नोटबंदी के बाद पहली बढ़ा देश के विदेशी मुद्रा भंडार

Written by: Ashutosh
Subscribe to GoodReturns Hindi

30 दिसंबर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की ओर से शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़े के अनुसार, विदेशी पूंजी भंडार का सबसे बड़ा घटक विदेशी मुद्रा भंडार 61.2 करोड़ डॉलर बढ़कर 336.58 अरब डॉलर हो गया, जो 22,860 अरब रुपए के बराबर है।

नोटबंदी के बाद पहली बढ़ा देश के विदेशी मुद्रा भंडार

बैंक के मुताबिक, विदेशी मुद्रा भंडार को डॉलर में व्यक्त किया जाता है और इस पर भंडार में मौजूद पाउंड, स्टर्लिग, येन जैसी अंतर्राष्ट्रीय मुद्राओं के मूल्यों में होने वाले उतार-चढ़ाव का सीधा असर पड़ता है।

आलोच्य अवधि में देश का स्वर्ण भंडार बिना किसी बदलाव के 19.98 अरब डॉलर पर बरकरार रहा, जो 1,369.3 अरब रुपए के बराबर है। इस दौरान देश के विशेष निकासी अधिकार (एसडीआर) का मूल्य 49 लाख डॉलर बढ़कर 1.43 अरब डॉलर दर्ज किया गया।

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में देश के मौजूदा भंडार का मूल्य 82 लाख डॉलर बढ़कर 2.29 अरब डॉलर दर्ज किया गया, जो 156 अरब रुपए के बराबर है।

English summary

India's foreign exchange reserves Up After Demonetization

India's foreign exchange reserves went up $6.2 billion to reach a new high of $336.58.
Please Wait while comments are loading...
Company Search
Enter the first few characters of the company's name or the NSE symbol or BSE code and click 'Go'
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?

Find IFSC