For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

MSME : 63 कंपनियां देंगी IPO के जरिए कमाई का मौका, पैसा रखें तैयार

|

नई दिल्ली, मई 27। सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) सेक्टर आपके लिए कमाई का मौका लेकर आने वाला है। इस सेक्टर की कंपनियों में आपके पास निवेश करने का मौका होगा। बता दें कि 60 से अधिक छोटे और मध्यम उद्यमों (एसएमई) अपनी कारोबारी जरूरतों को पूरा करने के लिए इक्विटी फंड जुटाने की तैयारी हैं। इसके लिए चालू वित्त वर्ष में ये सभी कंपनियां आईपीओ लाएंगी। निवेशकों के पास इन कंपनियों के आईपीओ में पैसा लगा कर तगड़ा मुनाफा कमाने का मौका होगा। ये कंपनियां बीएसई के एसएमई प्लेटफॉर्म पर लिस्ट होंगी। पिछले साल केवल 16 एसएमई ने आईपीओ रूट का इस्तेमाल किया था और 100 करोड़ रुपये जुटाए थे।

 

कैसे चुनें करोड़पति बनाने वाले शेयर, जानिए बढ़िया टिप्स

कैसे करें निवेश

कैसे करें निवेश

एसएमई आईपीओ में निवेश के लिए आपको किसी भी बैंक का नेट बैंकिंग अकाउंट या ऑनलाइन ट्रेडिंग तक एक्सेस वाला डीमैट खाता होना चाहिए। इसके बाद निवेशकों को उस आईपीओ को चुनना होगा जिसमें वह निवेश करना चाहते हैं। डीमैट खाता शेयर बाजार में निवेश के लिए जरूरी है। बिना डीमैट खाते के आप शेयर बाजार में निवेश नहीं कर सकते।

337 कंपनियां है लिस्ट
 

337 कंपनियां है लिस्ट

बीएसई एसएमई पहला एसएमई प्लेटफॉर्म बन गया है, जहां 400 एसएमई ने आईपीओ के लिए आवेदन दाखिल किए गए हैं। इनमें से 337 पहले ही लिस्ट हो चुकी हैं और बाकी 63 को एक साल के समय में लिस्ट किया जाएगा। बीएसई एसएमई छोटी कंपनियों के लिए शेयर बाजार में लिस्ट होने की अच्छा जगह है। पिछले साल एक्सचेंज की तरफ से उठाए गए कई कदमों के चलते हर महीने एक एसएमई कंपनी प्लेटफॉर्म पर लिस्ट हुई। महामारी के दौरान एक्सचेंज ने इक्विटी फंडिंग और लिस्टिंग के लाभ के बारे में एसएमई के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए लगभग 150 वेबिनार का आयोजन किया था।

किन सेक्टरों की कंपनियां होंगी लिस्ट

किन सेक्टरों की कंपनियां होंगी लिस्ट

जो 63 कंपनियां इस वित्त वर्ष में बीएसई एसएमई पर आईपीओ के बाद लिस्ट होंगी, वे कई अलग-अलग सेक्टरों में से हैं। इनमें आईटी, ऑटोमोटिव कंपोनेंट्स, फार्मा, इंफ्रास्ट्रक्चर और हॉस्पिटैलिटी शामिल हैं। आईपीओ इश्यू के माध्यम से जुटाई गई राशि का उपयोग ये कंपनियां बिजनेस प्लान्स को बढ़ाने, कैपिटल एक्सपेंडिचर और अन्य सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों के लिए करेंगी।

बीएसई एसएमई कब हुआ लॉन्च

बीएसई एसएमई कब हुआ लॉन्च

बीएसई ने मार्च 2012 में एसएमई फर्मों को विकास और विस्तार के लिए पूंजी जुटाने का अवसर देने के लिए एसएमई प्लेटफॉर्म लॉन्च किया था। तब से कुल 337 कंपनियां इसके एसएमई सेगमेंट में लिस्ट हुईं और इन्होंने मार्केट से 3,500 करोड़ रुपये जुटाए। इन कंपनियों की अब कुल मार्केट कैपिटल 26,300 करोड़ रुपये से अधिक है। इस प्लेटफॉर्म पर छोटी कंपनियों की लिस्टिंग से उन्हें अपनी ब्रांड बिल्डिंग में मदद मिलती है। इसके अलावा उनकी क्रेडिट रेटिंग में सुधार होता है। साथ ही वे आसानी से फाइनेंस जुटा पाती है, जो उनकी ग्रोथ के लिए जरूरी है।

बीएसई स्टार्टअप प्लेटफॉर्म

बीएसई स्टार्टअप प्लेटफॉर्म

बीएसई एसएमई प्लेटफॉर्म पर लिस्ट हुई 337 फर्मों में से 99 मैन बोर्ड प्लेटफॉर्म पर चली गई हैं। इसके अलावा लगभग 10-12 कंपनियां बीएसई स्टार्टअप प्लेटफॉर्म पर लिस्टेड हैं, जिसे दिसंबर 2018 में लॉन्च किया गया था। इस प्लेटफॉर्म को योग्य स्टार्टअप के लिए उन्हें बाजार से पूंजी जुटाने का मौका देने के लिए शुरू किया गया था।

English summary

MSME 63 companies will give opportunity to earn through IPO keep money ready

BSE SMEs have become the first SME platform, where 400 SMEs have filed applications for IPOs. Of these, 337 have already been listed and the remaining 63 will be listed in a year's time.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X