For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

बिना गारंटी सरकार दे रही है 50000 रु का लोन, आप भी उठा सकते फायदा

|

नई द‍िल्‍ली: कोरोना काल में मोदी सरकार लोगों के ल‍िए अहम कदम उठा र‍ही है। सरकार बिजनेस शुरू करने के लिए सस्ते दर में लोन दे रही है। तो अगर आप कोई नया बिज़नेस शुरू करने का प्लान कर रहे हैं तो प्रधानमंत्री मोदी का ये तोहफा आपके लिए है। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण मोदी सरकार मुद्रा शिशु योजना के तहत लोन पर ब्याज दरों में 2 प्रतिशत तक की छूट दे रही है। सरकार द्वारा लोन में दी गई इस छूट का फायदा देश में एक या दो नहीं बल्कि 9 करोड़ 37 लाख लोगों को मिलेगा। आर्थिक मंदी के दौर में यह योजना बड़े पैमाने पर बेरोजगारी को दूर करने में सहायक साबित होगी।

 

ऐसे मिलेगा शिशु मुद्रा लोन

ऐसे मिलेगा शिशु मुद्रा लोन

  • लोन प्राप्त करने के लिए आपको एक निश्चित प्रणाली से होकर गुजरना होगा।
  • इस लोन को मुख्य रूप से दुकान खोलने, रेहडी पटरी या कोई अन्य छोटा काम शुरू करने के लिए ले सकते हैं।
  • यह लोन वाणिज्यिक बैंकों से लेकर स्मॉल फाइनेंस बैंक, एमएफआईऔर एनबीएफसी द्वारा दिया जाता है।
  • इस योजना में बिना किसी गारंटी के लोन दिया जाता है।
  • इसमें कोई भी शख्स इन संस्थानों में जाकर लोन के विषय में जानकारी लेने के साथ ही एप्लाई कर सकते हैं।
  • इसके साथ ही सरकार के https://www.udyamimitra.in ऑनलाइन पॉर्टल पर जाकर भी लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
 शिशु मुद्रा लोन क्या है
 

शिशु मुद्रा लोन क्या है

  • केंद्र सरकार ने इस योजना का शुभारंभ उन लोगों के लिए किया है, जो अपना खुद का व्यापार स्थापित करना चाहते हैं।
  • शिशु मुद्रा योजना के तहत लोन लेकर अपना काम शुरू कर सकते हैं। सरकार इसी लोन पर आप को 2 प्रतिशत तक की छूट दे रही है।
  • इस योजना के तहत आप अपना छोटा मोटा काम शुरू करने के लिए 50 हजार रुपये तक का लोन ले सकते हैं।
  • इस योजना के तहत 9 से 12 प्रतिशत तक का ब्याज लगता है।
  • जिसमें सरकार ने अब 2 प्रतिशत तक की छूट दे दी है।
  • मुद्रा योजना के तहत लोन लेने वाले शख्स को ब्याज में यह छूट 1 जून 2020 से 31 मई 2021 तक मिल सकेगी।
  • इसके लिए इस वर्ष में 1540 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं

लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं

मुद्रा योजना के तहत बिना गारंटी के लोन मिलता है। इसके अलावा लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता है। मुद्रा योजना में लोन चुकाने की अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है। लोन लेने वाले को एक मुद्रा कार्ड मिलता है, जिसकी मदद से कारोबारी जरूरत पर आने वाला खर्च किया जा सकता है। योजना के माध्यम से केवल 3 प्रकार के मुद्रा लोन ऑफर किए जाते हैं। मुद्रा नीचे दिए गए तीन आधारों पर लोन ऑफर करती है।

शिशु

शिशु लोन के तहत, एक आवेदक 50,000 रुपये तक का लोन प्राप्त कर सकता है। इस तरह के लोन का मतलब ऐसे लोगों से है, जिन्हें कम फंड की जरूरत होती है। यह उन लोगों को दिया जाता है जो अभी अपना व्यवसाय शुरू कर रहे हैं या उन्हें धन की आवश्यकता है।

किशोर

वहीं किशोर लोन के तहत, एक आवेदक 50,000 रुपये से लेकर 5 लाख रु. तक लोन प्राप्त कर सकता है। इस प्रकार का लोन उन आवेदकों के लिए उपयुक्त है जो पहले ही अपना व्यवसाय शुरू कर चुके हैं, लेकिन इसे सुधारने के लिए कुछ और धन की आवश्यकता है।

तरुण

तरुण लोन के तहत, एक आवेदक 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये तक का लोन प्राप्त कर सकता है। यह लोन मुद्रा लोन योजना के तहत व्यक्तियों को दी जाने वाली उच्चतम लोन राशि प्रदान करता है। यह उन लोगों को दिया जाता है जिनके व्यवसाय स्थापित हैं, लेकिन उन्हें अपने व्यवसायों का विस्तार करने के लिए धन की आवश्यकता है।

1 जुलाई से बैंक खाते से जुड़े ये 4 नियम बदल जाएंगे, आप भी जान लें ये भी पढ़ें

English summary

Modi Government Is Giving Loans Up To Rs 50000 Without Any Guarantee

Loan is provided under Mudra Shishu Yojana without any guarantee. To start any small business, you will get a loan in minutes.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X