For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

अडानी के हाथ रखते ही रॉकेट बना ये शेयर, सवा महीने में पैसा किया तीन गुना

|

नई दिल्ली, मई 14। हाल ही में अडानी विल्मर, जिसने हिंदुस्तान यूनिलीवर को इनकम के मामले में पछाड़ा और देश की सबसे बड़ी एफएमसीजी कंपनी बन गयी, ने अपने मैन फूड पोर्टफोलियो का विस्तार करने के लिए अमेरिका स्थित मैककॉर्मिक से प्रसिद्ध बासमती चावल ब्रांड कोहिनूर और चारमीनार का अधिग्रहण किया है। इसके बाद कोहिनूर फूड्स के शेयरो में भारी भरकम उछाल आई है। हाल ही में एक और घटना हुई, जिससे कोहिनूर फूड्स का शेयर निवेशकों का पैसा तीन गुना करने में कामयाब रहा। अडानी विल्मर कंपनी, अरबपति गौतम अडानी के नेतृत्व वाले अडानी समूह और सिंगापुर की कृषि व्यवसाय कंपनी विल्मर इंटरनेशनल के बीच एक संयुक्त उद्यम है। इसने कोहिनूर के अधिग्रहण की डील साइज का खुलासा नहीं किया। लेकिन इसने कहा कि डील को आईपीओ से जुटाए गए पैसे से फाइनेंस किया गया। इसने अपने 3,600 करोड़ रुपये के आईपीओ से एमएंडए के लिए 450 करोड़ रुपये निर्धारित किए थे।

 

शानदार योजना : पैसा डबल से होने से कोई नहीं रोक सकता, बनेंगे 2 लाख रु के 4 लाख रु

लगातार लग रहा अपर सर्किट

लगातार लग रहा अपर सर्किट

शुक्रवार के कारोबार में कोहिनूर फूड्स के शेयर सीधे 24वें कारोबारी दिन भी ऊपरी सर्किट पर बंद हुआ। ये एनएसई पर 5 प्रतिशत बढ़कर 23.80 रुपये पर रहा। स्टॉक एक्सचेंजों द्वारा सिक्योरिटी पर से ट्रेडिंड के निलंबन को रद्द करने के बाद इस कृषि उत्पाद कंपनी का स्टॉक 6 अप्रैल, 2022 को 7.77 रुपये के स्तर से 207.10 प्रतिशत बढ़ गया है। स्टॉक में आखिरी बार 3 मई, 2021 को कारोबार किया गया था और एनएसई पर 7.40 रुपये पर बंद हुआ था।

पैसा किया तीन गुना

पैसा किया तीन गुना

करीब सवा महीने पहले ये 7.77 रु से शुक्रवार को 23.80 रु पर पहुंचने में इसने निवेशकों को 207.10 फीसदी का रिटर्न दिया। यानी निवेशकों की दौलत तीन से अधिक कर दी। किसी ने तब एक लाख रु के शेयर लिए होंगे, तो उनकी वैल्यू आज 3 लाख रु से अधिक हो गयी होगी।

किस कैटेगरी में कर रहा कारोबार
 

किस कैटेगरी में कर रहा कारोबार

इस समय कोहिनूर फूड्स बीएसई पर टी समूह के तहत और एनएसई पर बीई श्रेणी के तहत कारोबार कर रहा है। टी2टी और बीई सेगमेंट में, प्रत्येक ट्रेड के परिणामस्वरूप डिलीवरी होती है और पोजीशन के इंट्रा-डे नेटिंग (उसी दिन बिकवाली) की अनुमति नहीं होती।

क्या है कारोबार

क्या है कारोबार

कोहिनूर फूड्स मुख्य रूप से फूड प्रोडक्ट्स की मैन्युफैक्चरिंद, ट्रेडिंग और मार्केटिंग के बिजनेस में लगी हुई है। कंपनी दुनिया भर में उपभोक्ताओं की जरूरतों को पूरा करने के लिए एक बड़ी रेंज में प्रोडक्ट प्रदान करती है। इनमें बासमती चावल की एक विस्तृत रेंज से लेकर, खाने के लिए तैयार करी और भोजन, रेडीमेड ग्रेवी, कुकिंग पेस्ट, चटनी, मसाले और सीज़निंग से लेकर फ्रोजन ब्रेड, स्नैक्स, स्वस्थ अनाज, और खाद्य तेल शामिल हैं।

विदेशों में भी डंका

विदेशों में भी डंका

कंपनी का सबसे शक्तिशाली ब्रांड 'कोहिनूर' अमेरिका, संयुक्त अरब अमीरात, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, मध्य पूर्व, सिंगापुर, जापान, मॉरीशस और अन्य यूरोपीय देशों जैसे देशों में एक घरेलू नाम है। इस बीच, कोहिनूर फूड्स ने 27 अप्रैल, 2022 को घोषणा की कि बोर्ड ने कंपनी के पात्र इक्विटी शेयरधारकों को 49.50 करोड़ रुपये से अधिक के इक्विटी शेयर जारी करके पैसे जुटाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इस समय कंपनी की मार्केट कैपिटल केवल 88.23 करोड़ रु है।

English summary

This stock became a rocket after Adani bought it tripled the money in very few days

From Rs 7.77 a month ago to Rs 23.80 on Friday, it gave a return of 207.10 per cent to investors. That is, the wealth of investors increased by more than three.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X