For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Post Office खाताधारकों के लिए बड़ी खुशखबरी, मिनिमम बैलेंस न होने पर कम लगेगा जुर्माना

|

नई दिल्ली, अप्रैल 14। अगर आपका बचत खाता भी पोस्ट ऑफिस में है तो आपके लिए बड़ी खुशखबरी है। पोस्ट ऑफिस बचत खाते में न्यूनतम बैलेंस न रखने पर लगने वाला जुर्माना घटा कर आधा कर दिया गया है। वित्त मंत्रालय की तरफ से जारी की गयी अधिसूचना के अनुसार पोस्ट ऑफिस बचत खाते में न्यूनतम बैलेंस बरकरार न रखने पर लगाया जाने वाला जुर्माना 100 रुपये से घटा कर 50 रुपये (जीएसटी सहित) कर दिया गया है। यह पोस्ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट स्कीम 2019 के नियमों में बदलाव के तहत किया गया।

 

कितना रखना होता है मिनिमम बैलेंस

कितना रखना होता है मिनिमम बैलेंस

पोस्ट ऑफिस बचत खाता नियमों के अनुसार वर्तमान में खाताधारक को 500 रुपये का न्यूनतम बैलेंस बनाए रखना आवश्यक है। यदि पोस्ट ऑफिस बचत खाते में न्यूनतम बैलेंस 500 रुपये से कम हो जाए और वित्तीय वर्ष की समाप्ति से पहले खाते में इसकी पूर्ति न की जाए तो खाता रखरखाव शुल्क लगाया जाता है। अभी तक ये शुल्क 100 रु था, जिसे घटा कर जीएसटी सहित 500 रु कर दिया गया है।

बंद हो जाएगा खाता
 

बंद हो जाएगा खाता

इसके अलावा यदि खाते में से रखरखाव शुल्क काटने पर आपका बैलेंस शून्य हो गया पोस्ट ऑफिस खाता अपने आप बंद हो जाएगा। साथ ही यदि पोस्ट ऑफिस के बचत खाते में न्यूनतम बैलेंस न रखा जाए तो ब्याज का भुगतान भी नहीं किया जाएगा। जरूरी न्यूनतम बैलेंस का नियम साइलेंट खातों पर भी लागू होता है। साइलेंट या मौन खाते वे खाते होते हैं जिनमें तीन लगातार वित्तीय वर्षों में कोई जमा / निकासी नहीं की गई है।

एसबीआई में नहीं होती जरूरत

एसबीआई में नहीं होती जरूरत

दिलचस्प बात यह है कि मार्च 2020 में देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने जरूरी न्यूनतम शेष राशि को समाप्त कर दिया था। एसबीआई बचत खाते में मासिक औसत शेष राशि की आवश्यकता नहीं है। ये फैसला कोरोना के कारण लोगों की सहूलियत के लिए लिया गया था।

पोस्ट ऑफिस में इसलिए देना होगा जुर्माना

पोस्ट ऑफिस में इसलिए देना होगा जुर्माना

सेविंग्स अकाउंट में एक महीने में चार बार तक कैश निकालने पर कोई शुल्क नहीं लगता है। इसके बाद प्रत्येक लेनदेन पर निकाली गई कुल राशि का 0.50 प्रतिशत या 25 रु शुल्क लिया जाएगा। हालांकि आपको कैश जमा करते समय कोई चार्ज नहीं देना होगा। आप बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के नकद राशि जमा कर सकते हैं। बेसिक बचत खाते के अलावा यदि आपके पास बचत खाता या चालू खाता है तो आप बिना अतिरिक्त शुल्क दिए हर महीने 25,000 रुपये तक निकाल सकते हैं। हालांकि उसके बाद हर बार निकासी पर निकाली गई कुल राशि का 0.50 प्रतिशत या न्यूनतम 25 रुपये शुल्क आपसे लिया जाएगा।

पैसे जमा करने पर भी जुर्माना

पैसे जमा करने पर भी जुर्माना

अगर आप महीने में 10,000 रुपये तक का कैश डिपॉजिट करते हैं, तो कोई चार्ज नहीं लगेगा। हालाँकि यदि आप इससे अधिक राशि जमा करते हैं तो प्रत्येक जमा पर न्यूनतम 25 रुपये या कुल राशि का 0.50 प्रतिशत शुल्क लिया जाएगा। कैश जमा करने की लिमिट के बाद पैसे जमा करने पर हर ट्रांजैक्शन पर 20 रुपये का चार्ज लिया जाएगा। साथ ही कैश निकालने पर चार्ज 20 रुपये रखा गया है। मिनी स्टेटमेंट प्राप्त करने के लिए आपको कम से कम 1 रु और अधिकतम 20 रु का चार्ज देन होगा।

Post Office : जानिए ब्याज दरें और कितने दिनों में पैसा हो जाएगा डबल

English summary

good news for post office account holders penalty have been reduced for not having minimum balance

According to the Post Office Savings Account Rules, at present the account holder is required to maintain a minimum balance of Rs 500.
Story first published: Wednesday, April 14, 2021, 18:19 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X