For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

एयरटेल और वोडा के रेट बढ़ाने के बाद भी जियो से निपटना आसान नहीं

|

नयी दिल्ली। एयरटेल, वोडाफोन और रिलायंस जियो में चल रही प्रतिस्पर्धा टैरिफ बढ़ाने के बाद और तेज हो गयी है। भारत में टेलीकॉम सेक्टर के कुल ग्राहकों में से 80 फीसदी इन तीन कंपनियों के पास ही हैं। इन कंपनियों ने ग्राहकों पर टैरिफ का भार बढ़ा दिया है। इसके अलावा भी यह एक-दूसरे के ग्राहकों को अपने साथ जोड़ने का प्रयास कर रही हैं। 2016 में जियो के बाजार में आने और मुफ्त कॉलिंग के साथ डेटा बेनेफिट देने से एयरटेल और वोडाफोन को काफी झटका लगा था। उस झटके का असर इन दोनों कंपनियों, हालाँकि उस समय वोडाफोन और आइडिया अलग-अलग कंपनियाँ थीं, के ग्राहक आधार और वित्तीय स्थिति पर भी पड़ा था। समय के साथ जियो की वित्तीय स्थिति मजूत हुई है। मगर एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया के मर्जर के बावजूद इनकी वित्तीय स्थिति खराब हुई है। एयरटेल और वोडाफोन को जुलाई-सितंबर में तिमाही काफी तगड़ा घाटा भी हुआ है।

क्यों हुआ घाटा भारी घाटा

क्यों हुआ घाटा भारी घाटा

जुलाई-सितंबर तिमाही में एयरटेल को 23,045 करोड़ रुपये और वोडाफोन को 50,921 करोड़ रुपये का जबरदस्त घाटा हुआ। जबकि जियो के मुनाफे में 45 फीसदी की जबरदस्त बढ़ोतरी हुई थी। इसकी मुख्य वजह रही थी सब्सक्राइबर बढ़ाना और उपभोक्ताओं द्वारा डेटा का अधिक इस्तेमाल करना। साल दर साल आधार पर जियो का मुनाफा 681 करोड़ रुपये के मुकाबले 990 करोड़ रुपये रहा था। जबकि एयरटेल और वोडाफोन को इतने तगड़े घाटे की असल थी एजीआर के भुगतान के लिए प्रोविजन बनाना। दूरसंचार विभाग ने टेलीकॉम कंपनियों से कुल 1.47 लाख करोड़ रुपये के बकाया एजीआर का भुगतान करने को कहा है। एयरटेल और वोडाफोन को भी हजारों करोड़ रुपये का एजीआर जमा करना है।

जियो की वित्तीय स्थिति मजबूत
 

जियो की वित्तीय स्थिति मजबूत

दरअसल रेट बढ़ाने के बावजूद जियो के एयरटेल और वोडाफोन से मात न खाते की असल वजह है मजबूत वित्तीय स्थिति। मुकेश अंबानी ग्रुप की रिलायंस जियो ने जुलाई-सितंबर तिमाही में लगातार आठवीं तिमाही मुनाफा कमाया। साथ ही इसका उपभोक्ता बाकी दोनों कंपनियों से ज्यादा हो गया है। वहीं जियो पर 60.52 करोड़ रुपये बतौर एजीआर का बकाया है, जबकि वोडाफोन को 53,000 करोड़ रुपये और एयरटेल को 35,500 करोड़ रुपये का एजीआर चुकाना है। यह एक वित्तीय दबाव है, जिसे जियो के लिए झेलना आसान है।

जियोफोन यूजर्स के लिए भी प्लान किया महंगा

जियोफोन यूजर्स के लिए भी प्लान किया महंगा

अन्य मोबाइल उपभोक्ताओं के बाद रिलायंस जियो ने अपने जियोफोन यूजर्स को भी झटका दिया है। कंपनी ने जियोफोन के 49 रुपये वाले उस सस्ते प्लान को बंद कर दिया, जिसमें 28 दिनों की वैलिडिटी के साथ अनलिमिटेड कॉलिंग और 1 जीबी 4जी डेटा मिलता था। उपभोक्ताओं को सभी नटवर्कों पर अनलिमिटेड कॉलिंग और 50 मैसेज भी मिलते थे। यह प्लान समान वैलिडिटी के साथ 75 रुपये का हो गया, जिसमें रोज 100 एमबी डेटा मिलेगा। अन्य नेटवर्कों के लिए 500 मिनट और 50 एसएमएस भी आपको मिलेंगे।

 

जियो और एयरटेल में चल रहा 100-100 रुपये का खेल, जानें क्या हो रहा

English summary

Despite increasing the rates of Airtel and Voda it is not easy to deal with Jio

Jio has earned profit in july-september quarter. Where as airtel and vodafone were in deep loss.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Goodreturns sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Goodreturns website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more