For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Credit Card : खर्च करने की लिमिट है कम, तो जानिए बढ़ाने का तरीका

|

नयी दिल्ली। प्लास्टिक मनी के रूप में जाना जाने वाला क्रेडिट कार्ड आज के समय में सबसे अधिक पसंद किए जाने वाले पेमेंट उपकरणों में से एक है। क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके धारक खरीदारी करने के लिए बैंक से पैसे उधार ले सकता है। क्रेडिट कार्डधारक को 25-30 दिनों के भीतर उधार के पैसे चुकाने होते हैं और इसलिए कोई ब्याज नहीं लगता। यदि भुगतान में देर की जाए तो उधारकर्ता को बैंक से शुरू में उधार लिए गए पैसे के साथ अतिरिक्त शुल्क का भुगतान करना पड़ता है। क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके धारक कार्ड जारी करने के समय बैंक द्वारा तय की गई एक फिक्स लिमिट तक खरीदारी कर सकता है। इसे क्रेडिट लिमिट कहा जाता है। मगर यदि आप इस लिमिट को बढ़ाना चाहें तो कैसे बढ़ाएं? यहां हम आपको यही बताएंगे।

ऐसे समझिए क्रेडिट लिमिट
 

ऐसे समझिए क्रेडिट लिमिट

यदि किसी के पास एसबीआई का क्रेडिट कार्ड है और क्रेडिट कार्ड लिमिट 10,000 रुपये प्रति माह है। तो आप प्रति माह 10,000 रुपये से अधिक खर्च नहीं कर सकते। आमतौर पर क्रेडिट कार्ड सीमा जारीकर्ता (बैंक) की तरफ से जारी किए जाने वाले अलग-अलग कार्ड पर अलग होती है। अब जानते हैं क्रेडिट लिमिट बढ़ाने के तरीके।

सिबिल स्कोर में सुधार

सिबिल स्कोर में सुधार

सिबिल स्कोर क्रेडिट कार्ड हासिल करने के लिए बुनियादी आवश्यकताओं में से एक है। सिबिल स्कोर किसी व्यक्ति की वित्तीय मजबूती को दर्शाता है। इसीलिए क्रेडिट कार्ड जारी करने से पहले अधिकांश कंपनियां और बैंक इस स्कोर को देखते हैं। हाई सिबिल स्कोर क्रेडिट सीमा बढ़ाने के लिए एक बेहतर तरीका होता है। इसमें सुधार करके आप क्रेडिट लिमिट बढ़ा सकते हैं।

क्रेडिट लिमिट में बढ़ोतरी के लिए अनुरोध

क्रेडिट लिमिट में बढ़ोतरी के लिए अनुरोध

कार्डधारक क्रेडिट सीमा बढ़ाने के लिए आप बैंक से अनुरोध कर सकते है। आज कल भारत के ज्यादातर बैंक क्रेडिट कार्डधारकों को क्रेडिट सीमा बढ़ाने के लिए ऑनलाइन पोर्टल के जरिए आवेदन करने का ऑप्शन देते हैं। संबंधित बैंक अधिकारी आपके पिछले भुगतानों की हिस्ट्री, सैलेरी अकाउंट की डिटेल, खर्च करने का पैटर्न देखेगा और आखिर में क्रेडिट सीमा बढ़ाने के अनुरोध पर मुहर लगाएगा। आप अपनी क्रेडिट हिस्ट्री हमेशा अच्छा बनाए रखेंगे।

फिक्स्ड डिपॉजिट अमाउंट बढ़ाएं
 

फिक्स्ड डिपॉजिट अमाउंट बढ़ाएं

क्रेडिट कार्डधारक फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम में निवेश की गई राशि को बढ़ा कर अपनी क्रेडिट लिमिट बढ़ा सकते हैं। भारत में कुछ बैंक कार्डधारकों द्वारा खोले गए एफडी खाते के आधार पर क्रेडिट कार्ड ऑफर करते हैं। फिक्स्ड डिपॉजिट पर क्रेडिट कार्ड मिलना अच्छा ऑप्शन है, क्योंकि इससे आप फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम में ज्यादा पैसा जोड़ कर कार्डधारक क्रेडिट लिमिट बढ़ा सकता है। आपको एफडी राशि पर 80 फीसदी तक की क्रेडिट लिमिट मिल सकती है।

क्रेडिट कार्ड को करें अपग्रेड

क्रेडिट कार्ड को करें अपग्रेड

क्रेडिट कार्डधारक अपने मौजूदा क्रेडिट कार्ड को अपग्रेड करने के लिए बैंक से संपर्क कर सकते हैं। कार्डधारक को मौजूदा क्रेडिट कार्ड के अपग्रेड के लिए पात्रता के बारे में बैंक से अनुरोध करना होगा। कार्ड के अपग्रेडेशन के मामले में भी बैंक ग्राहक की पेमेंट हिस्ट्री और साख (Creditworthiness) पर ध्यान देगा। इस तरह क्रेडिटकार्ड धारक अपने संबंधित कार्ड पर क्रेडिट लिमिट बढ़ा सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपसे कुछ चार्ज लिया जाएगा।

Kisan Credit Card : अब केवल 3 डॉक्यूमेंट्स से मिलेगा, जानिए किस-किस की होगी जरूरत

English summary

Credit Card spending limit is low so know how to increase

The credit card limit is usually different for individual cards issued by the issuer (bank). Now know how to increase the credit limit.
Company Search
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?