For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

LIC : टुकड़ों में बेची जा सकती है 25 फीसदी हिस्सेदारी, जानिए सरकार का प्लान

|

नयी दिल्ली। सरकार देश की सबसे बड़े जीवन बीमा कंपनी एलआईसी में 25 फीसदी हिस्सेदारी बेचने के लिए कैबिनेट की मंजूरी लेने की योजना बना रही है। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बड़े बजट अंतर को भरने के लिए संसाधनों की तलाश में हैं। सरकार हिस्सेदारी बेचने के लिए संसद में उस अधिनियम को संशोधित करने की भी योजना बना रही है, जिसके तहत एलआईसी की स्थापना की गयी थी। जहां तक एलआईसी के आईपीओ का सवाल है तो एलआईसी के इश्यू की टाइमिंग बाजार की स्थितियों पर निर्भर करती है। बता दें कि एलआईसी की हिस्सेदारी की बिकवाली किस्तों में किए जाने की संभावना है।

सरकार को मिलेगी मदद
 

सरकार को मिलेगी मदद

कोरोना संकट के आ जाने से ग्रोथ रुक गयी है और वित्तीय घाटे के 2020-21 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 3.5 फीसदी तक जाने का खतरा है। ऐसे में एलआईसी में हिस्सा बेचने से सरकार को अपनी फाइनेंसिंग में मदद मिलेगी। ईटी की रिपोर्ट के अनुसार प्रशासन ने 1 अप्रैल 2002 से चालू हुए वित्तीय वर्ष में संपत्ति बिक्री के माध्यम से लगभग 57 अरब रुपये जुटाए हैं, जबकि चालू वित्त वर्ष के लिए विनिवेश लक्ष्य 2.1 लाख करोड़ रुपये का है। सरकार ने एलआईसी के आईपीओ में शेयर बेचने में मदद के लिए डेलॉइट टूचे टोहमात्सु इंडिया और एसबीआई कैपिटल मार्केट्स को चुना है। ये सलाहकार एलआईसी के कैपिटल स्ट्रक्चर का वैल्यूएशन करने में मदद करेंगे। साथ ही कंपनी को अपनी फाइनेंशियल डिटेल को फिर से तैयार करने में भी मदद करेंगे।

क्या होगा सरकार का कदम

क्या होगा सरकार का कदम

प्रस्ताव के तहत सरकार 200 अरब रुपये की अधिकृत पूंजी के लिए संसद में एक संशोधन प्रस्ताव भी लाएगी। इस पूंजी को 20 अरब शेयरों में विभाजित किया जाएगा। एलआईसी में हिस्सा बेचने के लिए तैयार किया गया एक मंत्री पैनल आईपीओ के आकार पर फैसला करेगा, जबकि कैबिनेट कंपनी के कैपिटल स्ट्रक्चर में बदलाव पर विचार करेगा। बता दें कि एलआईसी की मौजूदा असेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) और बिजनेस प्रीमियम के आधार पर इसकी वैल्यूएशन 8 से 10 लाख करोड़ रुपये हो सकती है। एलआईसी के आईपीओ का प्रभाव इतना होगा कि इसकी लिस्टिंग के बाद भारतीय शेयर बाजार की ग्लोबल रेटिंग भी बदल सकती है।

निवेश का होगा बड़ा मौका
 

निवेश का होगा बड़ा मौका

एलआईसी का आईपीओ कमाई का तगड़ा मौका होगा। मोदी सरकार की एलआईसी का आईपीओ लाने की तैयारियां ठीक लग रही हैं। हालांकि इसका आईपीओ अगले साल ही आने की संभावना है। लिस्टिंग होने से ये देश की सबसे बड़ी लिस्टेड कंपनी बन जाएगी। इस समय देश की सबसे बड़ी लिस्टेड कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज है। आईपीओ निवेश का एक खास मौका होता है। एलआईसी जैसी कंपनी में पैसा लगाना मुनाफे का सौदा हो सकता है।

IPO : कमाई का होता है बड़ा मौका, जानिए बच्चे को कैसे बनाएं अमीर

English summary

LIC 25 percent stake can be sold in phases know government plan

The government is also planning to amend the Act under which LIC was set up to sell stakes.
Story first published: Tuesday, September 29, 2020, 19:55 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?