For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

IDFC First Bank : बचत खाते से हर महीने रेगुलर कमाई करने का मौका, जानिए कैसे

|

नई दिल्ली, जुलाई 18। आईडीएफसी फर्स्ट बैंक अपने सभी बचत बैंक खातों पर मासिक ब्याज क्रेडिट सुविधा ऑफर कर रहा है। यानी आपको अपने बचत खाते में बैलेंस पर हर महीने ब्याज मिलेगा। ये नियम बैंक की तरफ से 1 जुलाई से प्रभावी कर दिया गया है। बैंक के ग्राहकों के बचत खाते में ब्याज मासिक आधार पर जमा किया जाएगा। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के नियमों के अनुसार बैंक जमाकर्ताओं के खातों में तिमाही आधार पर ब्याज जमा करते हैं। हालांकि ब्याज को मासिक आधार पर क्रेडिट करने के लिए भी स्वतंत्र हैं।

 

Post Office : 5 साल में मिलेगा 6 लाख रु का ब्याज, ये है स्कीम

हर रोज होगी ब्याज की कैल्कुलेशन

हर रोज होगी ब्याज की कैल्कुलेशन

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के ग्राहकों के बचत खाते पर ब्याज दर की कैल्कुलेशन डेली बैलेंस के आधार पर की जाएगी। इस तरह मिलने वाला कुल ब्याज मासिक आधार पर उनके बचत खाते में जमा किया जाएगा। इस बात की जानकारी आईडीएफसी फर्स्ट बैंक ने अपनी वेबसाइट पर दी है। आम तौर पर, एफडी के मामले में, बैंक मासिक, तिमाही, वार्षिक सहित विभिन्न अवधियों में ब्याज क्रेडिट करने की पेशकश करते हैं, मगर बचत खाते पर ऐसी सुविधा नहीं दी जाती।

क्या होगा फायदा
 

क्या होगा फायदा

ब्याज को मासिक आधार पर क्रेडिट किया जाने से जमाकर्ताओं को तिमाही या वर्ष के अंत तक का इंतजार करने के बजाय जल्दी ब्याज राशि हासिल करने में मदद मिलेगी। आईडीएफसी फर्स्ट बैंक की वेबसाइट के अनुसार, बैंक ने अपने सभी बचत खाता ग्राहकों के लिए 1 जुलाई 2021 से मासिक क्रेडिट सुविधा को एक्टिव कर दिया है। बैंक के अनुसार कोई भी मासिक ब्याज क्रेडिट और तिमाही ब्याज क्रेडिट के बीच ऑप्शन नहीं चुन सकता। सभी बचत खाता ग्राहकों को डिफ़ॉल्ट रूप से मासिक ब्याज क्रेडिट की पेशकश की जाएगी।

कितना ज्यादा ब्याज मिलेगा

कितना ज्यादा ब्याज मिलेगा

जानकारों के अनुसार कम्पाउंडिंग के कारण ग्राहकों की ब्याज इनकम में वृद्धि बेहद मामूली रहने की संभावना है। बचत खातों पर 3 फीसदी की औसत ब्याज दर को ध्यान में रखते हुए गणना करें तो आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के ग्राहकों को तिमाही ब्याज के मुकाबले मासिक आधार पर 0.0074% ब्याज अधिक मिलेगा। ये लाभ मामूली है, मगर जमाकर्ताओं के लिए लाभ तो है ही।

सेवाओं में कोई बदलाव नहीं होगा

सेवाओं में कोई बदलाव नहीं होगा

बैंक के बचत खाते पर मिलने वाली सेवाओं और सुविधाओं में कोई बदलाव नहीं होगा। बैंक ने कहा कि यह सुविधा ग्राहकों के फायदे के लिए उपलब्ध कराई जा रही है ताकि उन्हें अपने बचत खातों में ब्याज क्रेडिट प्राप्त करने के लिए तीन महीने तक इंतजार न करना पड़े। सेविंग अकाउंट से जुड़ी सभी सेवाएं और ऑफर पहले जैसे ही रहेंगे।

कितना रखना होगा बैलेंस

कितना रखना होगा बैलेंस

बैंक के अनुसार औसत मासिक बैलेंस में कोई बदलाव नहीं किया गया है। दोनों तरह के बचत खातों के लिए न्यूनतम शेष राशि पहले की तरह 10,000 रुपये और 25,000 रुपये रहेगी। बचत खाते पर अर्जित ब्याज पर टीडीएस लागू नहीं होता है। आईडीएफसी फर्स्ट बैंक बचत खाते में बैलेंस के आधार पर सालाना 3-5% की ब्याज दर ऑफर रहा है। यदि खाते में बैलेंस 10 लाख रुपये से कम है, तो इस पर 4% प्रतिवर्ष की दर से ब्याज मिलेगा। यदि शेष राशि 10 लाख रुपये से अधिक है लेकिन 2 करोड़ रुपये से कम तो बैंक प्रति वर्ष 5% ब्याज का भुगतान करेगा। यदि शेष राशि 100 करोड़ रुपये से अधिक है, तो यह 3% प्रति वर्ष की दर से ब्याज देगा।

English summary

IDFC First Bank Savings Account Interest will be added on the balance every month

The interest rate on the savings account of IDFC First Bank customers will be calculated on the basis of daily balance. The total interest earned in this way will be credited to their savings account on a monthly basis.
Story first published: Sunday, July 18, 2021, 19:57 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X