For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

EPF : इन 4 वजहों से नहीं मिलता आपके जमा पैसे पर ब्याज

|

नयी दिल्ली। नौकरीपेशा लोगों के लिए रिटायरमेंट के लिए सबसे बेस्ट ऑप्शन है प्रोविडंट फंड। एम्प्लॉई प्रोविडंट फंड (ईपीएफ) में आपका पैसा भी जमा होता है ईपीएफओ की तरफ उस पैसे पर ब्याज भी मिलता है। रिटायरमेंट तक आपके पीएफ अकाउंट में अच्छी खासी रकम जमा हो सकती है। जहां तक ब्याज का सवाल है तो एक बार ईपीएफ खाता निष्क्रिय हो जाए तो उस डेट से आगे आपको कोई ब्याज नहीं दिया जाता। जी हां उन वजहों पर ध्यान देना जरूरी है जिनमें आपके ईपीएफ खाते में ब्याज नहीं दिया जाता। ईपीएफओ के दिशानिर्देशों के अनुसार ऐसी 4 स्थितियां हैं जिनके तहत ग्राहक को ईपीएफ खाते पर ब्याज नहीं मिलता है। आइए जानते हैं उन कारणों के बारे में।

55 साल के बाद रिटायर होने पर
 

55 साल के बाद रिटायर होने पर

ये पहला बड़ा कारण जिसके चलते आपको ईपीएफ खाते पर ब्याज नहीं मिलेगा। 55 वर्ष की आयु के बाद सेवा से रिटायर होने पर ग्राहक को ईपीएफ खाते पर कोई ब्याज नहीं मिलेगा।

विदेश में बस जाने पर

अगर ईपीएफ ग्राहक हमेशा के लिए देश से बाहर किसी अन्य देश में हमेशा के लिए बस जाए तो इस कंडीशन में भी ईपीएफ खाते में जमा राशि पर ब्याज का भुगतान नहीं किया जाता।

मृत्यु होने पर

मृत्यु होने पर

ईपीएफ खाते पर ग्राहक की मृत्यु की स्थिति में भी ब्याज नहीं दिया जाता। ये तीन कारण सरल हैं।

ये है अहम वजह

यदि सर्विस की अवधि पूरी होने के 36 महीनों बाद तक ग्राहक की तरफ से कोई क्लेम न किया जाए तो भी ब्याज का भुगतान नहीं होता। अन्य शब्दों में ग्राहक के नौकरी छोड़ने के 36 महीनों के भीतर अपनी बकाया राशि को वापस लेने के लिए आवेदन नहीं करने पर ईपीएफ बैलेंस पर ब्याज नहीं मिलता। लेकिन 36 महीने तक पीएफ बैलेंस पर ब्याज मिलता रहेगा।

टैक्स पर मिलती है छूट
 

टैक्स पर मिलती है छूट

इसके अलावा ध्यान रखें कि कर्मचारी को देय ईपीएफ बैलेंस टैक्स फ्री होता है, बशर्ते उसने पांच साल या उससे अधिक की अवधि में लगातार सर्विस दी हो। यह भी ध्यान दें अगर आपने विभिन्न संगठनों में काम किया है और यदि ईपीएफ बैलेंस अकाउंट में ट्रांसफर किया जाता रहा तो यह माना जाता है कि आपने टैक्सेशन के उद्देश्य से पांच साल या उससे अधिक समय तक लगातार सर्विस दी है।

इस बार 2 बार में मिलेगा पूरा ब्याज

इस बार 2 बार में मिलेगा पूरा ब्याज

ईपीएफओ ने ईपीएफ पर वित्त वर्ष के लिए 2019-20 8.5 प्रतिशत ब्याज का भुगतान करने का ऐलान किया। मगर इस बार आपके पीएफ फंड पर ये पैसा एक में नहीं बल्कि 2 किस्तों में आएगा। ईपीएफओ ने ऐलान किया कि ये ग्राहकों के ईपीएफ खाते में 8.15 प्रतिशत ब्याज अभी क्रेडिट करेगा, जबकि बाकी 0.35 प्रतिशत ब्याज इस साल दिसंबर में ग्राहकों के खाते में जमा किया जाएगा।

EPFO : बिना नौकरी भी पा सकेंगे पेंशन, जानिए तैयारी

English summary

EPF These 4 reasons do not get interest on your deposited money

Interest is not paid on the EPF account even in the event of death of the customer.
Story first published: Monday, September 28, 2020, 18:02 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X