For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

महिलाएं : जिन्होंने तोड़ीं कारोबारी हदें, कुछ तो अब जेल में

|

नई दिल्ली। भारतीय व्यापार जगत में जुड़ी ऐसी तेजतर्रार व चालाक महिलाएं भी रही हैं, जिन्होंने कई मिथकों को तोड़ते हुए बेशुमार दौलत व रुतबा हासिल करने के लिए न केवल अपने प्रियजनों को अंधेरे में रखा, बल्कि वह हत्या जैसे क्रूर अपराधों में शामिल होने से भी नहीं कतराई। इनमें से एक महिला तो उसकी जान की दुश्मन बन गई, जिसे उसने जन्म दिया था। जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत इंसां भी इनमें से एक है। हनीप्रीत को बुधवार को 2017 के पंचकूला हिंसा मामले में जमानत दे दी गई। हनीप्रीत ने राम रहीम के सारे पैसे और व्यापारिक लेन-देन का प्रबंधन किया, जबकि उसने भारत और विदेश में लाखों लोगों पर अपना प्रभुत्व भी स्थापित किया।

 

सबसे ऊपर है इंद्राणी मुखर्जी का नाम

इस सूची में हालांकि जो महिला सबसे ऊपर है, वह है इंद्राणी मुखर्जी। एक ऐसी महिला जिसने अपनी ही बेटी को मार डाला। इसके अलावा एक महिला मादी शर्मा भी इस सूची में आश्चर्यजनक तरीके से शामिल हुई है। मादी एक अंतर्राष्ट्रीय ब्रोकर है। वहीं एक महिला यास्मीन कपूर है, जो दो महीने पहले विमानन घोटाला मामले में भारतीय जांच एजेंसियों द्वारा पकड़े जाने के बाद सुर्खियों में आई थीं।

यास्मीन कपूर, जो विमान घोटाले में जा चुकी हैं तिहाड़ जेल

यास्मीन कपूर, जो विमान घोटाले में जा चुकी हैं तिहाड़ जेल

मीडिया में आई खबरों के अनुसार यास्मीन कपूर कॉरपोरेट लॉबीस्ट दीपक तलवार की करीबी सहयोगी है। वह 2008-09 में विमानन घोटाले में तिहाड़ जेल में रह चुकी है। उसे एनजीओ एडवांटेज इंडिया द्वारा विदेशी मुद्रा नियमों के कथित उल्लंघन के आरोपों का भी सामना करना पड़ रहा है। विमानन घोटाला पूर्व नागरिक उड्डयन मंत्री प्रफुल्ल पटेल द्वारा एयर इंडिया की कीमत पर विदेशी निजी एयरलाइनों के लिए हवाई यातायात अधिकार देने के फैसले से संबंधित है।

मादी शर्मा अचानक चर्चा में आईं
 

मादी शर्मा अचानक चर्चा में आईं

वहीं अगर मादी शर्मा की बात करें तो वह फिलहाल ब्रिटेन की निवासी हैं और उन्होंने हाल ही में जम्मू एवं कश्मीर में यूरोपीय संसद के सदस्यों की एक अनौपचारिक यात्रा का आयोजन किया था। आश्चर्यजनक रूप से इस वीआईपी यात्रा में सभी भुगतान भी उन्हीं के द्वारा कराए गए थे। वह खुद को महिला आर्थिक और सामाजिक थिंक टैंक (डब्ल्यूईएसटीटी) नामक एक संगठन प्रमुख के तौर पर बताती हैं। मादी ने यूरोपीय संसद और दुनिया भर की सरकारों के साथ गैर-सरकारी संगठनों के साथ भी काम किया है। मादी ने यूरोपीय संसद के चुनिंदा सदस्यों को निमंत्रण पत्र लिखा, जिसमें उन्होंने बताया कि वह भारत के प्रधानमंत्री के साथ एक प्रतिष्ठित वीआईपी बैठक आयोजित कर रही हैं।

विवादित रही है उनकी प्रायोजित यात्रा

उसने यूरोपीय राजनेताओं के समूह को बताया कि वे भारत की तीन दिवसीय यात्रा पर जाएंगे, जिसमें वे प्रधानमंत्री से मिलेंगे और अगले दिन कश्मीर का दौरा करेंगे। उन्होंने स्पष्ट रूप से उल्लेख किया था कि यह यात्रा इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ नॉन एलाइन्ड स्टडीज द्वारा प्रायोजित की जा रही है। इस यात्रा ने एक बड़े विवाद को जन्म दिया है, क्योंकि विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार पर यह सवाल करते हुए हमला किया है कि भारतीय सांसदों को कश्मीर जाने की अनुमति से इनकार किया जा रहा है और विदेशी सांसदों को वहां जाने की अनुमति दी जा रही है।

हनी प्रीत का असली नाम है प्रियंका तनेजा

हनी प्रीत का असली नाम है प्रियंका तनेजा

वहीं दूसरी ओर डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत इंसां 2017 पंचकूला हिंसा मामले में सलाखों के पीछे थी। उसे बुधवार को ही जमानत मिली और उसे देर शाम रिहा कर दिया गया। दुष्कर्म के मामलों में डेरा प्रमुख को दोषी ठहराए जाने के बाद हुई हिंसा के सिलसिले में पिछले हफ्ते उस पर लगे देशद्रोह के आरोप हटा दिए गए थे। पंचकूला पुलिस ने हनीप्रीत और अन्य डेरा अनुयायियों पर पंचकुला हिंसा मामले के संबंध में राजद्रोह और आपराधिक साजिश के आरोप में मामला दर्ज किया था। अगस्त 2017 में डेरा प्रमुख की सजा के बाद पंचकूला में हिंसा भड़काने की साजिश में अन्य लोगों के साथ हनीप्रीत का नाम भी सामने आया था। हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है और वह राम रहीम के व्यापारिक सौदों से लेकर उसके साथ फिल्मों में भी काम किया है।

जानें इंद्राणी मुखर्जी के बारे में

जानें इंद्राणी मुखर्जी के बारे में

वहीं अगर इंद्राणी मुखर्जी की बात करें तो वह ऐसी महिला के तौर पर जानी जाती है जिसने अपने स्वार्थ के लिए सारी हदें पार कर दी थी। उसकी बेटी की हत्या की खबर ने काफी सुर्खियां बटोरी। इंद्राणी पीटर मुखर्जी की पत्नी हैं, जो कि आईएनएक्स मीडिया मामले में दोषी भी हैं। इंद्राणी ने अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या कर दी थी। इतना ही नहीं वह सभी अवैध साधनों का उपयोग करके कॉर्पोरेट सीढ़ी पर चढ़ी थी। उसने बिना अनुमति के विदेशी प्रत्यक्ष निवेश के माध्यम से विदेशी धन प्राप्त करने के लिए कानून का उल्लंघन किया। इस मामले के संबंध में फिलहाल पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम भी जेल की हवा खानी पड़ रही है।

कमाई का मौका : प्रदूषण जांच केंद्र खोल कर रोज कमाएं 5000 रु तक

English summary

List and name of women who break the law to achieve business success

There are names like Honeypreet, indrani mukerjea, Yasmin Kapoor and Madi Sharma who took the wrong path to business success.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Goodreturns sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Goodreturns website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more