For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

महंगाई की एक और मार : बढ़ेगा Rail का किराया, जानिए कितना

|

नयी दिल्ली। महंगाई कई मोर्चों पर पहले से ही परेशान कर रही है कि अब आम जनता के लिए एक और बुरी खबर आई है। महंगी गैस, पेट्रोल और डीजल के बाद अब रेल का किराया बढ़ने वाला है। रेलवे ने छोटी दूरी की यात्री ट्रेनों का किराया बढ़ा दिया है। रेलवे ने ये फैसला इसलिए लिया ताकि लोगों को ट्रेन में सफर करने से हतोत्साहित किया जा सके। असल में रेलवे चाहता है ऐसी ट्रेनों में अधिक लोग सफर न करें। रेलवे के फैसले से उन यात्रियों पर पड़ेगा, जो 30-40 किमी तक का सफर करते हैं। आगे जानिए कितना किराया बढ़ाया गया है।

 

किराए में होगी मामूली बढ़ोतरी

किराए में होगी मामूली बढ़ोतरी

बता दें कि रेलवे ने किराए में बहुत अधिक बढ़ोतरी नहीं की है। रेल मंत्रालय के अनुसार रैसेंजर और अन्य छोटी दूरी की ट्रेनों के लिए किराए में बढ़ोतरी इसलिए की जा रही है ताकि लोग ऐसे सफर करने से बचें, जो जरूरी नहीं हैं। ये किराया समान दूरी के लिए मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों की अनारक्षित कीमत पर तय किया जाता है। मालूम हो कि रेलवे द्वारा किराया बढ़ाए जाने का असर केवल 3 फीसदी ट्रेनों पर पड़ेगा।

कोरोना महामारी को काबू रखना

कोरोना महामारी को काबू रखना

किराये में बढ़ोतरी के जरिए लोग छोटी यात्रा ट्रेन के जरिए करने से बचेंगे। लोग कम इकट्ठे होंगे, जिससे कोरोना महामारी को फैलने से रोका जा सकेगा। यही रेलवे का प्लान है। भारतीय रेलवे को कोरोनायरस को फैलने से रोकने के के उपाय के रूप में 22 मार्च 2020 को लागू किए गए लॉकडाउन के कारण नियमित ट्रेनें चलाने से रोकना पड़ा था।

पहले से अधिक चल रही ट्रेनें
 

पहले से अधिक चल रही ट्रेनें

लॉकडाउन खुलने के बाद से रेलवे ने चलने वाली ट्रेनों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी की है। भारतीय रेलवे क्रमबद्ध तरीके से यात्री ट्रेनों की संख्या बढ़ा रहा है। मंत्रालय ने कहा कोविड से पहले जितनी चलने वाली यात्री ट्रेनों की नियमित सेवाओं की बहाली के लिए कई चीजों पर ध्यान दिया जाएगा। साथ ही ऑपरेशनल परिस्थितियों को भी ध्यान में रखा जाएगा।

कितनी ट्रेनें चल रही हैं

कितनी ट्रेनें चल रही हैं

भारतीय रेलवे ने लॉकडाउन से पहले की तुलना में लगभग 65 फीसदी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के साथ साथ 90 फीसदी से अधिक उपनगरीय ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया है। कुल 1250 मेल और एक्सप्रेस, 5350 उपनगरीय सर्विसेज और 326 से अधिक यात्री ट्रेनें वर्तमान में दैनिक आधार पर चल रही हैं।

राज्य कर रहे स्क्रीनिंग

राज्य कर रहे स्क्रीनिंग

कुछ राज्यों में कोरोना के मामले फिर से बढ़ रहे हैं। इसलिए कुछ राज्य अन्य राज्यों से आने वालों की स्क्रीनिंग कर रहे हैं। इससे लोग सफर करने से बचते हैं। रेल मंत्रालय का मानना है कि ट्रेनों में भीड़ को रोकने और कोविड को फैलने से रोकने के लिए किराये की कीमतें बढ़ाना एक अच्छा उपाय है।

IRCTC Tour Package : धार्मिक स्थलों की यात्रा के साथ 4 राज्यों में घूमने का मौका, जानिए खर्च

English summary

Another blow for public Rail fare will increase know how much

Railways have not increased the fares very much. According to the Railway Ministry, the fare is being increased for passenger and other short distance trains so that people avoid traveling, which are not necessary.
Story first published: Thursday, February 25, 2021, 16:57 [IST]
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X