LPG सिलेंडर से होने वाली दुर्घटना पर मिलते हैं 40-50 लाख रुपए

Written by: Ashutosh
Subscribe to GoodReturns Hindi

सभी रजिस्टर्ड गैस उपभोक्ताओं का उनके रजिस्टर्ड पते पर एलपीजी सिलेंडर से होने वाले दुर्घटना के बदले में बीमा किया जाता है। गैस सिलेंडर से होने वाली दुर्घटनाओं के लिए 40-50 लाख तक की बीमा राशि कवर की जाती है।

हर साल मिलती है दुर्घटना की रिपोर्ट

हमारे देश में प्रतिवर्ष एलपीजी सिलेंडरों से दुर्घटनाओं की रिपोर्ट मिलती है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियां और वितरक, बीमा के प्रीमियम के लिए करोड़ों रुपए अदा करते हैं। परन्तु लोगों को इस बात की जानकारी नहीं है।

जरूरी जानकारी

सभी रजिस्टर्ड गैस उपभोक्ताओं का उनके रजिस्टर्ड पते पर एलपीजी सिलेंडर से होने वाली दुर्घटनाओं के एवज में बीमा किया जाता है। गैस सिलेंडर से होने वाली दुर्घटनाओं के लिए 40-50 लाख तक की बीमा राशि कवर की जाती है।

घर के सभी सदस्यों का कवर होता है

यह एलपीजी इंश्योरेंश घर के सभी सदस्यों के लिए कवर होता है। मृत्यु होने के स्थिति में मुआवजे के लिए परिजन को कोर्ट (अदालत) में अपील करनी पड़ती है। कोर्ट पीड़ित व्यक्ति की उम्र, आय और अन्य बातों को ध्यान में रखते हुए मुआवज़े की राशि निर्धारित करती है।

कैसे करें बीमा क्लेम

दुर्घटना होने पर एलपीजी बीमा का दावा कैसे करें? दुर्घटना होने पर एलपीजी उपभोक्ता इस प्रक्रिया को अपनाएँ।

1. किस से संपर्क करें?

दुर्घटना की जानकारी फ़ौरन निकटतम पुलिस स्टेशन को दें। यदि दुर्घटना घटती है तो एलपीजी के उपभोक्ता को इसकी जानकारी लिखित में वितरक को देनी होती है। फिर वितरक दुर्घटना की जानकारी संबंधित ऑइल कंपनी और इंश्योरेंश कंपनी को देता है। उपभोक्ता को इंश्योरेंश कंपनी से सीधे संपर्क करने की या इंश्योरेंश कंपनी में आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होती।

2. आवश्यक दस्तावेज़

बीमा का दावा करने के लिए उपभोक्ता को कुछ दस्तावेज़ प्रस्तुत करने होते हैं। उपभोक्ता को ऑइल कंपनी को ये दस्तावेज़ देने होते हैं-

  • मृत्यु प्रमाण पत्र की मूल प्रति
  • पोस्ट मार्टम रिपोर्ट/ कोरोनर्स रिपोर्ट/ पूछताछ रिपोर्ट
  • मृत्यु के मामले में जो भी लागू हो।

 

 

3-चोट या घायल होने के संबंध में क्या करें

चोट के मामले में उपभोक्ता को असली मेडिकल बिल, डॉक्टर का परचा तथा पर्चे के आधार पर खरीदी गयी दवाईयों का बिल, डिस्चार्ज कार्ड, अस्पताल में दाखिल करने से संबंधित दस्तावेज़ आदि सभी की मूल प्रति जमा करनी होती है।

4. संपत्ति को नुकसान

एलपीजी सिलेंडर के कारण होने वाली दुर्घटनाओं में संपत्ति जिसमें घर या बिल्डिंग शामिल हैं, को नुकसान पहुंच सकता है। ऐसे मामलों में आप इन नुकसानों के लिए अपना दावा प्रस्तुत कर सकते हैं।

सर्वेक्षण करती है कंपनी

यदि उपभोक्ता के रजिस्टर्ड पते पर संपत्ति का नुकसान होता है तो इंश्योरेंश कंपनी दुर्घटना से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए अपना सर्वेक्षणकर्ता नियुक्त करती है। आपकी गैस कंपनी का स्थानीय वितरक इंश्योरेंश का दावा प्रस्तुत करने के लिए आपकी सहायता करेगा।

 

 

5. हमेशा आईएसआई (ISI)मार्क वाली वस्तुओं का उपयोग करें

यह बात बहुत महत्वपूर्ण है कि आप जिन वस्तुओं का उपयोग कर रही हैं उनका अच्छी तरह ध्यान रखा जाए। आपके द्वारा किया हुआ दावा अस्वीकृत या खारिज न हो इसके लिए हमेशा आईएसआई प्रमाणित वस्तुओं का उपयोग करें। इन वस्तुओं में विभिन्न वस्तुएं जैसे लाइटर और गैस पाइप शामिल हैं। यह बात भी महत्वपूर्ण है कि आप अपने गैस डीलर से नियमित अंतराल पर गैस का रख रखाव करवा लें।

English summary

How To Claim LPG Insurance? Know The Procedure

All registered gas consumers are insured against the risk of accidents from LPG cylinders at their registered addresses. Accidents involve gas cylinders cover up to Rs 40-50 lakh.
Please Wait while comments are loading...
Company Search
Enter the first few characters of the company's name or the NSE symbol or BSE code and click 'Go'
Thousands of Goodreturn readers receive our evening newsletter.
Have you subscribed?

Find IFSC