For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

इस बैंक ने दिया झटका, ज्यादा बार कैश जमा किया तो वसूलेगा पैसा

|

नई दिल्ली, जून 13। आईडीबीआई बैंक ने कैश जमा करने और चेक बुक के चार्जेस में बदलाव किया है। बैंक ने इन दोनों सेवाओं के नियम बदले हैं। आईडीबीआई बैंक के ग्राहकों को बचत बैंक खातों में कैश जमा करने की मुफ्त पांच लेनदेन की सुविधा मिलेगी। यह नियम अर्ध-शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों की शाखाओं के लिए लागू होगा। वहीं सुपर सेविंग प्लस खातों के लिए अर्ध-शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में मुफ्त लेन-देन की सीमा 8-8 होगी। इस लिमिट के ऊपर कैश जमा करने पर बैंक आपसे शुल्क वसूल करेगा। नया नियम अगले महीने से लागू हो जाएगा। यानी ये नियम 1 जुलाई से लागू होने जा रहे हैं।

 

HDFC Bank Mobile ATM : 50 शहरों में मिल रही ढेरों सर्विसेज, आप भी उठाएं फायदा

चेक जारी करने पर चार्ज

चेक जारी करने पर चार्ज

बैंक ने चेक लीव (पेज) जारी करने के चार्ज में भी संशोधन किया है। ग्राहकों को प्रति वर्ष 20 मुफ्त चेक के अलावा प्रति चेक 5 रुपये का भुगतान करना होगा। चेक जारी करने की नई दरें भी अगले महीने से लागू होंगी। इस समय ग्राहक खाता खोलने के पहले वर्ष में एक वर्ष में बिना किसी शुल्क के 60 चेक तक दिए जा सकते हैं। इसके अगले साल 50 चेक तक दिए जा सकते हैं। इसके ऊपर चेक लेने पर प्रति चेक 5 रुपये देने होंगे।

लॉकर किराये के बदले चार्ज
 

लॉकर किराये के बदले चार्ज

आईडीबीआई बैंक ने लॉकर किराए के शुल्क में भी बदलाव किया है। जुबलीप्लस के वरिष्ठ नागरिक खाताधारकों को मासिक औसत बैलेंस (एमएबी) 10,000 रुपये से कम होने पर लॉकर किराए पर कोई छूट नहीं मिलेगी। ग्राहकों को सभी 12 महीनों के लिए 10,000 रु से 24,999 रु बैलेंस रखने पर 10 प्रतिशत की छूट और 25,000 रुपये मासिक बैलेंस रखने पर 15 प्रतिशत की छूट मिलेगी।

अभी मिलता है 25 फीसदी डिस्काउंट

अभी मिलता है 25 फीसदी डिस्काउंट

इस समय बैंक चारों तिमाहियों में 5000 रु का औसत बैलेंस रखने पर भी लॉकर चार्ज में 25 प्रतिशत की छूट मिलती है। लॉकर चार्ज सुपरशक्ति महिलाओं के खाते पर समान संशोधित शुल्क लागू होंगे। बैंक ने कहा कि यह छूट सिर्फ ए और बी साइज के लॉकरों पर दी जाएगी। इसके अलावा बैंक ने जुबलीप्लस और सुपरशक्ति खातों के लिए प्रति माह अन्य बैंक एटीएम (वित्तीय और गैर वित्तीय दोनों) से मुफ्त लेनदेन की संख्या में 10 से घटा कर 5 कर दी है।

आरबीआई ने बदले एटीएम के नियम

आरबीआई ने बदले एटीएम के नियम

भारतीय रिजर्व बैंक ने एटीएम लेनदेन से संबंधित कुछ शुल्क बढ़ा दिए हैं। इसके अलावा इंटरचेंज शुल्क और अन्य चार्जेस में भी संशोधन किया गया है। ये बदलाव क्रमशः 1 जनवरी 2022 और इस साल 1 अगस्त से लागू होंगे। पिछली बार एटीएम लेनदेन पर शुल्क 2012 में संशोधित किया गया था। आरबीआई की तरफ से किए गए एटीएम चार्जेस में बदलाव लगभग 9 वर्षों के बाद किए गए हैं।

जानिए एटीएम चार्ज

जानिए एटीएम चार्ज

ग्राहकों से मुफ्त लेनदेन की सीमा समाप्त होने के बाद 1 जनवरी 2022 से प्रति एटीएम लेनदेन पर 21 रुपये का शुल्क लिया जाएगा। नया इंटरचेंज शुल्क 1 अगस्त से प्रभावी होगा। वित्तीय लेनदेन पर प्रति लेनदेन 17 रुपये मूल्य का इंटरचेंज शुल्क लगेगा, जो पहले 15 रुपये था। गैर-वित्तीय लेन-देन पर 6 रुपये का इंटरचेंज शुल्क लगेगा, जो पहले 5 रुपये था।

English summary

IDBI bank gave a setback if you deposit cash more often it will recover money

IDBI Bank has also changed the locker rent charges. JubileePlus Senior Citizen account holders will not get any discount on locker rent if the Monthly Average Balance (MAB) is less than Rs 10,000.
Story first published: Sunday, June 13, 2021, 13:01 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X