For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Budget 2021 : बढ़ सकती है NPS पर टैक्स छूट, जानिए कितना मिलेगा फायदा

|

नयी दिल्ली। बजट पेश होने में कुछ ही दिन रह गए हैं। ऐसे में अनुमान लगाये जा रहे हैं कि किस सेक्टर को क्या बेनेफिट मिल सकते हैं। इस बीच ये भी संभावना बन रही है कि बजट 2021 में नेशनल पेंशन स्कीम (एनपीएस) के संबंध में बड़ा ऐलान किया जा सकता है। अनुमान है कि बजट में प्राइवेट सेक्टर में काम करने वालों के लिए भी एनपीएस में टैक्स छूट को 14 फीसदी हिस्सेदारी तक बढ़ाया जा सकता है, जो फिलहाल 10 फीसदी हिस्सेदारी तक सीमित है। पीएफआरडीए की तरफ से केंद्र सरकार से एनपीएस के तहत मिलने वाली टैक्स छूट बढ़ाने की सिफारिश की गई है।

 

सरकारी कर्मचारियों को ज्यादा छूट

सरकारी कर्मचारियों को ज्यादा छूट

बता दें कि एनपीएस के तहत प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों के मुकाबल सरकारी कर्मचारियों को ज्यादा छूट मिलती है। सरकारी कर्मचारियों को धारा 80 सीसीडी (2) के तहत एनपीएस की 14 फीसदी हिस्सेदारी तक की कटौती का फायदा मिलता है। मगर प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों लिए ये लिमिट 10 फीसदी है। गौरतलब है कि एनपीएस को ज्यादा आकर्षक बनाने के लिए पीएफआरडी ने टैक्स छूट एक समान करने की सिफारिश की है।

सरकार से उम्मीदें बहुत

सरकार से उम्मीदें बहुत

एनपीएस स्कीम के तहत टैक्स छूट प्राइवेट सेक्टर और सरकारी कर्मचारियों के लिए असमानता की तरह है, जिसे पीएफआरडीए दूर करना चाहती है। पीएफआरडीए ने इस मामले पर केंद्र सरकार और वित्त मंत्रालय दोनों से सिफारिश की है। जानकार मान रहे हैं कि इस बार प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों लिए एनपीएस के तहत टैक्स छूट बढ़ाए जाने की संभावना काफी अधिक है।

और भी हैं सिफारिशें
 

और भी हैं सिफारिशें

इतना ही नहीं पीएफआरडीए ने टीयर-1 में धारा 80सीसीडी(1बी) के तहत टैक्स छूट की सीमा को 50000 रु से बढ़ा कर 1 लाख रुपये करने और एनपीएस के टीयर-2 के पेंशनरों को इनकम टैक्स की धारा 80सी के तहत छूट देने की सिफारिश भी कर दी है। हिंदुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार पीएफआरडी की सिफारिशों पर वित्त मंत्रालय ने चर्चा भी की है।

एनपीएस के फायदे

एनपीएस के फायदे

एनपीएस में शानदार रिटर्न मिलता है। साथ ही इसमें टैक्स छूट का फायदा भी है, जिसके चलते एनपीएस निवेशकों की संख्या तेजी से बढ़ी है। प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारी चाहें तो इस पेंशन स्कीम से जुड़ सकते हैं। पेंशन के मामले में इसी वर्ग में चिंता थी। सरकारी कर्मचारियों को पहले से ही पेंशन मिलती है। सरकार ने 1 जनवरी 2004 को एनपीएस शुरू की थी।

2009 से सभी के लिए खुली

2009 से सभी के लिए खुली

2009 से यह योजना सभी के लिए खुल गई है। एनपीएस में आप एकमुश्त या हर महीने निश्चित राशि का निवेश कर सकते हैं। एनपीएस रिटायरमेंट के लिए बचत ऑप्शन के रूप में काफी पसंद किया जाने वाला ऑप्शन है।

Budget 2021 : PM Kisan Scheme पर बड़ा ऐलान संभव, जानिए पूरी डिटेल

English summary

Budget 2021 Tax exemption on NPS may increase know how much will be gained

In the budget, the tax exemption in NPS can also be increased to 14 per cent share for those working in the private sector, which is currently limited to 10 per cent share.
Story first published: Sunday, January 10, 2021, 17:02 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X