting married or marry too late. Therefore the birth rate is falling there.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X