For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

PF में ब्याज का खेल, कभी 12 तो कभी 3 फीसदी दिया गया

|

नई दिल्ली। देश में कामगारों को पेंशन देने के लिए बनाए गए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की अगर ब्याज दरों की हिस्ट्री पर अगर आप नजर डालेंगे तो चौंक जाएंगे। यहां पर कभी 12 फीसदी तक ब्याज मिला, तो कभी इस संगठन ने रिटायर कर्मचारियों को मात्र 3 फीसदी ही ब्याज दिया है। इसके अलावा भी बीच बीच में यहां पर स्कीमें आती और जाती रही हैं। वित्तीय वर्ष 1978-79 के दौरान जहां कर्मचारियों के पीएफ के पैसे पर 8.25 फीसदी ब्याज दिया जा रहा था, वहीं 0.50 फीसदी ब्याज बोनस के रूप में दिया जा रहा था। हालांकि यह बोनस उन्हीं लोगों को मिला, जिन्होंने वित्तीय वर्ष 1976-77 से लेकर वित्तीय वर्ष 1977-78 के बीच अपने पीए के पैसे से कोई निकासी नहीं की थी। इसके अलावा संगठन ने वित्तीय वर्ष 2004-05 के दौरान 9 फीसदी ब्याज दिया, लेकिन इस दौरान कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने 0.50 फीसदी ब्याज गोल्डर जुबली के नाम पर दिया। इस प्रकार देखा जाए आज पीएफ की ब्याज दरें अपने उच्चतम से करीब साढ़े तीन फीसदी कम हो गई हैं। पीएफ में आमतौर पर लोगों को 20 से 25 लाख रुपये हो जाता है। ऐसे में अगर देखा जाए तो यह साढ़े तीन फीसदी ब्याज का असर प्रति लाख रुपये 3500 रुपये पड़ता है।
ऊपर से इस वक्त चर्चा चल रही है कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन पीएफ का ब्याज और कम कर सकता है। ऐसे में जिनका रिटारमेंट करीब है, उनको काफी नुकसान होगा। क्योंकि उनके ईपीएफ में सबसे ज्यादा पैसा रिटायरमेंट के करीब ही होता है।
आइये जानते हैं देश में आजादी के बाद से अब तक पीएफ पर कितना मिलता रहा है ब्याज।

 

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

2019-20 में 8.5 फीसदी

2018-19 में 8.65 फीसदी

2017-18 में 8.55 फीसदी

2016-17 में 8.65 फीसदी

2015-16 में 8.8 फीसदी

2014-2015 में 8.75 फीसदी

2013-2014 में 8.75 फीसदी

2012-13 में 8.5 फीसदी

2011-12 में 8.25 फीसदी

2010-11 में 9.5 फीसदी

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

2009-10 में 8.5 फीसदी

2008-09 में 8.5 फीसदी

2007-08 में 8.5 फीसदी

2006-07 में 8.5 फीसदी

2005-06 में 8.5 फीसदी

2004-05 में 9.5 फीसदी

2003-04 में 9.5 फीसदी

2002-03 में 9.5 फीसदी

2001-02 में 9.5 फीसदी

2000-01 में 11 फीसदी

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास
 

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

1999-2000 में 12 फीसदी

1998-99 में 12 फीसदी

1997-98 में 12 फीसदी

1996-97 में 12 फीसदी

1995-96 में 12 फीसदी

1994-95 में 12 फीसदी

1993-94 में 12 फीसदी

1992-93 में 12 फीसदी

1991-92 में 12 फीसदी

1990-91 में 12 फीसदी

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

1989-90 में 12 फीसदी

1988-89 में 11.8 फीसदी

1987-88 में 11.5 फीसदी

1986-87 में 11 फीसदी

1985-86 में 10.15 फीसदी

1984-85 में 9.9 फीसदी

1983-84 में 9.15 फीसदी

1982-83 में 8.75 फीसदी

1981-82 में 8.5 फीसदी

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

1979-80 में 8.25 फीसदी

1978-79 में 8.25 फीसदी और इसके अलावा 0.5 फीसदी बोनस भी मिलता था

1977-78 में 8.00 फीसदी

1976-77 में 7.50 फीसदी

1975-76 में 7.00 फीसदी

1974-75 में 6.50 फीसदी

1973-74 में 6.00 फीसदी

1972-73 में 6.00 फीसदी

1971-72 में 5.80 फीसदी

1970-71 में 5.70 फीसदी

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

1969-70 में 5.50 फीसदी

1968-69 में 5.25 फीसदी

1967-68 में 5.00 फीसदी

1966-67 में 4.75 फीसदी

1965-66 में 4.50 फीसदी

1964-65 में 4.25 फीसदी

1963-64 में 4.00 फीसदी

1962-63 में 3.75 फीसदी

1961-62 में 3.75 फीसदी

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

जानिए पीएफ का ब्याज दर का इतिहास

1960-61 में 3.75 फीसदी

1959-60 में 3.75 फीसदी

1958-59 में 3.75 फीसदी

1957-58 में 3.75 फीसदी

1956-57 में 3.50 फीसदी

1955-56 में 3.50 फीसदी

1954-55 में 3.00 फीसदी

1953-54 में 3.00 फीसदी

1952-53 में 3.00 फीसदी

PPF Account : कोर्ट भी अटैच नहीं कर सकता है पैसा, जानिए 6 और फायदे

English summary

EPF interest rate history from 1952 EPF Interest Rate in hindi

Interest on PF has been given a maximum of 12% and minimum of 3% since independence.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X