For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

1 जून से बदल रहे हैं 7 न‍ियम, जानें कितना पड़ेगा आप पर असर

|

नई दिल्‍ली: आने वाला महीना आपके लिए बहुत कुछ लेकर आ रहा है। जी हां 1 जून 2019 से कई बड़े बदलाव होने जा रहे हैं जिसका आपकी रोजमर्रा की जिंदगी पर बड़ा असर होगा। ये बदलाव बैंक (Bank) , पेट्रोल (Petrol), रसोई गैस (kitchen gas)और रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़े हुए हैं। RBI की ओर ऑनलाइन पैसों के लेन-देन (Digital transaction) से जुड़ा नया नियम लागू हो जाएगा। वहीं, रसोई गैस की कीमतें तय होंगी। इसके साथ ही, RBI की क्रेडिट पॉलिसी (Credit policy) आएगी। जिसमें ब्याज दरों पर फैसला होगा। माना जा रहा है कि ब्याज दरें (Interest Rate) घट सकती है। ऐसे में आपकी जेब पर बोझ घट जाएगा। वहीं, घर का खर्च चलाने वालों पर भी इन बदलावों का असर होगा। 1 जून 2019 से आपके जीवन में 7 ऐसे बदलाव होने जा रहे हैं, जो सीधे तौर पर आपकी जेब पर असर डालेंगे।

रसोई गैस सिलेंडर महंगा हो सकता
 

रसोई गैस सिलेंडर महंगा हो सकता

हर महीने की तरह 1 जून से रसोई गैस सिलेंडर (Kitchen gas cylinder) की नई कीमतें जारी होगी। इससे पहले 1 मई को रसोई गैस की कीमतों (LPG prices) में बढ़ोतरी हुई थी। ऑयल मार्केटिंग कंपनियों (Oil marketing companies) ने घरेलू एलपीजी सिलेंडर (Domestic LPG cylinders) के दाम मई में 28 पैसे बढ़ाएं थे। तो वहीं, गैर-सब्सिडी (Non subsidy) वाले सिलिंडर की कीमत 6 रुपए बढ़ी थी।

अब आप आसानी से अमेजन की मदद से कर सकेंगे टोल पार ये भी पढ़ें

आपकी EMI कम हो सकती

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India) (RBI) की ओर से ब्याज दरों में कटौती का फिर से ऐलान किया जा सकता है। बता दें कि आरबीआई () की द्विमासिक नीति (Bi-monthly policy) की घोषणा 6 जून 2019 को होगी। दरों में कटौती से आम लोगों को सस्ती दरों पर कर्ज मिल सकेगा। औद्योगिक जगत की तरफ से सस्ती दरों पर कर्ज की मांग की जा रही है। वहीं, नई सरकार मैन्यूफैक्चरिंग (Government manufacturing) को बढ़ावा देने के लिए निर्माण की लागत को कम करना चाहती है। ऐसे में, 6 जून को आरबीआई (RBI) की तरफ से दरों में कटौती की संभावना दिख रही है।

No-cost EMI के बारें में लें पूरी जानकारी ये भी पढ़ें

पैसों के लेन-दने से जुड़ा नियम बदलेगा
 

पैसों के लेन-दने से जुड़ा नियम बदलेगा

जानकारी दें कि 1 जून से RTGS ट्रांजैक्शन (Transaction) का समय शाम 6 बजे तक होगा। RTGS ट्रांजैक्शन (प्रारंभिक कट-ऑफ) के लिए समय 4:30 बजे से शाम 6 बजे तक बढ़ाया गया है। फिलहाल RTGS में ट्रांजैक्शन (Transaction) सप्ताह के दिनों में सुबह 9 बजे से शाम 4:30 बजे तक और शनिवार को सुबह 9 बजे से दोपहर 1:30 बजे तक होती है। अब RTGS के जरिए कम से दो लाख रुपये भेजे जाते हैं। अधिक से अधिक रकम भेजने की कोई लिमिट (Limit) नहीं है। RBI के आंकड़ों के मुताबिक, अप्रैल 2019 में RTGS के जरिए 112 लाख करोड़ रुपये का लेन-देन किया गया।

डिजिटल लेनदेन नकद भुगतान से बेहतर क्यों है ये भी पढ़ें

GST आपदा टैक्‍स केरल में होगा लागू

बीते साल केरल (Kerala) में आई भयंकर बाढ़ से राज्य के ज्यादातर हिस्से बुरी तरह से प्रभावित हुए थे। राज्य के पुनर्निर्माण के लिए राज्य कर विभाग 1 जून से एक फीसदी अतिरिक्त टैक्‍स (Extra tax) लगाने जा रहा है। यह टैक्स 5 फीसदी से अधिक जीएसटी स्लैब (GST Slab) वाले सभी आइटम्स (Items) पर लगाया जाएगा। हालांक‍ि जानकारी के मुताबिक 1 जून 2019 से अगले दो साल तक के लिए यह सेस एक फीसदी की दर से वसूला जाएगा।

नरेंद्र दामोदर दास मोदी ने आज दूसरी बार ली प्रधानमंत्री पद की शपथ ये भी पढ़ें

नहीं मिलेगा पेट्रोल बिना हेलमेट के

1 जून से बिना हेलमेट (Without helmet) लगाए दोपहिया वाहन चलाने वालों को पेट्रोलपंप (Petrol pump) पर पेट्रोल नहीं मिलेगा। हालांकि यह नियम सिर्फ उत्तर प्रदेश के नोएडा और ग्रेटर नोएडा (Noida and Greater Noida) के लिए लागू होगा। बता दें कि सड़क सुरक्षा (road safety) के प्रति जागरुकता लाने के उद्देश्य से जिला प्रशासन ने यह निर्णय लिया है।

अमीर बनना चाहते हैं, तो बस करना होगा ये काम अवश्‍य पढ़ें

बसों में लगेंगे पैनिक बटन

जानकारी दें कि महिलाओं की सुरक्षा (safety of women) को ध्यान में रखते हुए सरकार ने सभी पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्हीकल्स (Public transport vehicles) में पैनिक बटन (Panic button) लगाने का नियम लागू किया है। डीटीसी और क्लस्टर स्कीम की बसों में पैनिक बटन लगाए जाने की तैयारी की जा रही है। आपको बता दें कि दिल्ली में अगले महीने से नई बसों के आने का सिलसिला शुरू हो जाएगा।

सस्‍ता AC उपलब्ध कराएगी मोदी सरकार, आप भी खरीद सकते हैं अवश्‍य पढ़ें

महंगा हुआ आर्मी कैंटीन से कार खरीदना

अब अगर आप कैंटीन से कार खरीदने की सोच रहे हैं तो 1 जून से इसकी ज्‍यादा कीमत चुकानी होगी। दरअसल, व्हीकल्स पर सीएसडी CSD कैंटीन के खर्च को कम करने के लिए सेना ने नया नियम प्रस्तावित किया है, जिसके तहत सैन्य अधिकारी 12 लाख तक का वाहन (जीएसटी हटाकर) कैंटीन से खरीद सकेंगे। वहीं नए नियम के तहत अधिकारी हर 8 साल में एक ही बार कार खरीद सकेंगे और उसमें भी कार के इंजन की क्षमता 2500 सीसी से अधिक नहीं होनी चाहिए। इसी तरह सेना के जवान अपनी सेवा के दौरान सिर्फ एक बार कार खरीद सकेंगे और रिटायरमेंट के बाद जीएसटी मिलाकर 6.5 लाख रुपये तक की कार खरीद पाएंगे।

Pan कार्ड खो गया तो ऐसे बनवाएं घर बैठे नया ये भी पढ़ें

English summary

These 7 Essential Things Will Change From Tomorrow You Should Know

There are many major changes going away from june 1st, which will have the effect of affecting your everyday life, Learn about it।
Company Search
Enter the first few characters of the company's name or the NSE symbol or BSE code and click 'Go'
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Goodreturns sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Goodreturns website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more