For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Bitcoin : 6 लाख रु में खरीदे 216 करोड़ रु में बिके, बन गया अमीर

|

नई दिल्ली, सितंबर 22। पिछले कुछ सालों से बिटकॉइन ने खूब तहलका मचा रखा है। लोग जम कर इस क्रिप्टोकरेंसी में पैसा लगा रहे हैं। बहुत से लोग इससे मालदार भी हुए हैं। एक ऐसी ही नयी घटना सामने आई है, जिसमें एक बिटकॉइन वॉलेट सालों तक निष्क्रिय रहा और अब एक्टिव हुआ है। इस अकाउंट में 12 वर्षों के दौरान मामूली लेन-देन हुई है। पर अचानक एक्टिव हुए इस अकाउंट में 616 टोकन हैं, जिसकी वैल्यू आज के हिसाब से 2.94 करोड़ डॉलर (लगभग 216 करोड़ रुपये) है। इस वॉलेट में 10 दिसंबर 2012 को 616 कॉइन लिए गए, तब प्रत्येक बिटकॉइन की कीमत 13.30 डॉलर (लगभग 978 रुपये) थी। इसका मतलब है कि उस समय कुल लेनदेन मूल्य 8,195 डॉलर (लगभग 6 लाख रुपये) था।

 

Hawkins FD Scheme : 8 फीसदी तक मिलेगा ब्याज, फटाफट करें निवेश

व्हेल अकाउंट में किया कंवर्ट

व्हेल अकाउंट में किया कंवर्ट

इस वॉलेट में बिटकॉइन की वृद्धि को देखते हुए इसे व्हेल अकाउंट बना दिया है। व्हेल अकाउंट वो अकाउंट होते हैं, जो कई सालों तक इनेक्टिव रहने के बाद अचानक एक्टिव हो जाएं। इसके बाद इनसे करोड़ों डॉलर का लेनदेन हो। इन व्हेल अकाउंट को लोकप्रिय और विवादित दोनों कहा जाता है। 2012 में बिटकॉइन एक बहुत ही नया विचार था और बहुत से लोग इसे नहीं जानते थे या इस पर भरोसा नहीं करते थे।

शुरुआती निवेशकों की बल्ले-बल्ले
 

शुरुआती निवेशकों की बल्ले-बल्ले

धीरे-धीरे बिटकॉइन का दायरा बढ़ता गया। अधिक लोगों को इसके बारे में पता चला और वे इसमें शामिल हो गए। बिटकॉइन पर चांस लेने वाले शुरुआती निवेशकों ने तगड़ा मुनाफा कमाया। ब्लॉकचेन के अनुसार विचाराधीन (6 लाख रु से 216 करोड़ रु बनाने वाला) वॉलेट ने 19 सितंबर को बिटकॉइन को ट्रांसफर कर दिया। 12 साल बाद बिटकॉइन वॉलेट के एक्टिव होने से ये पता लगता है कि निवेश कैसे बढ़ता है। व्हेल खाताधारक ने पिछले नौ वर्षों में 3,58,655 प्रतिशत की ग्रोथ हासिल की है।

व्हेल अकाउंट की लेन-देन

व्हेल अकाउंट की लेन-देन

जुलाई में बिटकॉइन व्हेल खातों के एक समूह, जो दिसंबर 2018 से निष्क्रिय था, ने हजारों बिटकॉइन खरीदे। उन्होंने 17 जुलाई और 18 जुलाई को 84.18 करोड़ डॉलर (लगभग 62,789 करोड़ रुपये) मूल्य के 28,377 बिटकॉइन खरीदे। इसी तरह की घटना जून में भी हुई थी, जब 900 बिटकॉइन वाला एक वॉलेट नौ साल बाद अचानक एक्टिव हो गया था। इसकी होल्डिंग, जिसकी कीमत 2012 में 12,778 डॉलर (लगभग 9.35 लाख रुपये) थी, बढ़कर लगभग 3.3 करोड़ डॉलर (लगभग 242 करोड़ रुपये) हो गई।

बिटकॉइन में गिरावट

बिटकॉइन में गिरावट

क्वाइनडेस्क पर बिटकॉइन क्रिप्टोकरेंसी का रेट इस समय करीब 42,144.34 डॉलर पर है। इसमें करीब 1 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है। इस रेट पर बिटकॉइन क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैपिटल 793.85 अरब डॉलर है। पिछले चौबीस घंटों में बिटकॉइन क्रिप्टो करेंसी की अधिकतम कीमत 43,614.60 डॉलर और न्यूनतम कीमत 39,612 डॉलर रही है।

जानिए क्रिप्टोकरेंसी क्या होती है

जानिए क्रिप्टोकरेंसी क्या होती है

क्रिप्टोकरेंसी मुद्रा की एक डिजिटल फॉर्म है। ये पूरी तरह से नये मौद्रिक सिस्टम पर चलती है। हर डिजिटल करेंसी को डीसेंट्रलाइज्ड पीयर-टू-पीयर नेटवर्क से सपोर्ट मिलता है, जिसे ब्लॉकचेन कहते है। ब्लॉकचेन तकनीक सभी क्रिप्टोकरेंसी को ट्रैक किये जाने को सुनिश्चित करती है, भले ही फिर वे डिजिटल वॉलेट में हों या ट्रेडिंग में इस्तेमाल किए जा रहे हों। ऐसे सिस्टम को चलाने के लिए एक इन्फ्रास्ट्रक्चर की जरूरत होती है, जिससे यह सुनिश्चित हो कि सिस्टम के साथ धोखा और गड़बड़ नहीं हो सकती।

English summary

Bitcoin bought for Rs 6 lakh sold for Rs 216 crore became rich

Seeing the growth of bitcoin in this wallet, it has been made a whale account. Whale accounts are accounts that suddenly become active after being inactive for many years.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X