वर्तमान और अतीत के सफल विश्‍वस्‍तरीय युवा नेता

Written By: Pratima
Subscribe to GoodReturns Hindi

हर युग में और हर देश में कहीं न कहीं कोई न कोई एक ऐसा युवा आता है जो दुनिया भर में अपनी छाप छोड़ जाता है। चाहे फिर बिजनेस मैन के रुप में हो या फिर एक नेता के रुप में हर तरह से वो उस देश का नेतृत्‍व करता है। यहां पर हम आपको ऐसे ही कुछ युवा नेताओं के बारे में बताएंगे जिन्‍होंने अपने कार्य से लोगों आश्‍चर्यचकित कर दिया।

इमॅन्यूएल मैक्रॉन

इमॅन्यूएल मैक्रॉन ने 39 साल की उम्र में 7 मई 2017 में फ्रेंच इलेक्‍शन जीत कर दुनिया भर के लोगों को खासकर युवाओं को जोश और जुनून की प्रेरणा दी है। यह दुनियां के सबसे कम उम्र वाले नेताओं में से एक हैं और अब यह फ्रांस के राष्ट्रिपति हैं। इसके पहले वो को-प्रिंस ऑफ एंड्रोना थे। यह फॉर्मर सिविल सरवेंट और इंवेस्‍टमेंट बैंकर भी रह चुके हैं। इन्‍होंने अपने से 24 साल बड़ी महिला के साथ विवाह किया है। जो कि उनकी टीचर थीं।

जस्टिन ट्राउडू

यह कनाडा के प्राइम मिनिस्‍टर के रुप में 2015 में चयनित हुए थे। तब इनकी उम्र मात्र 43 वर्ष थी। सबसे कम उम्र के कनाडा के प्रधानमंत्री क्‍लार्क थे जो कि 1979 में 39 साल की उम्र में पद ग्रहण किया था। जस्टिन ट्राउडू ने अप्रैल 2013 में लिबरल पार्टी की लीडरशिप को जीत कर अपनी पार्टी को 2015 के फेडरल इलेक्‍शन में जीत दिलवाया। तीसरे स्थान पर स्थित लिबरल को 36 सीटों से 184 सीटों तक ले जाना, कनाडा की चुनाव में पार्टी की सबसे बड़ी संख्या में वृद्धि थी।

जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक

यह भूटान राज्‍य के वर्तमान और पांचवे राज्‍य शासक यानी कि ड्रैगन किंग हैं। इनकी उम्र अभी मात्र 37 वर्ष है। सन् 2008 में जिग्‍मे के पक्ष में उनके पिता सिंग्ये वांगचुक ने सिंहासन का त्याग कर दिया था। 1 नवंबर, 2008 को एक सार्वजनिक राज्याभिषेक समारोह आयोजित किया गया था, जो एक शुभ वर्ष था जिसे भूटान में 100 वर्ष का राजतंत्र माना गया था।

किम जोंग-उन

किम जोंग-उन उत्‍तर कोरिया के सर्वोच्‍च नेता हैं। इन्‍होंने पिता की मृत्‍यु के बाद 28 दिसम्बर 2011 को अपने आपको तानाशाह बना लिया और उसकी आधिकारिक घोषणा भी कर दी। किम कोरिया के श्रमिक पार्टी, केंद्रीय सैन्य आयोग और राष्ट्रीय रक्षा आयोग के अध्यक्ष के हैं। वह कोरियाई पीपुल्स आर्मी के सर्वोच्च कमांडर हैं, और कोरिया के श्रमिक पार्टी की पोलित ब्यूरो स्थायी समिति के अध्यक्ष पद के सदस्य हैं।

वानेसा एम्ब्रोसियो

डी एम्ब्रोसियो सैन मैरिनो की कैप्‍टन हैं जो कि अप्रैल 2017 से अक्‍टूबर तक कम किया है। इनकी उम्र अभी मात्र 29 साल है। इनके दादा फ्रांसेस्को बर्टी सैन मैरिनो के संस्‍थापक रह चुके हैं। मारिया ली पेडिनी-एंजिलिनी अप्रैल से अक्टूबर 1981 तक सैन मैरिनो के रीजेंट कैप्‍टन के रुप में काम कर चुकी हैं और 26 साल की उम्र में कैप्‍टन बनने वाली वह सैन मैरिनो की पहली कैप्‍टन थीं।

राजीव गांधी

31 अक्‍टूबर सन् 1984 में राजीव गांधी भारत के सबसे कम उम्र के पहले प्रधानमंत्री थे। उस वक्‍त उनकी उम्र मात्र 40 साल थी। दो महीने बाद ही जनरल इलेक्‍शन में वो सबसे ज्‍यादा लोकसभा सीट जीतने वाले पहले नेता बन गए। इनकी माता इंदिरा गांधी भी भारत की प्रधानमंत्री रह चुकी हैं।

सिगमंडुर डेविड गुन्नलागसन

2013 में सिगमंडुर 38 साल की उम्र में आइसलैण्‍ड के प्रधानमंत्री घोषित किए गए थे। 2016 में उनके ऑफशोर वित्तीय होल्डिंग्स का विवरण पनामा पत्रों के रिसाव में प्रकट होने के बाद उन्होंने अपना इस्‍तीफा दे दिया।

थियोडोर रूसवेल्ट

यह अमेरिका के सबसे कम उम्र के राष्‍ट्रपति थे। जब ये प्रेसिडेंट बने थे तब इनकी उम्र 42 साल थी। 1901 में राष्ट्रपति विलियम मैककिनली की हत्या के बाद वह सत्ता में आए। वाशिंगटन, डीसी में काम करने से पहले वह न्यूयॉर्क में एक राज्य विधायक भी रहे थे। वह 23 साल की उम्र में राज्य के लिए चुने गए, उस समय उन्हें न्यूयॉर्क में सबसे छोटा राज्य सांसद बना दिया गया।

फिदेल कास्त्रो

यह क्‍यूबा के क्रांतिकारी नेता थे जिनकी मृत्‍यु पिछले साल ही हुई है। यह मात्र 32 साल के थे जब इनकी क्रांतिकारी सेना ने क्‍यूबा पर कब्‍जा कर लिया था। ये फरवरी 1959 से दिसम्‍बर 1976 तक क्‍यूबा के प्रधानमंत्री और क्‍यूबा राज्‍य परिषद के अध्‍यक्ष (राष्‍ट्रपति) रहे और फरवरी 2008 में अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया। 25 नवंबर 2016 में इनका निधन हुआ।

जॉन एफ कैनेडी

धनी सीनेटर और युद्ध नायक 43 साल के थे जब उन्होंने पद की शपथ ली थी। उन्होंने रिपब्लिकन रिचर्ड निक्सन को हराकर 1961 का चुनाव जीता। अमेरिका के वो 34वें राष्‍ट्रपति थे।

जीन-क्लाउड डुवालियर

इनका निक नेम बेबी डॉक्‍टर था। यह माना जाता है कि वह 19 साल की उम्र में अपने पिता की मृत्‍यु के बाद हयाती के प्रेसीडेंट बने थे। यह 1971 से 1986 तक प्रेसीडेंट के रुप में कार्यरत रहे।

टोनी ब्लेयर और डेविड कैमरन, ब्रिटेन

टोनी ब्‍लेयर 43 साल के थे जब वह 1997 में ब्रिटेन के प्राइम मिनिस्‍टर के रुप में चुने गए। 1812 में 42 वर्षीय लॉर्ड लिवरपूल के बाद से देश के सबसे कम उम्र के नेता ब्‍लेयर ही थे।

डेविड कैमरन भी 43 साल के थे जब वह 2010 में ब्रिटेन के नेता बने। वह ब्‍लेयर से मात्र कुछ महीने के छोटे थे।

 

English summary

Young world leaders of the past and present

Young world leaders of the past and present
Please Wait while comments are loading...
Company Search
Enter the first few characters of the company's name or the NSE symbol or BSE code and click 'Go'
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?

Find IFSC