जानिए बिरला समूह के प्रमुख कुमार मंगलम की रोचक बातें

Written By: Pratima
Subscribe to GoodReturns Hindi

कुमार मंगलम एक भारतीय उद्योगपति है और मल्टी-इंडस्ट्रियल कंपनी आदित्य बिरला समूह के चेयरमैन भी हैं जिसके विश्व के 42 देशों में आउटलेट हैं। भारत में यह तीसरा बड़ा उद्योग समूह है। मंगलम बिरला इंस्टीटयूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड साइंस के कुलपति (चांसलर) भी हैं जिसके स्थापना उनके परिवार ने की थी। तो आइए जानते हैं कुमार मंगलम के जीवन की कुछ दिलचस्‍प बातों को-

प्रारंभिक जीवन

कुमार मंगलम का जन्म 14 जून 1967 को राजस्थान में हुआ एवं वे बिरला परिवार की चौथी पीढ़ी के उद्योगपति हैं। जिस परिवार से वे संबंधित हैं उसका भारत में औद्योगिक तथा सामाजिक इतिहास रहा है। उनका बचपन कोलकाता और मुंबई में बीता। उन्होंने मुंबई यूनिवर्सिटी से बी. कॉम. की डिग्री प्राप्त की और आईसीएआई से सी. ए. की डिग्री ली। उन्होंने लंदन बिजनेस स्कूल से एमबीएस की डिग्री प्राप्त की।

कॅरियर

वर्ष 1995 में अपने पिता की मृत्यु के बाद कुमार मंगलम ने 28 वर्ष की आयु में आदित्य बिरला समूह के चेयरमैन का पद संभाला। उन्हें बिजनेस संभालने के लिए तैयार होना पड़ा जिसके कारण उनके जीवन को एक आकार मिला और इसका पालन उन्होंने भविष्य में भी किया। उनके शैक्षणिक पृष्ठभूमि के कारण उन्होंने समूह के आर्थिक प्रबंधन को बहुत अच्छी तरह संभाला। उनके इसी गुण के कारण उनके कॅरियर का विस्तार हुआ। आदित्य बिरला समूह बहु-जातीय और बहुराष्ट्रीय कंपनी है जिसने कुमार मंगलम के नेतृत्व में बहुत विस्तार किया है।

उपलब्धियां

उनके पिता के समय से ही आदित्य बिरला समूह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्यापार कर रहा है। हालाँकि उस समय तक ग्लोबलाइज़ेशन का चलन नहीं था परन्तु उनके पिता ने अपने समूह में इसे प्रारंभ किया और यू.एस. तथा यूरोप के प्रमुख मार्केट्स के साथ गठबंधन किया। कुमार मंगलम ने बिजनेस के वर्तमान चलन को अपनाया तथा इसका विस्तार दो से अधिक महाद्वीपों में किया।

कठिन परिस्थितियों का सरल उपाय ढूंढना

कुमार की धारणा यह है कि बिजनेस में आने वाली कठिन समस्याओं का सरल उपाय किस तरह ढूंढा जाए और इसके कारण ही इतने सालों में वे एक समर्पित इंटरप्रेन्योर बन पाए हैं। वे अकेले ही ऐसे व्यक्ति है जिन्होनें इस धारणा के साथ अपने बिजनेस को आगे बढ़ाया है। बेशक यह उनके परिवार की भी उपलब्धि है जिसने समूह को भी योग दान दिया है। परन्तु कुमार मंगलम बिरला ने ही आदित्य बिरला समूह को विश्व में प्रसिद्ध बनाया है।

कमाई का उपयोग समाज हित में करना

कुमार मंगलम के बारे में एक दिलचस्प बात यह है कि उनका प्रमुख उद्देश्य कमाना और उस कमाई का उपयोग समाज के लिए करना है। विशेष रूप से शिक्षा के रूप में। वे मुंबई में एक अंतरराष्ट्रीय संस्था चलाते हैं जो भविष्य के उद्योगपतियों के विकास पर ध्यान केंद्रित करती हैं।

व्यक्तिगत जीवन

कुमार मंगलम की शादी नीरजा बिरला से हुई है और उनके तीन बच्चे अनन्या, आर्यमान विक्रम और अद्वैतेषा हैं। वर्तमान में उनकी पत्नी मुंबई में एक स्कूल चलाती हैं।

पुरस्कार

2010 सीएनएन-आईबीएन इन्डियन ऑफ़ द ईयर इन बिजनेस
2005 द एर्न्स्ट एंड यंग इंटरप्रेन्योर ऑफ़ द ईयर
2003 द लक्ष्य - बिजनेस विज़नरी, यंग अचीवर, बिजनेस लीडर ऑफ़ द ईयर, वर्ष 2003 में इंस्टीट्यूट ऑफ़ मार्केटिंग एंड मैनेजमेंट फॉर एक्सीलेंस
2002 किम्प्रो प्लेटीनम स्टैण्डर्ड, एमिटी बिजनेस स्कूल फॉर एक्सीलेंस इन बिजनेस

English summary

Kumar Mangalam Success Story

Kumar Mangalam is an Indian industrialist and also the Chairman of the Aditya Birla Group, a multi-industrial company that has outlets in nearly 42 countries worldwide. In India, this is the 3rd largest business group. Mangalam is also the Chancellor of the Birla Institute of Technology and Science.
Please Wait while comments are loading...
Company Search
Enter the first few characters of the company's name or the NSE symbol or BSE code and click 'Go'
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?

Find IFSC