For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

बड़ी खबर : Post Office स्कीमों की ब्याज दरों में नहीं हुआ बदलाव, चेक करें रेट

|

नई दिल्ली, जून 30। सरकार ने वित्त वर्ष 2022-23 की जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए छोटी बचत ब्याज दरों को फिर से अपरिवर्तित रखा है। वित्त मंत्रालय ने यह घोषणा 30 जून, 2022 को एक सर्कुलर के माध्यम से की। 30 सितंबर, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए, सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) और सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई) जैसी छोटी बचत योजनाओं पर निवेशकों को वही ब्याज दर मिलती रहेगी, जो वे अब तक प्राप्त कर रहे थे। जुलाई-सितंबर 2022 तिमाही के दौरान इन योजनाओं में किए गए नए निवेश पर भी पिछली तिमाही की तरह ही ब्याज दर मिलेगी।

 

SBI में भी खुलता है PPF Account, पर पहले जानें ये काम की बातें

10वीं तिमाही में बदलाव नहीं

10वीं तिमाही में बदलाव नहीं

वित्त वर्ष 2022-23 की दूसरी तिमाही के लिए पोस्ट ऑफिस स्कीमों की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। लगातार 10वीं तिमाही में पोस्ट ऑफिस की बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

पोस्ट ऑफिस की बचत योजनाओं की ब्याज दरें :
- बचत खाता : 4 फीसदी
- 1 वर्षीय टाइम डिपॉजिट : 5.5 फीसदी
- 2 वर्षीय टाइम डिपॉजिट : 5.5 फीसदी
- 3 वर्षीय टाइम डिपॉजिट : 5.5 फीसदी

कुछ और योजनाओं की ब्याज दरें जानिए :
 

कुछ और योजनाओं की ब्याज दरें जानिए :

- 5 वर्षीय टाइम डिपॉजिट : 6.7 फीसदी
- 5 वर्षीय रेकरिंग डिपॉजिट : 5.8 फीसदी
- 5 वर्षीय सीनियर सिटीजेन सेविंग्स स्कीम : 7.4 फीसदी
- 5 वर्षीय मासिक आय खाता : 6.6 फीसदी

अन्य योजनाओं की ब्याज दरें :
- 5 वर्षीय नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट : 6.8 फीसदी
- पीपीएफ : 7.1 फीसदी
- किसान विकास पत्र : 6.9 फीसदी (124 महीनों में मैच्योर)
- सुकन्या समृद्धि योजना : 7.6 फीसदी

आखिरी बार कब घटी थी दरें

आखिरी बार कब घटी थी दरें

बता दें कि आखिरी बार अप्रैल-जून 2020 में सरकार की तरफ से छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कटौती की गयी थी। उसके बाद से इनमें कोई कमी या बढ़ोतरी नहीं हुई। तब 70-140 बेसिस पॉइंट्स की कटौती की गई थी।

ऐसे तय होती हैं दरें
सरकार हर तीन महीनों में इन छोटी बचत योजनाओं पर दी जाने वाली ब्याज दरों की समीक्षा करती है। छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों को तय करने का फॉर्मूला श्यामला कमेटी ने दिया था। कमेटी ने यह सुझाव दिया था कि विभिन्न योजनाओं पर ब्याज दर समान परिपक्वता अवधि वाले सरकार के बॉन्ड्स के यील्ड से 0.25 फीसदी से लेकर 1 फीसदी अधिक होना चाहिए।

English summary

Big news There is no change in the interest rates of Post Office schemes

Fresh investments made in these schemes during the July-September 2022 quarter will also attract the same rate of interest as the previous quarter.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X