For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Unlimited Free : इन बैंकों के ATM से जितनी मर्जी बार निकालो पैसा, नहीं लगेगा कोई चार्ज

|

नई दिल्ली, जून 14। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने हाल ही में बैंकों को एटीएम से लेन-देन की मुफ्त लिमिट खत्म होने के बाद ज्यादा शुल्क लेने की अनुमति दे दी है। केंद्रीय बैंक ने बैंकों को हाई इंटरचेंज चार्ज और एटीएम ऑपरेटिंग लागत में बढ़ोतरी की क्षतिपूर्ति करने के लिए यह फैसला किया। 1 अगस्त 2021 से बैंकों को एटीएम ट्रांजेक्शन फीस बढ़ाने की इजाजत होगी। अधिकतर बैंक अभी भी सीमित फ्री ट्रांजेक्शन लिमिट के बाद ग्राहकों के एटीएम से लेन-देन पर चार्ज लेते हैं। मगर कुछ बैंक ऐसे हैं, जो एटीएम से अनलिमिटेड लेन-देन पर भी कोई चार्ज नहीं लेते। हम आपको यहां उन्हीं बैंकों की जानकारी देंगे।

 

SBI, PNB, HDFC और ICICI : FD पर कौन दे रहा ज्यादा ब्याज, चेक करें

9 साल बाद हुई बढ़ोतरी

9 साल बाद हुई बढ़ोतरी

आरबीआई की तरफ से जारी किए गए सर्कुलर में कहा गया है एक समिति की सिफारिशों की जांच की गई है। यह भी देखा गया है कि एटीएम लेनदेन के लिए इंटरचेंज शुल्क स्ट्रक्चर में आखिरी बार बदलाव अगस्त 2012 में हुआ था, जबकि ग्राहकों द्वारा देय शुल्क अगस्त 2014 में अंतिम बार बदले गए थे। इस प्रकार इन चार्जेस को अंतिम बार बदले जाने के बाद से काफी समय बीत चुका है।

क्या होता है इंटरचेंज शुल्क
 

क्या होता है इंटरचेंज शुल्क

सबसे पहले ये जानिए कि एक इंटरचेंज शुल्क कार्ड जारी करने वाले बैंक द्वारा उन एटीएम ऑपरेटरों को भुगतान किया जाने वाला वो शुल्क होता है, जो बैंक के स्वामित्व में नहीं है। जब आप ऐसा कोई एटीएम इस्तेमाल करते हैं तो आपके बैंक को उस एटीएम ऑपरेटर को कुछ चार्ज देना होता है, जिसे इंटरचेंज शु्ल्क कहते हैं। यानी मान लीजिए आपका बैंक एसबीआई है, मगर आप पीएनबी एटीएम से पैसे निकालते हैं तो एसबीआई पीएनबी को इंटरचेंज शुल्क देगा।

कितनी है फ्री लिमिट

कितनी है फ्री लिमिट

भारत में प्राइवेट और सरकारी बैंक आम तौर पर बड़े शहरों और कस्बों में तीन से पांच मुफ्त एटीएम लेनदेन ऑफर करते हैं। ग्रामीण बैंक पांच मुफ्त एटीएम लेनदेन की अनुमति देते हैं। गौरतलब है कि फाइनेंशियल लेनदेन के लिए 1 अगस्त, 2021 से प्रति लेनदेन उच्च इंटरचेंज शुल्क 15 रुपये से बढ़ा कर 17 रुपये होगा। कैश निकासी का चार्ज 20 रुपये से बढ़ाकर 21 रुपये कर दिया गया है। केंद्रीय बैंक के अनुसार नॉन-फाइनेंशियल लेन-देन को अब सभी स्थानों पर 5 रुपये से बढ़ा कर 6 रुपये किया जा सकता है।

ये बैंक दे रहे अनलिमिटेड फ्री ट्रांजेक्शन

ये बैंक दे रहे अनलिमिटेड फ्री ट्रांजेक्शन

देश के तीन निजी बैंकों के ग्राहक असीमित मुफ्त एटीएम लेनदेन का आनंद ले सकते हैं। इनमें इंडसइंड बैंक, आईडीबीआई बैंक और सिटी बैंक शामिल हैं। आईडीबीआई बैंक के ग्राहक अपने बैंक के एटीएम से असीमित लेनदेन कर सकते हैं। बाकी भारत में किसी भी बैंक के एटीएम पर (अन्य एटीएम से) पांच लेनदेन निःशुल्क हैं। इंडसइंड बैंक भी असीमित मुफ्त एटीएम लेनदेन देता है। मगर ध्यान रहे कि सिटी बैंक भारत में अपना कारोबार बंद करने जा रहा है।

इस बैंक के ग्राहकों को झटका

इस बैंक के ग्राहकों को झटका

आईडीबीआई बैंक के ग्राहकों को बचत बैंक खातों में कैश जमा करने की मुफ्त पांच लेनदेन की सुविधा मिलेगी। यह नियम अर्ध-शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों की शाखाओं के लिए लागू होगा। वहीं सुपर सेविंग प्लस खातों के लिए अर्ध-शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में मुफ्त लेन-देन की सीमा 8-8 होगी। इस लिमिट के ऊपर कैश जमा करने पर बैंक आपसे शुल्क वसूल करेगा। नया नियम अगले महीने से लागू हो जाएगा। यानी ये नियम 1 जुलाई से लागू होने जा रहे हैं।

English summary

Free Withdraw money as many times as you want from ATMs of these banks there will be no charge

Most banks still charge customers' ATM transactions beyond the limited free transaction limit. But there are some banks, which do not charge any charge even for unlimited transactions from ATMs.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X