For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Amazon करेगी MSME की निर्यात में मदद, इन कारोबारियों को होगा फायदा

|

नयी दिल्ली। कर्नाटक सरकार ने राज्य के ई-कॉमर्स निर्यात को बढ़ाने में मदद के लिए वैश्विक ई-कॉमर्स दिग्गज अमेज़न इंडिया के साथ एक समझौता किया है। समझौते के तहत अमेजन राज्य के एमएसएमई (सूक्ष्म और लघु और मध्यम उद्यम) को ट्रेन करेगी और अपने एक्सपोर्ट्स प्रोग्राम 'अमेजन ग्लोबल सेलिंग' प्लेटफॉर्म पर शामिल करेगी। इससे राज्य के एमएसएमई कारोबारी अपने स्पेशल मेड इन इंडिया प्रोडक्ट्स को दुनिया भर में अमेज़न के लाखों वैश्विक ग्राहकों को बेच सकेंगे। कर्नाटक सरकार और अमेजन के इस समझौते से राज्य के छोटे और मध्य कारोबारियों को फायदा मिलने की उम्मीद है।

 

इन सेक्टरों में कर्नाक का बोलबाला

इन सेक्टरों में कर्नाक का बोलबाला

कर्नाटक के बड़े और मध्यम उद्योग मंत्री जगदीश शेट्टार के मुताबिक राज्य के कृषि, कपड़ा और परिधान, बायोटेक, और खिलौने / हस्तशिल्प सेक्टर काफी प्रगति वाले हैं। इन सेक्टरों को लाखों एमएसएमई ही एकजुट रखती हैं। अमेज़न इंडिया के साथ साझेदारी से एमएसएमई अमेज़न की वैश्विक उपस्थिति का लाभ उठा सकेंगे और पूरी दुनिया के ग्राहकों तक अपने उत्पाद पहुंचा सकेंगे।

मैन्युफैक्चरिंग और इनोवेशन

मैन्युफैक्चरिंग और इनोवेशन

शेट्टार के अनुसार यह राज्य के मैन्युफैक्चरिंग और इनोवेशन कौशल की ताकत को प्रदर्शित करने का भी एक प्रयास है। राज्य सरकार कर्नाटक को एक आकर्षक व्यवसाय और निवेश डेस्टिनेशन बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। अमेज़न बेल्लारी, मैसूर और चन्नापटना जैसे प्रमुख एमएसएमई कल्सटरों में निर्यातकों के लिए ट्रेनिंग, वेबिनार और ऑनबोर्डिंग वर्कशॉप्स आयोजित करेगी।

बी-टू-सी ई-कॉमर्स एक्सपोर्ट्स
 

बी-टू-सी ई-कॉमर्स एक्सपोर्ट्स

अमेजन द्वारा आयोजित की जाने वाली वर्कशॉप्स में नोलेज शेयरिंग करने और बी-2-सी ई-कॉमर्स निर्यात के बारे में ट्रेनिंग दी जाएगी। साथ ही बताया जाएगा कि कैसे छोटे कारोबारी अमेजन के 17 अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में 30 करोड़ से अधिक ग्राहकों को अपना प्रोडक्ट बेच सकते हैं। इन वर्कशॉप्स में एमएसएमई को अपने ब्रांड्स को लॉन्च करने के लिए जानकारी और टूल का इस्तेमाल करना और अमेज़न ग्लोबल सेलिंग के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में अपना व्यवसाय बढ़ाने पर फोकस किया जाएगा।

कर्नाटक की ये चीजें हैं वर्ल्ड फेमस

कर्नाटक की ये चीजें हैं वर्ल्ड फेमस

कर्नाटक के पास एक समृद्ध सांस्कृतिक और पारंपरिक विरासत है। कर्नाटक में बिडरवेयर, चन्नपटना खिलौने और किन्नल शिल्प कई भौगोलिक संकेत उत्पाद हैं। साथ ही मैसूर सिल्क, उडुपी कपास और इलकल साड़ी वर्ल्ड फेमस हैं। इससे राज्य के कारीगरों, बुनकरों और शिल्पकारों को अपनी आजीविका को आगे बढ़ाने में काफी मदद मिलेगी।

ये है अमेजन की तैयारी

ये है अमेजन की तैयारी

अमेज़न पर कर्नाटक के 50 प्रतिशत से अधिक विक्रेता टियर-2 शहरों और उससे आगे के हैं। राज्य सरकार ने अमेजन को बेंगलुरु के अलावा राज्य के अन्य हिस्सों में अपना विस्तार करने के लिए आमंत्रित किया है। इससे बाकी हिस्सों के कारोबारी भी अमेजन के साथ जुड़ सकेंगे।

MSME : यस बैंक की खास पहल, बिना गारंटी मिलेगा 5 करोड़ रु तक का Loan

English summary

Amazon will help MSME in export these traders will get benefit

MSME traders will be able to sell their special Made in India products to millions of Amazon's global customers worldwide. This agreement between the Government of Karnataka and Amazon is expected to benefit small and medium traders of the state.
Story first published: Saturday, January 30, 2021, 17:56 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X