For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Rakesh Jhunjhunwala को सेबी ने जारी किया नोटिस, होगी पूछताछ

|

नई दिल्ली। भारतीय प्रतिभूति एंव विनियम बोर्ड यानी सेबी ने देश के जानेमाने निवेशक राकेश झुनझुनवाला को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उनको यह नोटिस एप्टेक के शेयर में ट्रेडिंग को लेकर जारी किया गया है। ध्यान रहे कि एप्टेक एजूकेशन एंड ट्रेनिंग से जुड़ी कंपनी है। इस कंपनी में राकेश झुनझुनवाला और उनके परिवार का निवेश है।

 

Rakesh Jhunjhunwala को सेबी ने जारी किया नोटिस, होगी पूछताछ

चार साल पुराना है मामला

सेबी ने एप्टेक से जुड़े जिस मामले पर राकेश झुनझुनवाला और उनके परिवार और कंपनी के बोर्ड मैम्बर्स को नोटिस जारी किया है, वह करीब 4 साल पुराना मामला है। राकेश झुनझुनवाला एक निवेशक हैं, और इनके पोर्टफोलियो में जितनी भी कंपनियां हैं, उनके से केवल एप्टेक ही अकेली ऐसी कंपनी है, जिसका मैनेजमेंट कंट्रोल राकेश झुनझुनवाला के हाथ में है।

पहले भी हो चुकी है पूछताछ

ईटी की खबर के अनुसार सेबी ने नोटिस में कहा है कि वह उनकी योजना राकेश झुनझुनवाला के बैंक अकाउंट सीज करने की है। इन बैंक अकाउंट में उतना पैसा सीज किया जाएगा, जितना उन्होंने कथित रूप से एप्टेक में निवेश से कमाया होगा। इससे पहले इसी साल सेबी जनवरी एप्टेक शेयर में इनसाइडर ट्रेडिंग के आरोप में राकेश झुनझुनवाला की जांच कर चुकी है। इस जांच में राकेश झुनझुनवाला के अलावा उनके भाई राजेश, उनकी पत्नी रेखा, बहन सुधा और सास सुशीलादेवी गुप्ता से भी पूछताछ हो चुकी है। राकेश झुनझुनवाला की निवेश कंपनी का नाम रेयर इंटरप्राइजेज है। सेबी ने इस मामले में रेयर इंटरप्राइजेज के सीईओ की बहन उषमा शेठ सुले और एप्टेक के निदेशक उत्पल सेठ को भी सेबी ने सम्मन जारी किया है। इसी मामल में सेबी ने बोर्ड के सदस्य रमेश एस दमानी और निदेशक मधु जयकुमार को भी सम्मन भेजा है।

 

गैर कानूनी होती है इनसाइडर ट्रेडिंग

शेयर बाजार में इनसाइडर ट्रेडिंग को अवैध माना जाता है। इस तरह की ट्रेडिंग में कुछ लोग जिनके पास कंपनी की अंदरूनी जानकारियां होती हैं वो उसके हिसाब से शेयर खरीदकर या बेचकर प्रॉफिट बनाते हैं। इन जानकारियों का पता आम निवेशकों को नहीं चल पाता है। सेबी खासतौर पर फरवरी 2016 से लेकर सितंबर 2016 के बीच हुए ट्रेड की जांच कर रहा है। सेबी को मिली जानकारी के मुताबिक, इस दौरान ही एप्टेक में इनसाइडर ट्रेडिंग हुई है।

यह है शक का कारण

रिपोर्ट्स के मुताबिक, उनकी पत्नी और भाई ने ब्लॉक डील के जरिए एप्टेक के 7,63,057 शेयर 7 सितंबर को खरीदे थे। इसके तुरंत बाद शेयरों में अपर सर्किट लगा और ये शेयर 175.05 रुपये पर पहुंच गए। एप्टेक में राकेश झुनझुनवाला की हिस्सेदारी 24.24 फीसदी है जिसकी वैल्यू 160 करोड़ रुपये है। एप्टेक में उनकी शेयर होल्डिंग्स 2005 से लगातार बढ़ी है। उस वक्त झुनझुनवाला ने कंपनी में 10 फीसदी हिस्सेदारी ली थी।

यह भी पढ़ें : निवेश का फंडा : 2 लाख रुपये बन गए 1 से लेकर 6 करोड़ रुपये तक

English summary

SEBI issued show cause notice to Rakesh Jhunjhunwala for investing in Aptech

In the case of about 4 years old, SEBI has issued a notice to Rakesh Jhunjhunwala, one of the biggest investors in the country.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X