For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

नौकरी के 15 महीनों में 5000 करोड़ रु का मालिक बना ये शख्स, जानिए कैसे

|

नई दिल्ली, अप्रैल 17। भारत में नौकरी की शुरुआत पर 15000-20000 रु मिलते हैं। अगर आपको किसी अच्छी जगह नौकरी मिल जाए तो हो सकता है कि आपकी सैलेरी 50-60 हजार रु तक हो। मगर किसी भी हाल में आप नौकरी शुरू होने के 15 महीनों बाद करोड़पति नहीं बन सकते। मगर एक व्यक्ति ऐसा है, जो नौकरी के 15 महीनो में 2-4 करोड़ रु नहीं पूरे 5000 करोड़ रु का मालिक बन गया है। जी हां यह फेक न्यूज नहीं, बल्कि सच है। जिस व्यक्ति की हम बात कर रहे हैं वो हैं सुरोजीत चटर्जी।

 

कहां करते हैं जॉब

कहां करते हैं जॉब

सुरोजीत भारत नहीं बल्कि 15 महीने पहले एक अमेरिकी कंपनी से जुड़े थे। ये कंपनी कोई आम कंपनी नहीं बल्कि क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज है। कॉइनबेस नाम का यह एक्ससेंज हाल ही में अमेरिकी शेयर सूचकांक नैस्डैक पर लिस्ट हुआ है। लिस्ट होने के साथ ही इसकी वैल्यू काफी बढ़ी, जिससे सुरोजीत की संपत्ति में जबरदस्त तेजी देखी गयी और वे लगभग 5000 करोड़ रु (64.6 करोड़ डॉलर) क मालिक बन गए।

कितनी थी हिस्सेदारी
 

कितनी थी हिस्सेदारी

सुरोजीत कॉइनबेस में चीफ प्रोडक्ट ऑफिसर हैं। कॉइनबेस अमेरिका का सबसे बड़ा क्रिप्टो एक्सचेंज है। वे फरवरी 2020 में कॉइनबेस से जुड़े थे। कॉइनबेस की लिस्टिंग वाले दिन सुरोजीत की कॉइनबेस में हिस्सेदारी की वैल्यू लगभग 18.08 करोड़ डॉलर की थी। जबकि अगले 5 सालों में उन्हें जो शेयर ऑप्शन मिलेंगे उनकी वैल्यू 46.55 करोड़ रु है। कॉइनबेस ने आईपीओ के पारंपरिक रूट के बजाय, जिसमें नए शेयर क्रिएट किए जाते हैं और निवेशकों को बेचे जाते हैं, कंपनी ने डायरेक्ट लिस्टिंग का फैसला किया, जिसमें मौजूदा शेयरधारक कंपनी के शेयरों को सीधे एक्सचेंज पर बेच सकते हैं।

गूगल में रहे हैं अधिकारी

गूगल में रहे हैं अधिकारी

सुरोजीत गूगल में एक्जेक्यूटिव रहे हैं। इसके बाद उन्होंने कॉइनबेस के संस्थापकों के साथ काम करने का फैसला लिया। सुरोजीत और कॉइनबेस के 2 संस्थापकों की कुल संपत्ति इस समय 16 अरब डॉलर से ज्यादा है। कॉइनबेस की लिस्टिंग काफी रोमांचक रही। कॉइनबेस का शेयर 381 डॉलर पर लिस्ट हुआ, जिससे इसकी वैल्यू 100 अरब डॉलर के करीब हो गयी। मगर बाद में यह 328.28 डॉलर पर बंद हुआ। मगर इससे पहले कॉइनबेस के शेयर ने 430 डॉलर का आंकड़ा छुआ।

आईआईटी पास आउट हैं सुरोजीत

आईआईटी पास आउट हैं सुरोजीत

आईआईटी खड़गपुर से ग्रेजुएट सुरोजीत फ्लिपकार्ट में हेड ऑफ प्रोडक्ट रहे हैं। साथ ही उन्होंने प्रोडक्ट मैनेजमेंट, यूजर एक्सपीरियंस, प्रोडक्ट ऑपरेशन और डेटा साइंस की भी जिम्मेदारी संभाली। फ्लिपकार्ट से पहले सुरोजित गूगल के मोबाइल सर्च एड प्रोडक्ट के संस्थापक सदस्य रहे हैं। बैंगलोर स्थित कंपनी में उनके अनुभव से कॉइनबेस के संस्थापक प्रभावित हुए।

कॉइनबेस में कैसे करें निवेश

कॉइनबेस में कैसे करें निवेश

कॉइनबेस कोई क्रिप्टोकरेंसी नहीं, बल्कि क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज है। अहम बात ये है कि कॉइनबेस खुद एक एक्सचेंज होने के बावजूद अमेरिकी स्टॉक एक्सचेंज नैस्डैक पर लिस्ट हो गया है। भारतीय निवेशक भले ही बिटकॉइन या किसी अन्य क्रिप्टोकरेंसी में निवेश न कर सकें, मगर कॉइनबेस में निवेश कर सकते हैं। भारतीय निवेशक Stockal के जरिए बेसकॉइन में निवेश कर सकते हैं। अगर आप बेसकॉइन में निवेश करना चाहें तो Stockal.com के माध्यम से Coinbase में पैसा लगा सकते हैं। आप Stockal पर खाता बनाएं और फिर उसमें पैसे क्रेडिट करके न सिर्फ कॉइनबेस बल्कि सभी ग्लोबल शेयरों और बाकी एसेट में निवेश कर सकेंगे।

किस्मत : लगी 9 करोड़ रु की लॉटरी, पर खो गया टिकट, फिर मिला तो लौटी चेहरे पर मुस्कान

English summary

coinbase surojit chatterjee became owner of Rs 5000 crores in 15 months of job know how

Surojit was associated with an American company 15 years ago, not India. This company is not a common company but a cryptocurrency exchange. This exchange named Coinbase has recently been listed on the US stock index Nasdaq.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X