For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Ice Chamber वाला Cooler लेता है AC से टक्कर, कीमत भी बेहद कम

|

नयी दिल्ली, अप्रैल 12: गर्मियां आ गयी हैं और तापमान लगातार बढ़ता जा रहा है। यानी कूलर और एसी का मौसम आ गया है। हालांकि एसी बहुत महंगे हो सकते हैं और हर महीने बिजली के बिल के रूप में आपकी जेब पर भारी बोझ डाल सकते हैं। इसलिए अगर आप एसी नहीं खरीद सकते और हर महीने भारी बिल से भी बचना चाहते हैं तो कूलर ही खरीदें। पर आम कूलर ऐसे नहीं होते, जो मई-जून की गर्मियों में आपको राहत दे सकें। आप सोचेंगे कि भला कूलर कैसे भारी गर्मियों का सामना कर सकते हैं। तो बता दें कि अब नई तकनीक वाले कूलर भी मार्केट में आ गए हैं। इनमें सबसे बेस्ट है आइस चेंबर वाला कूलर, जो ठंडक के मामले में एसी से टक्कर ले सकता है।

 

खरीदें एयर कूलर

खरीदें एयर कूलर

हम यहां बात करेंगे एयर कूलर की, जिनमें आइस चेंबर भी होता है। एयरकूलर में अब एसी जैसी तकनीक मिलती हैं। जैसे कि आप एयर कूलर को रिमोट से ही कंट्रोल कर सकेंगे। ये कूलर बिजली की कम खपत के साथ-साथ बहुत तेजी से कूलिंग करते हैं। नये जमाने के कूलरों को स्पीड रिमोट से ही कम-ज्यादा की जा सकती है। साथ ही अब तो एसी की तरह कूलर को भी वाई-फाई से कनेक्ट किया जा सकता है। एक बार वाई-फाई से कनेक्ट करके आप कूलर को मोबाइल ऐप से कंट्रोल कर सकते हैं।

क्या होता है आइस चेंबर
 

क्या होता है आइस चेंबर

अब जानते हैं आइस चेंबर के बारे में। दरअसल नये जमाने के जो एयर कूलर हैं उनमें ऊपरी हिस्से में एक आइस चेंबर दिया गया होता है। इसका काम यह होता है कि जब गर्मी ज्यादा हो तो आप इस आइस चेंबर में बर्फ डाल सकते हैं। फिर कूलर का पानी इसी आइस चेंबर में जाएगा और पैड से होता हुआ वापस कूलर की टंकी में आ जाएगा। इससे कूलर के पैड बहुत ज्यादा ठंडे हो जाएंगे। नतीजे में आपको एसी जैसी ठंडी हवा मिलेगी।

कितनी है कीमत

कितनी है कीमत

जिन कंपनियों ने आइस चेंबर वाले एयर कूलर मार्केट में उतारे हैं, उनमें ओरिएंट, केनस्टार, सिम्फनी, वोल्टास, क्रॉम्पटन और हिंडवेयर शामिल हैं। कीमत की बात करें तो ऐसे कूलर बहुत अधिक महंगे नहीं हैं। आइस चेंबर वाले कूलर आपको 5500 रु से 10500 रु तक की रेंज में मिल जाएंगे। यानी एसी की तुलना में आइस चेंबर कूलर का दाम सिर्फ एक-तिहाई तक है।

दूर तक मिलेगी हवा

दूर तक मिलेगी हवा

कूलर की हवा दूर तक जाए ये भी आप चाहेंगे। तो बता दें कि अब कूलर में थ्रस्ट नाम की खास तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है। इससे होता ये है कि आपको 40 फुट से ज्यादा दूर तक ठंडी हवा मिलेगी। कूलर से 50 फीट दूर बैठने वाले को भी गर्मी से राहत मिलेगी। एक और नयी टेक्नोलॉजी कूलरों में आ रही है। वो ये कि जब कमरा ज्यादा ठंडा हो जाएगा तो आपका कूलर पानी की मोटर बंद कर देगा और फैन की रफ्तार कम कर देगा। इससे बिजली की कम खपत होगी।

अपने आप बढ़ेगी स्पीड

अपने आप बढ़ेगी स्पीड

अगर आपके कमरे का तापमान बढ़ने लगेगा तो कूलर भी फैन की रफ्तार बढ़ा देगा, जिससे फिर से ज्यादा कूल हवा मिलने लगेगी।

AC खरीदने का है प्लान तो पहले जानिए जरूरी टिप्स, फायदे में रहेंगे

English summary

Air Cooler with Ice Chamber takes on AC price is too low

AC-like technology is now available in air coolers. As such, you will be able to control the air cooler from remote. These coolers produce very fast cooling along with low power consumption.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X