For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

कमाई का मौका : शुरू करें LED लाइट बनाना, जानें पूरा तरीका

|

नई द‍िल्‍ली: मौजूदा हालात हो देखते हुए पूरी दुनिया में चिंताजनक माहौल बना हुआ है। कई लोगों की नौकरियों पर भी खतरा मंडरा रहा है। ज्यादातर लोग आज इस चिंता में डूबे हैं कि उनका काम-काज कैसे चलेगा। ऐसे में आर्थिक मंदी की मार जबरदस्त है। तो अगर आप भी खुद के बि‍जनेस का ऑप्शन देख रहे तो आज ही ये खबर जरुर पढ़ें। Solar Panel : म‍िलेगी Free में बिजली और पैसे कमाने का मौका भी ये भी पढ़ें

 

कमाई का मौका : शुरू करें LED लाइट बनाना, जानें पूरा तरीका

आप अपना एलईडी लाइट बनाने का कारोबार शुरू कर सकते है। इसमें जमकर पैसा बरसेगा। देश में एलईडी बल्ब की डिमांड तेजी से बढ़ रही है। बता दें कि एलईडी को लाइट एमिटिंग डायोड कहते है। जब इलेक्ट्रॉन अर्धचालक पदार्थ से होकर गुजरता है तो छोटे कणों को रोशनी प्रदान करता है, जिन्हें एलईडी कहा जाता है। यह सबसे ज्यादा उर्जा और रोशनी देता है। खास बात ये है कि एलईडी बल्ब को रिसाइकिल किया जा सकता है। एलईडी में सीएफएल (सीएफएल) बल्बों की तरह पारा (mercury) नहीं होता है, लेकिन इसमें लेड और निकल जैसे घटक शामिल होते है।

 शुरू करें अपना बिजनेस

शुरू करें अपना बिजनेस

ऐसे में, अगर आप अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो एलईडी बल्ब का बिजनेस शुरू कर सकते हैं। मिनिस्ट्री ऑफ माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज के तहत कई संस्थान एलईडी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग दे रहे हैं। एलईडी लाइट का व्यापार कई तरह से किया जा सकता है। इसकी ट्रेडिंग से भी अच्छा ख़ासा लाभ कमाया जा सकता है। इसके लिए आपको सबसे पहले किसी इलेक्ट्रोनिक अथवा जनरल मार्केट में एक दूकान किराए पर लेना पड़ेगा। यदि आपके पास कोई ऐसी जगह है, जो दूकान बन सकती है, तो किराए का पैसा बचाने के लिए उस जगह पर ही दूकान कर लें। इस स्थान की आवश्यक फर्निशिंग के बाद आप यहाँ पर एलईडी बेचने का काम शुरू कर सकते हैं। यहाँ पर एलईडी बेचने के लिए आप किसी होलसेलर या सप्लायर से एलईडी प्राप्त कर सकते हैं।

 बिजली की होती है कम खपत
 

बिजली की होती है कम खपत

एलईडी बल्ब सीएफएल की तुलना में कम बिजली खपत करता है। सीएफएल से एक वर्ष में करीब 80% की ऊर्जा लागत होती है। एलईडी बल्ब सीएफएल की तुलना में महंगा होता है। एक एलईडी बल्ब की लाइफ आमतौर पर 50000 घंटे या अधिक होती है जबकि सीएफएल सीएफएल बल्ब की 8000 घंटे तक ही होती है। एलईडी बल्ब टिकाऊ और लंबे समय तक चलता है।

 जानि‍ए कितना है कोर्स की फीस

जानि‍ए कितना है कोर्स की फीस

दिल्ली के पश्चिम विहार स्थित भारती विद्यापीठ डीम्ड यूनिवर्सिटी एलईडी बल्ब बनाने का एक कोर्स करवाती है। मालूम हो कि करीब 5000 रुपए इस कोर्स की फीस रखी गई है। यहां आपको एलईडी के बारे में हर बारीक से बारीक जानकारी दी जाएगी और एलईडी बनाने के तरीकों के बारे में बताया जाएगा। एलईडी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग के दौरान आपको बेसिक आफ एलईडी, बेसिक ऑफ पीसीबी, एलईडी ड्राइवर, फिटिंग-टेस्टिंग, मैटेरियल की खरीद, मार्केटिंग, सरकारी सब्सिडी स्कीम आदि के बारे में बताया जाएगा।

 ऐसे करें अप्लाई

ऐसे करें अप्लाई

बता दें कि इस तरह के व्यापार को शुरू करने के लिए कम से कम 1.5 से 2 लाख रुपए की आवश्यकता पड़ती है। हालाँकि दूकान अच्छे से चलने पर इससे प्रति महीने 20,000 से 3,00,000 का मुनाफा प्राप्त हो सकता है, अतः 2 लाख के निवेश से प्रति महीने कम से कम 20,000 कमाने का ये एक उत्तम व्यापार है। अगर आप ट्रेनिंग लेकर एलईडी बल्ब बनाने का खुद का बिजनेस शुरु करना चाहते हैं तो आप 99711-2866, 82175-82663 या 88066-14948 पर कॉल कर सकते हैं।

English summary

Start Your LED Light Making Business

If you want to start your business, you can start the LED bulb business. There will be good earnings every month.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X